iimt haldwani

हल्द्वानी- पढिय़ें अजय भट्ट के एवीबीपी कार्यकर्ता से लेकर सांसद बनने तक की पूरी कहानी ,जानिये उनका पूरा जीवन परिचय

320

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क-लोकसभा चुनाव 2019 में नैनीताल सीट से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने 335670 से मैदान मार लिया। उन्होंने अपने विपक्षी पूर्व सीएम को हराकार यह रण जीता। इस जीत से अजय भट्ट के कद में वृद्धि हुई है। एक बार फिर हाईकमान की नजरों में अजय भट्ट ने पूर्व सीएम हरीश रावत को हराकर एक बड़ा नाम कमाया। दिन प्रतिदिन उनकी बढ़ती लोकप्रियता से भाजपा ने उन्हें टिकट दिया था। उस पर अजय भट्ट खरे उतरे और हरीश रावत को भारी मतों से हराकर भाजपा का झंडा नैनीताल ही नहीं पूरे प्रदेश में बुलंद कर दिया। क्योंकि अपने सीट के अलावा अजय भट्ट पर और प्रत्याशियों की सीट का जिम्मा भी था इसके बावजूद उन्होंने हरीश रावत को एक बड़े अंतर से हरा दिया।
यह भी पढ़े… पढ़ियें तीरथ सिंह रावत का RSS कार्यकर्ता से लेकर सांसद बनने तक की पूरी कहानी, जाने उनका पूरा जीवन परिचय
यह भी पढ़े… पढ़ियें तीरथ सिंह रावत का RSS कार्यकर्ता से लेकर सांसद बनने तक की पूरी कहानी, जाने उनका पूरा जीवन परिचय

amarpali haldwani

एक नजर अजय भट्ट के राजनीति करियर पर-

जीवन परिचय
नाम – अजय भट्ट
पिता का नाम- स्व. श्री कमलापति भट्ट
माता का नाम- स्व. श्रीमती तुलसी देवी भट्ट
जन्म तिथि- 01, मई 1961
जन्म स्थान- नागरिक चिकित्सालय, रानीखेत
पता- 784, गॉधी चौक रानीखेत जिला अल्मोड़ा
दूरभाश 05966-220350, 9412092296, 9456590891
षिक्षा- एल. एल. बी
वैवाहिक स्थिति- विवाहित
पत्नी का नाम- श्रीमती पुश्पा भट्ट व्यवसाय वकालत
परिवार – तीन पुत्रियॉ व एक पुत्र क्रमष: मेघा भट्ट बी.टेक. व एम.बी.ए. (विवाहित), कु. स्नेहा भट्ट बी.टेक. व एम.बी.ए., कु. सुनीति भट्ट वकालत पूर्ण व पुत्र दिग्विजय भट्ट एल.एल.बी. में अध्ययनरत।
विदेष यात्रायें- कनाडा, आस्ट्रेलिया, इंग्लैण्ड, थाईलैंड व संयुक्त राज्य अमेरिका
पार्टी से जुड़ाव- विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थी परिषद् से जुड़ाव तथा 1980 से सक्रिय सदस्य भारतीय जनता पार्टी व पूर्व में पूरा परिवार जनसंघ में समर्पित।
यह भी पढ़े… हल्द्वानी- पढिय़ें अजय टम्टा के राम जन्मभूमि निर्माण से लेकर सांसद बनने तक की पूरी कहानी ,जानिये उनका पूरा जीवन परिचय

जेल यात्राएं:-
1. मा. डॉ. मुरली मनोहर जोषी जी के नेतृत्व में उतरॉचल राज्य प्रगति हेतु अल्मोड़ा में गिरफ्तारी।
2. अयोध्या मन्दिर निर्माण हेतु दो बार गिरफ्तार दिनांक 18.10.1990 व 26.10.1990।
3. 08.12.1990 को मुलायम सिंह के अयोध्या काण्ड के बाद प्रथम बार सार्वजनिक तौर पर रानीखेत आगमन पर प्रबल विरोध में गिरफ्तार एवं मुकदमा कायम।
उत्तरदायित्व जिनका निर्वहन किया गया:-
1. उत्तराखण्ड सरकार के मंत्री का दायित्व 2001 से 2002 तक।
क. विधायी एवं संसदीय कार्य
ख. चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण
ग. आपदा प्रबन्धन एवं पुनर्वास
घ. आबकारी
1़. महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास
2. 1996 से 2000 तक विधायक रानीखेत
3. 2002 से 2007 तक पुन: विधायक रानीखेत
4. प्रदेश महामंत्री भा.ज.पा. 02 बार
5. मंत्री विधान मण्डल दल 2002 से 2007 तक
6. संयोजक विधानमण्डल उत्तरॉचल
7. अध्यक्ष मजदूर संघ को-आपरेटिव ड्रग फैक्ट्री, रानीखेत (08 वर्षों से लगातार) सम्बद्ध भारतीय मजदूर संघ
8. 28.10.2009 से 25.12.2011 तक उत्तराखण्ड सरकार में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य सलाहकर एवं अनुश्रवण परिषद् के अध्यक्ष पद पर नामित किया गया।
ऽ श्री भट्ट को संगठन अथवा सरकार में समय-समय पर जो भी दायित्व दिया गया उनके द्वारा उसका निर्वहन बहुत ही ईमानदारी एवं निष्ठापूर्वक किया गया। चिकित्सा एवं आबकारी जैसे विभा- संभालने के बाद भी उनकी ईमानदारी व व्यंितत्व पर किसी प्रकार के प्र्यनचिह्न खड़े नहीं हुए।
ऽ 19.05.2012 से 15.03.2017 तक नेता प्रतिपक्ष उत्तराखण्ड विधानसभा
ऽ नेता प्रतिपक्ष के पद पर रहते हुए जन समस्याओं से जुड़ी हुई विभिन्न समस्याओं को सदन में पुरजोर तरीके से उठाया। वर्श 2014 में भाजपा सरकार को चुनाव में विजयी बनाने हेतु ‘‘जन चेतना यात्रा’’ और ‘‘परिवर्तन यात्रा’’ के माध्यम से आम जनमानस को भाजपा सरकार को विजयी बनाने हेतु प्रेरित किया। नेता प्रतिपक्ष के कार्यकाल में ही नैनीसार काण्ड, एफ. एल. 2 घोटाला, छात्रवृत्ति घोटाला, खाद्यान्न घोटाला, एन.एच.74 घोटाला, एन.आर.एच.एम. घोटालों को प्रमुख रूप से उठाया।
ऽ 31 दिसम्बर 2015 से प्रदेष अध्यक्ष भा.ज.पा. उत्तराखण्ड। बतौर प्रदेष अध्यक्ष वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को 57 सीटों पर मिली ऐतिहासिक जीत।
र्शीा नेतृत्व द्वारा प्रदेश अध्यक्ष के कार्यकाल को एक वर्श हेतु बढाया गया।