Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश COVID-19: अब प्लाज्मा थेरेपी से नहीं होगा इलाज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने लगाई...

COVID-19: अब प्लाज्मा थेरेपी से नहीं होगा इलाज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने लगाई रोक

COVID-19: देश में कोरोना के नए मामलों में आई कमी, 24 घंटे में सामने आए इतने नए केस

देश में पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के...

यूपी: भू-माफियों से खाली कराई जाएंगी जमीनें, योगी सरकार ने बनाई यह कार्ययोजना

योगी सरकार (Yogi government) एक बार फिर से भू-माफियों के खिलाफ सख्त नजर आ रही है। सरकार ने भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की...

Bareilly: गर्मा गर्मी के बीच आए IMA पदों के नतीजे, देखें कौन बना नया अध्यक्ष

बरेली में आईएमए अध्यक्ष पद के चुनाव (IMA President election) के नतीजे सामने आ गए हैं। पति के लिए त्रिकोणीय मुकाबले में डॉ. विमल...

Covid Vaccine: खुशखबरी! जल्द मिलेगी ऑक्सफर्ड की कोविड वैक्सीन, फेज-3 ट्रायल शुरू

दुनिया भर के लोग कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Pandemic) से परेशान हो चुके हैं। इस वायरस का इलाज एकमात्र वैक्सीन (Vaccine) है। तो...

Panchayat Election 2020: चुनाव आयोग ने जारी की एडवाइजरी, इन बातों का रखना होगा ध्यान

यूपी में पंचवर्षीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election) की तैयारी जोरों पर है। पंचायत चुनाव के लिए अक्टूबर के शुरुआत से ही वोटर लिस्ट का...

कोरोना वायरस (Corona Virus) में प्लाज्मा थेरेपी (Plasma Therapy) के उपयोग से स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) और आईसीएमआर (ICMR) ने राज्य सरकारों (State Governments) को सावधान किया है। मंत्रालय ने कहा कि प्लाज्मा थेरेपी अभी सिर्फ प्रयोग के चरण में है। और इसका प्रयोग कोविड-19 के इलाज में किया जा सकता है इसका कोई सबूत नहीं है। जब तक यह थेरेपी वैज्ञानिक रूप से इलाज में कारगर साबित नहीं होती। तब तक यह सिर्फ रिसर्च (Research) और क्लीनिकल ट्रायल (Clinical Trial) में ही इस्तेमाल होगी और इसके अलावा किसी तरह से इसका इस्तेमाल गैरकानूनी होगा।
Plasma Therapyस्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पूरी दुनिया में कोरोना का कोई भी इलाज उपलब्ध नहीं है। पूरी दुनिया के वैज्ञानिक (Scientist) कोरोना के इलाज के अलग-अलग ट्रायल कर रहे हैं। प्लाज्मा थेरेपी भी उन्हीं में से एक है। इस बात का भी कोई प्रमाण नहीं मिला है कि इस थेरेपी से कोरोना पूरी तरह ठीक हो जाएगा। हालांकि अमेरिका की फेडरल ड्रग एजेंसी (Federal Drug Agency) भी इसे प्रायोगिक थेरेपी (Experimental Therapy) के रूप में देख रही है। आईसीएमआर के अनुसार बिना सोचे समझे प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना का इलाज मरीज के लिए घातक साबित भी हो सकता है।

यहाँ भी पढ़े

Bareilly BREAKING: परिवार को नहीं दिया जाएगा शव, प्रशासन ही करायेगा अंतिम संस्कार, जानें वजह

Uttarakhand Government

Bareilly BREAKING: बरेली में कोरोना वायरस से हुई पहली मौत

 

Related News

COVID-19: देश में कोरोना के नए मामलों में आई कमी, 24 घंटे में सामने आए इतने नए केस

देश में पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के...

यूपी: भू-माफियों से खाली कराई जाएंगी जमीनें, योगी सरकार ने बनाई यह कार्ययोजना

योगी सरकार (Yogi government) एक बार फिर से भू-माफियों के खिलाफ सख्त नजर आ रही है। सरकार ने भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की...

Bareilly: गर्मा गर्मी के बीच आए IMA पदों के नतीजे, देखें कौन बना नया अध्यक्ष

बरेली में आईएमए अध्यक्ष पद के चुनाव (IMA President election) के नतीजे सामने आ गए हैं। पति के लिए त्रिकोणीय मुकाबले में डॉ. विमल...

Covid Vaccine: खुशखबरी! जल्द मिलेगी ऑक्सफर्ड की कोविड वैक्सीन, फेज-3 ट्रायल शुरू

दुनिया भर के लोग कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Pandemic) से परेशान हो चुके हैं। इस वायरस का इलाज एकमात्र वैक्सीन (Vaccine) है। तो...

Panchayat Election 2020: चुनाव आयोग ने जारी की एडवाइजरी, इन बातों का रखना होगा ध्यान

यूपी में पंचवर्षीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election) की तैयारी जोरों पर है। पंचायत चुनाव के लिए अक्टूबर के शुरुआत से ही वोटर लिस्ट का...

Sushant Singh Rajput Case: रिया चक्रवर्ती के पूरे हुए हिरासत के 14 दिन, आज है आखिरी दिन

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) से जुड़े ड्रग्स मामले में एनसीबी (NCB) ने रिया चक्रवर्ती को दोषी पाते हुए गिरफ्तार कर दिया था।...