नैनीताल - 225 करोड़ की लागत से अब सुरक्षित होगा नैनीताल का बलियानाला, जल्द शुरु हो सकता है काम 
 

 | 

नैनीताल - नैनीताल के बलिया नाला क्षेत्र में 80 के दशक से हो रहे भूस्खलन को रोकना बड़ी चुनौती है, लेकिन अब राज्य सरकार ने इसके रोकथाम लिए लगभग 225 करोड रुपए का बजट जारी करने की संस्तुति की है। दरअसल नैनीताल के अति संवेदनशील बलिया नाले में हो रहे भूस्खलन को लेकर दायर जनहित याचिका पर नैनीताल हाईकोर्ट ने सितम्बर 2018 में भूस्खलन के उपचार के लिए सरकार को हाई पावर कमेटी बनाने के निर्देश दिए थे। इसी कमेटी के सुझावों पर अब राज्य सरकार बलिया नाले क्षेत्र का ट्रीटमेंट करेगी। मुख्य सचिव एसएस संधू ने भी बीते दिनों नैनीताल के बलिया नाले का मौके पर पहुंचकर सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता संजय शुक्ल के साथ निरीक्षण किया था।

 

सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता संजय शुक्ल ने जानकारी देते हुए बताया कि बलिया नाले के ट्रीटमेंट के लिए विभाग की ओर से विभागीय सचिव ,आपदा हरीश चंद्र सेमवाल को 192 करोड़ सिंचाई और 14 करोड़ पर्यटन विभाग की ओर से कुल लगभग 206. 63 करोड़ के पुनर्निर्माण कार्य का प्रस्ताव सौंपा है। इसके लिए 26 जून को व्यय वित्त समिति (Expenditure Finance Committee, EFC) की बैठक होनी है जिसमें बलियानाले के निर्माण के लिए राज्य आपदा न्यूनीकरण मद के अन्तर्गत बजट के स्वीकृत होने की पूरी - पूरी संभावनाएं हैं। 

इसके साथ ही लगभग 17.33 करोड की लागत से जिला प्रशासन द्वारा क्षेत्र में विस्थापन और पुनर्वास के कार्यों को कराया जाना है। वहीं 14 करोड़ की धनराशि से पर्यटन विभाग नैनीताल के बलिया नाले को खूबसूरती से चमकाएगा जिससे कि नैनीताल आने वाले पर्यटकों के लिए यह एक खुबसूरत डेस्टिनेशन बन सके।