inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड गढ़वाल देहरादून- प्रदेश में सेब, नाशपाती की खेती के बदलेंगे दिन, जंगली जानवरों...

देहरादून- प्रदेश में सेब, नाशपाती की खेती के बदलेंगे दिन, जंगली जानवरों से नुकसान का होगा सर्वे

देहरादून- वन विभाग में ई-ऑक्शन पोर्टल की शुरुआत, सीएम बोले ऐसे होगीं राजस्व में वृद्धि

देहरादून- आज मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड वन विकास निगम सॉफ्टवेयर के ई-ऑक्शन पोर्टल की शुरुआत की। मुख्यमंत्री ने कहा कि ई-गवर्नेंस की...

देहरादून-नकली नोटों की गड्डी लेकर बैंक में जमा कराने पहुंचा कॉन्ट्रेक्टर, ऐसे पकड़ा मामला

देहरादून-नकली नोटों का प्रचलन चला आ रहा है। ऐसे में कई बार नकली नोट बाजार में आ जाते है लोगों को उसका पता भी...

देहरादून-दून पहुंची पहली इलेक्ट्रिक बस, इस दिन से दौड़ेगी सडक़ों पर

देहरादून- इलेक्ट्रिक बसों को लेकर दून का इंतजार खत्म हो गया है। आज पहली इलेक्ट्रिक बस दून पहुंच चुकी है और एक सप्ताह बाद...

देहरादून- 2030 तक सतत विकास का लक्ष्य, सीएम ने किया डैश बोर्ड का विमोचन

देहरादून- आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में यूएनडीपी तथा एवं सेंटर फॉर पब्लिक पॉलिसी एण्ड गुड गवर्नेंस, नियोजन विभाग के सहयोग से...

हरिद्वार- कुंभ को लेकर गढ़वाल आयुक्त के सख्त निर्देश, लापरवाही पर अधिकारी होगा जिम्मेदार

हरिद्वार- आयुक्त गढ़वाल मंडल रविनाथ रमन ने मेला नियंत्रण भवन हरिद्वार में कुम्भ 2021 में होने वाले स्थायी, अस्थायी कार्यों की समीक्षा बैठक ली।...

देहरादून-आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य में सेब, नाशपाती सहित अन्य फलों के बागों के पुनर्जीविकरण व विस्तारीकरण के लिए भरसार विवि और जीबी पंत विवि के कुलपतियों की एक समिति बनाने के निर्देश दिए हैं। किसानों के स्किल डेवलपमेंट की योजना बनाई जाए। उन्होंने कहा कि फार्म मशीनरी बैंक और माइक्रो इरीगेशन का लाभ अधिकतम गांवों तक पहुंचाना सुनिश्चित किया जाए। सूअर, बंदर आदि जंगली जानवरों से खेती को होने वाले नुकसान का सर्वे करते हुए अधिक प्रभावित क्षेत्रों में किसानों को राहत पहुंचाने के लिए तारबाड़ दीवार बनाने का काम प्राथमिकता से किया जाए। सीएम आवास में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के साथ कृषि, उद्यान, रेशम विकास विभागों की समीक्षा की।

नैनीताल-राज्यपाल को भाये पहाड़ी उत्पाद, पलायन रोकने में ऐसे निभा सकते है अहम भूमिका

सीएम ने कहा कि वर्तमान में सेब व अन्य फलों की खेती को आधुनिकतम तकनीक के उपयोग द्वारा लाभप्रद बनाया जाए। आवश्यकता होने पर दूसरी किस्मों से बदला भी जा सकता है। इसके लिए औद्यानिकी विभाग ठोस काम करे। किसानों के स्किल डेवलपमेंट के लिए योजना बनाई जाए। मुख्यमंत्री ने राज्य में सेब, नाशपाती सहित अन्य फलों के बागों के पुनर्जीविकरण व विस्तारीकरण के लिए भरसार विवि और जीबी पंत विवि के कुलपतियों की एक समिति बनाने के निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि फार्म मशीनरी बैंक किसानों के लिए काफी लाभप्रद हो रहे हैं। प्रयास किए जाएं कि अधिक से अधिक गांव इसके अंतर्गत आ सकें। माइका्रे इरीगेशन पर भी विशेष ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। विभाग इसके लिए कार्ययोजना बनाए।

हल्द्वानी-राम भरोसे हल्द्वानी, असली पुलिस नींद में नकली पुलिस ने ठगे तीन लाख के जेवर
मुख्यमंत्री ने कहा कि खेती में एक बड़ी समस्या जंगली जानवरों के कारण आ रही है। सूअर, बंदर आदि जानवरों से खेती को होने वाले नुकसान का व्यापक सर्वे किया जाए। जिन क्षेत्रों में सुस्या ज्यादा गंभीर है, वहां प्राथमिकता के आधार पर तारबाड़ दीवार आदि बनाने का काम किया जाए। जैविक खेती का और विस्तार किए जाने की जरूरत है। जैविक उत्पादों के विपणन के लिए ग्रोथ सेंटरों का उपयोग किया जाए। नमामि गंगे के तहत गंगा किनारे जैविक कृषि के लिए चयनित गांवों में मानिटरिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। किसान सम्मान निधि में किसी तरह की शिकायत न आए। इसके लिए डाटा फीडिंग सावधानीपूर्वक की जाए।

देहरादून-श्रमायुक्त हल्द्वानी में तैनात इस पीसीएस अधिकारी को बोर्ड सचिव पद की जिम्मेदारी, पढिय़े पूरा आदेश
कृषि मंत्री सुबोध उनियांल ने कहा कि प्रदेश के आर्गेनिक उत्पादों की मार्केटिंग के लिए आर्गेनिक उत्तराखंड आउटलेट स्थापित किए जाएंगे। अगले 2 वर्ष में 1300 आउटलेट बनाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। राज्य में किसानों को लाभकारी खेती के लिए प्रेरिंत किया जा रहा है। हरिद्वार में बहुत से किसानों ने गन्ने की खेती के स्थान लेमनग्रास की खेती शुरू की है।

किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत पात्र 8.74 लाख कृषकों में से 8.57 लाख कृषको को 852.04 करोड़ का भुगतान किया गया है। वर्ष 2017-18 से अब तक 230 कस्टम हायरिंग सेन्टर, 1444 फार्म मशीनरी बैंक स्थापित हुए हैं। खाद्यान उत्पादन वृद्धि के लिए प्रदेश को निरन्तर दो वर्ष भारत सरकार से प्रशंसा एवं कृषि कर्मण अवार्ड प्राप्त हुआ है। बैठक में सचिव हरबंस सिंह चुघ, विशेष सचिव मुख्यमंत्री डा. पराग मधुकर धकाते, जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय के कुलपति डा. तेज प्रताप, वीर चंद्र सिंह गढ़वाली उत्तराखंड औद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, भरसार के कुलपति डा. अजीत कुमार कर्नाटक सहित विभागीय अधिकारी और वीडियो कान्फ्रेंसिंग द्वारा जिलाधिकारी मौजूद थे।

 

 

 

 

 

Related News

देहरादून- वन विभाग में ई-ऑक्शन पोर्टल की शुरुआत, सीएम बोले ऐसे होगीं राजस्व में वृद्धि

देहरादून- आज मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड वन विकास निगम सॉफ्टवेयर के ई-ऑक्शन पोर्टल की शुरुआत की। मुख्यमंत्री ने कहा कि ई-गवर्नेंस की...

देहरादून-नकली नोटों की गड्डी लेकर बैंक में जमा कराने पहुंचा कॉन्ट्रेक्टर, ऐसे पकड़ा मामला

देहरादून-नकली नोटों का प्रचलन चला आ रहा है। ऐसे में कई बार नकली नोट बाजार में आ जाते है लोगों को उसका पता भी...

देहरादून-दून पहुंची पहली इलेक्ट्रिक बस, इस दिन से दौड़ेगी सडक़ों पर

देहरादून- इलेक्ट्रिक बसों को लेकर दून का इंतजार खत्म हो गया है। आज पहली इलेक्ट्रिक बस दून पहुंच चुकी है और एक सप्ताह बाद...

देहरादून- 2030 तक सतत विकास का लक्ष्य, सीएम ने किया डैश बोर्ड का विमोचन

देहरादून- आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में यूएनडीपी तथा एवं सेंटर फॉर पब्लिक पॉलिसी एण्ड गुड गवर्नेंस, नियोजन विभाग के सहयोग से...

हरिद्वार- कुंभ को लेकर गढ़वाल आयुक्त के सख्त निर्देश, लापरवाही पर अधिकारी होगा जिम्मेदार

हरिद्वार- आयुक्त गढ़वाल मंडल रविनाथ रमन ने मेला नियंत्रण भवन हरिद्वार में कुम्भ 2021 में होने वाले स्थायी, अस्थायी कार्यों की समीक्षा बैठक ली।...

देहरादून-सुकन्या योजना में उत्तराखंड को मिला दूसरा स्थान, अब प्रदेश में फाइव स्टार विलेज योजना शुरू

देहरादून-आज केंद्रीय संचार राज्यमंत्री संजय धात्रे ने फाइव स्टार विलेज योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने उत्तराखंड डाक परिमंडल के कामकाज को सराहा। उन्होंने सुकन्या...