Loksabha Election - अब हरीश रावत ने पोस्ट कर बताया अपना दुःख, जानिए क्यों बोले कल से कुछ कहना और समझना हो रहा है मुश्किल 
 

 | 

Loksabha Election 2024 - उत्तराखंड में लोकसभा चुनावों से पहले ही कांग्रेस के नेताओं के मुँह अलग - अलग हैं, हरीश रावत ने सोशल मीडिया में पोस्ट कर लिखा कुछ कहना और समझाना अब कठिन हो रहा है। हरीश रावत ने आगे लिखा,  "जब थोड़ी सांसारिक समझ आयी तो मेरे कानों में एक भजन गूंजता था "ईश्वर अल्लाह तेरो नाम...", जब थोड़े बड़े हुये और राजनीतिक समझ बढ़ी तो संसदीय लोकतंत्र और सामाजिक न्याय की गूंज हमारे कानों में गई तो दिल और दिमाग, दोनों उस गूंज से अब तक गूंजायमान हैं। कल से कुछ ऐसा शोरगुल मचा हुआ है कि कुछ भी समझना और समझाना कठिन हो रहा है।"


आपको बता दें की हरीश रावत अपने बेटे बीरेंद्र रावत के लिए हरिद्वार लोकसभा सीट से टिकट चाह रहे हैं, ऐसे में कांग्रेस और अन्य नेताओं की सक्रियता से कहीं हरीश रावत असहज तो नहीं हो रहे हैं? आपको बता दें की हरिद्वार के खानपुर सीट से निर्दलीय विधायक उमेश कुमार के भी जल्द कांग्रेस ज्वाइन करने की चर्चायें तेज हैं, सूत्रों के अनुसार कल उमेश कुमार ने दिल्ली में उत्तराखंड प्रभारी कुमारी शैलजा से मुलाकात की है, ऐसे में अगर विधायक उमेश कुमार कांग्रेस ज्वाइन करते हैं तो फिर बड़ा सवाल है क्या पार्टी उन्हें हरिद्वार लोकसभा सीट से अपना उम्मीदवार घोषित करेगी? अगर हाँ ऐसे में अन्य नेताओं की टिकट मांग की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। 
वहीं कल हल्द्वानी में दीपक बल्यूटिया के भी कांग्रेस छोड़ने की अटकलें तेज हो गई थी, बल्यूटिया भी हरीश रावत के करीबी माने जाते हैं। ऐसे में क्या पता हरीश रावत को कल से कुछ समझ न आ रहा हो।