उत्तराखंड कांग्रेस में मचा घमासान, एक विधायक और पूर्व विधायक ने छोड़ी पार्टी, तीन दिनों में सात बडे़ नेता कह चुके अलविदा

 | 
Loksabha Elections 2024 - उत्तराखंड कांग्रेस में इस्तीफों का दौर खत्म ही नहीं हो रहा है। रविवार को कांग्रेस को दो और बडे़ झटके लगे हैं। देवभूमि उत्तराखंड में आज बड़ी राजनीतिक उठापटक हुई है। बद्रीनाथ से कांग्रेस विधायक राजेंद्र भंडारी भाजपा में शामिल हो गए हैं। यह सीट पौड़ी गढ़वाल संसदीय क्षेत्र में आती है, यहाँ से भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी पार्टी के प्रत्याशी है। हरीश रावत सरकार में मंत्री भी रह चुके है भंडारी दो बार कांग्रेस और एक बार निर्दलीय बद्रीनाथ सीट से चुनाव जीते हैं।
वहीं आज टिहरी से विधानसभा का चुनाव लड़ चुके विरष्ठ नेता धन सिंह नेगी पार्टी छोड़ दी। वहीं, तीन दिन में सात बड़े नेताओं के इस्तीफे से पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है। 
बता दें कि शुक्रवार को ही गंगोत्री के पूर्व विधायक विजय पाल सजवाण और पुरोला के पूर्व विधायक मालचंद ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। फिर शनिवार को पार्टी का चर्चित चेहरा माने जाने वाली कांगेस नेता हरक सिंह रावत की पुत्रवधू अनुकृति गुसाईं ने इस्तीफा दे दिया। पौड़ी से कांग्रेस के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष केसर सिंह नेगी ने पार्टी से त्यागपत्र दे दिया। 
तो वहीं, विकासखंड कोट के पूर्व प्रमुख व कांग्रेस के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य नवल किशोर ने भी कांग्रेस का हाथ छोड़ दिया। इसके अलावा पौड़ी ब्लॉक प्रमुख दीपक कुकसाल ने भी कांग्रेस छोड़ दी।