हल्द्वानी-बंद कमरे में खुले अवतार सिंह की हत्या के राज, जानिये आखिर क्यों हत्या की रात से गायब है ये करीबी

1771

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-सलड़ी में कार में जलाई लाश से अब लगभग साफ हो चुका है कि यह लाश अवतार सिंह की थी। सोमवार की देर शाम अवतार सिंह के पिता और भाई ने पुलिस को तहरीर सौंपते हुए कहा कि अवतार की हत्या में उसकी पत्नी नीलम और उसके प्रेमी मनीष मिश्रा का हाथ है। जिसके बाद भीमताल पुलिस ने पत्नी नीलम और उसके साथी मनीष मिश्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। अब यह तय हो चुका है कि अवतार सिंह की हत्या का पर्दा पुलिस जल्द उठा सकती है। 16 मई की रात सलड़ी के पास जली कार में ड्राइवर सीट के बगल की सीट पर कंकाल मिला था। कार रुद्रपुर निवासी अवतार सिंह की थी और वह अब भी लापता हैं। कार में कंकाल मिलने पर परिजन जब यहां पहुंचे तो उनका शक गहराया। नीलम व मनीष के संबंधों का उन्हें पहले से थोड़ा पता था। लिहाजा उन्होंने अपने स्तर से पड़ताल करनी भी शुरू की।


हल्द्वानी-(बड़ी खबर) अवतार सिंह हत्याकांड में निर्दयी पत्नी नीलम गिरफ्तार, मोबाइल लोकेशन ने खोले हत्याकांड के राज

नीलम और उसके प्रेमी के खिलाफ तहरीर

बीते 16 मई को नीलम अपने पति अवतार सिंह को रुद्रपुर से इलाज के बहाने हल्द्वानी लेकर आई थी। 16 मई को ही अवतार गायब हो गया। अवतार की कार संख्या यूके06-एएफ.8111 भीमताल थाना क्षेत्र के सलड़ी में रात करीब आठ बजे जलती हुई मिली। इसमें एक लाश रखकर फूंकी गई थी। पुलिस ने शनिवार को कार में बचे कंकाल का पोस्टमार्टम कराया था। पोस्टमार्टम में शव पुरुष का होने का खुलासा हुआ था। पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने शव नहीं लिया है। इधरए सोमवार को अवतार सिंह के पिता गुलजार सिंह और उसके बड़े भाई जगतार सिंह ने पुलिस को तहरीर सौंपी। दोनों ने तहरीर में कहा है कि उनकी बहू नीलम ने अपने साथी मनीष मिश्रा के साथ मिलकर साजिश के तहत अवतार की हत्या कर दी है। उसका शव जला दिया है। परिजनों की माने तो मनीष मिश्रा नीलम का दोस्त है। आरोप है कि यह दोस्ती अवतार को पसंद नहीं थी। परिजनों ने सिर्फ शक के आधार पर दोनों के खिलाफ भीमताल थाने में तहरीर सौंपी है और इसी आधार पर पुलिस ने अवतार की हत्या का केस लिखा है।

हल्द्वानी-अवतार सिंह हत्याकांड में नीलम का प्रेमी भी गिरफ्तार, तो ये थी हत्याकांड की असल वजह

उसी रात से गायब है मनीष मिश्रा

बताया जा रहा है कि सलड़ी में कार जलाये जाने के बाद उसी रात से मनीष मिश्रा रुद्रपुर से गायब है। सोमवार को परिजन शव को अवतार का माने या न माने कि स्थिति में असमंजस में थे लेकिन शाम को पुलिस ने कंकाल को अवतार का मानकर इसे परिजनों को सौंपने की अनुमति दे दी। फिलहाल अभी कंकाल को पोस्टमार्टम हाउस में रखा गया है। पुलिस की जांच में रुद्रपुर में रहने वाले युवक मनीष की भूमिका शुरू से संदिग्ध मिली है। वह वारदात की रात से लापता चल रहा है। पुलिस टीम रुद्रपुर में डेरा डालकर उसके ठिकानों पर दबिश दे रही है। बताया जा रहा है कि नीलम व मनीष की दोस्ती अवतार को पसंद नहीं थी। इसी बात को लेकर दोनों के बीच कई बार विवाद भी हुआ। वही अवतार के गायब होने व बाद में कार के अंदर नर कंकाल मिलने पर उनका शक गहराया। प्रेम-प्रसंग की लाइन पर शुरू से काम पुलिस इस हत्याकांड को शुरू से प्रेम प्रसंग से जोड़ रही थी। अब फरार मनीष के पकड़े जाने पर खुलासा होगा कि मर्डर में कितने लोग शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here