Loksabha Election - विपक्षी नेताओं पर सेंध मार रही है बीजेपी, टिहरी में उसी BJP का ढांचा हिला रहे हैं निर्दलीय बॉबी पंवार 

 | 

Loksabha Election 2024 - उत्तराखंड में बेरोजगार युवाओं की आवाज बन चुके बेरोजगार संघ के अध्यक्ष और टिहरी लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार बॉबी पवार (Bobby Panwar Tehari) ने टिहरी लोकसभा क्षेत्र में राजनीतिक सरगर्मियां तेज कर दी हैं। बताया जा रहा है कि बॉबी पवार के निर्दलीय प्रत्याशी उतरते ही कांग्रेस प्रत्याशी जोत सिंह गुनसोला लगभग रेस से बाहर हो चुके हैं और टिहरी लोकसभा क्षेत्र में सीधे टक्कर बॉबी पवार और निवर्तमान सांसद माला राजलक्ष्मी शाह के बीच बताई जा रही है।


एक ओर जहां राज्य में भाजपा कांग्रेस और अन्य पार्टी के नेताओं को अपने कुनबे में शामिल कर रही है वहीं बॉबी ने भाजपा की नीदें उड़ा दी हैं, क्योंकि भाजपा से लगातार लोग इस्तीफा देकर निर्दलीय प्रत्याशी बॉबी पवार को समर्थन दे रहे हैं। जिससे संगठन के बूथ स्तर तक की इकाइयां हिल चुकी हैं। वही बॉबी पवार लगातार बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं को जोड़ते जा रहे हैं। कुछ दिन पूर्व ही यमुनोत्री के पूर्व विधायक प्रत्याशी व मंडल महामंत्री मनोज कोहली श्याम ने इस्तीफा देकर निर्दलीय प्रत्याशी बॉबी पवार के समर्थन का ऐलान किया तो वही अब नौगांव के मंडल महामंत्री कुलदीप चौहान ने भी इस्तीफा देकर भाजपा छोड़ निर्दलीय प्रत्याशी बॉबी पवार के समर्थन का ऐलान किया वही बताया यह जा रहा है कई भाजपा व कांग्रेस के कार्यकर्ता लगातार बॉबी पवार के संपर्क में हैं। 


बॉबी ने आवाहन किया है कि जो भी प्रदेश का हित चाहते हैं वह सभी संगठन राजनीतिक दल इस बार उत्तराखंड की आवाज को संसद तक पहुंचाने के लिए पूरा जोर लगाए ,उनके आवाहन को देखते हुए उत्तराखंड की क्षेत्रीय पार्टियों के गठबंधन उत्तराखंड रीजनल पार्टी एलाइंस जिसमें उत्तराखंड के 6 क्षेत्रीय दल हैं  उत्तराखंड क्रांति दल सहित तमाम सामाजिक राजनीतिक संगठनों ने खुलकर बॉबी पवार को समर्थन देने का ऐलान किया है।


पूर्व सैनिक संगठन ने तो मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की रैली के दौरान भी बॉबी पवार जिंदाबाद के नारे लगाए, तो वही हाल ही में एक चुनावी जनसभा के दौरान मंत्री गणेश जोशी व सांसद माला राजलक्ष्मी शाह को पूर्व सैनिकों ने चारों ओर से घेर लिया उसके बाद बॉबी पवार जिंदाबाद के नारे लगने लगे। मंत्री गणेश जोशी की अपनी लोकप्रियता के बीच उनकी विधानसभा में लोगों का स्पष्ट कहना था कि वह गणेश जोशी को तो वोट दे सकते हैं पर माला राजलक्ष्मी शाह को नहीं।


ऐसे में लगातार बॉबी पवार के समर्थकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। तो वहीं राजनीतिक दृष्टि से भाजपा व कांग्रेस पिछड़ते हुए नजर आ रहे हैं। बॉबी को चुनाव आयोग ने चुनाव चिन्ह हीरा दिया है। बॉबी पवार के समर्थको ने आवाहन किया है कि प्रदेश भर से जिस भी लोकसभा में योग्य प्रत्याशी नहीं है वह टिहरी जाकर बॉबी पवार के समर्थन में घर-घर जाकर वोट व सपोर्ट की अपील करें।


इधर कुमाऊं से भी युवाओं ने टिहरी कुच करना शुरू कर दिया है तो वहीं विभिन्न लोकसभा क्षेत्र से बढ़कर बॉबी के समर्थन में स्वयं के खर्चे से पहुंच रहे हैं। परिणाम कुछ भी हो परंतु बीजेपी की प्रचंड बहुमत की इस लहर के बीच भाजपा के लोगों का इस्तीफा देकर निर्दलीय प्रत्याशी को समर्थन देना उनकी अपनी लोकप्रियता को स्पष्ट रूप में दर्शाता है।