iimt haldwani

हल्द्वानी-अवतार सिंह हत्याकांड में नीलम का प्रेमी भी गिरफ्तार, तो ये थी हत्याकांड की असल वजह

1873

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-अवतार सिंह हत्याकांड में पुलिस को दूसरी सफलता दोपहर बाद हाथ लगी। इससे पहले पुलिस ने सुबह करीब 6 बजे अवतार की पत्नी नीलम को उसके घर से गिरफ्तार किया था। इससे पहले सोमवार देर रात भीमताल थाना पुलिस ने लापता अवतार के पिता की तहरीर पर नीलम और अवतार के दोस्त मनीष मिश्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। अवतार सिंह मेन पावर सप्लाई का काम करता था और मनीष सिक्‍योरिटी सुरवाइजर था इसी कारण से दोनों के बीच दोस्ती हुई और मनीष का अवतार के घर आना जाना शुरू हो गया था। जहां से नीलम से उसकी नजदीकियां बढ़ी। खबर लिखे जाने तक पुलिस मनीष औ उसके तीन और दोस्तों से भी पूछताछ कर रही है।

amarpali haldwani

हल्द्वानी-(बड़ी खबर) अवतार सिंह हत्याकांड में निर्दयी पत्नी नीलम गिरफ्तार, मोबाइल लोकेशन ने खोले हत्याकांड के राज

अवैध संबंध बने हत्याकांड के कारण

हत्याकांड के दिन से शक की सुई नीलम के इर्द-गिर्द घूम रही थी, वहीं रुद्रपुर से नीलम का कार चलाकर हल्द्वानी लाना और डाक्टरों को दिखाते समय अवतार सिंह का कार से बाहर नहीं निकलना। कही न कही कहानी में झोल था। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि अवतार सिंह की हत्या कहा की गई है। रुद्रपुर मेंं या हल्द्वानी, यह अवतार की पत्नी नीलम से पूछताछ के बाद ही पता चल सकेंगा। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले ही अवतार ने 50 लाख का बीमा रिन्यू कराया था जिसकी नॉमिनी नीलम थी इसके अलावा कार भी नीलम के दर्ज थी। सूत्रों की माने तो हत्याकांड के समय अवतार की पत्नी नीलम और उसके प्रेमी मनीष की लोकेशन घटनास्थल के आसपास थी। बताया जा रहा है कि अवतार की हत्या रुद्रपुर में की गई है इसके बाद लाश को ठिकाने लगाने के लिए हल्द्वानी में घुमाया गया। और सलड़ी में जाकर कार समेत लाश को जला दिया गया।

हल्द्वानी-बंद कमरे में खुले अवतार सिंह की हत्या के राज, जानिये आखिर क्यों हत्या की रात से गायब है ये करीबी

देर रात दर्ज हुआ था मुकदमा

गौरतलब है कि 16 मई की रात भीमताल मार्ग पर सलड़ी के पास जली कार में ड्राइवर सीट के बगल की सीट पर कंकाल मिला था। कार रुद्रपुर निवासी अवतार सिंह की थी और वह अब भी लापता हैं। वहीं अंबाला से आए परिजनों ने कंकाल अवतार का ही होने का दावा कर हत्या की आशंका जताई है। सोमवार को अवतार के पिता गुलजार सिंह, मां नक्षत्रो देवी,
बड़े भाई जगतार सिंह समेत परिजन कोतवाली पहुंचे। पुलिस ने कंकाल को अवतार का मानकर इसे परिजनों को सौंपने की अनुमति दे दी है। रात में भीमताल थाने में अवतार के पिता गुलजार सिंह ने बहू नीलम और मनीष मिश्रा के खिलाफ मुकदमा लिखाया।