IAS Sudhansh Pant : कौन हैं नैनीताल के सुधांश पंत, पहले भारत सरकार के स्वास्थ्य सचिव, अब बने राजस्थान के नए CS 
 

 | 

IAS Sudhansh Pant Chief Secretary Rajasthan - दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव के पद पर तैनात और नैनीताल निवासी सुधांश पंत अब राजस्थान के नए मुख्य सचिव (Rajasthan Chief Secretary) का पद संभालेंगे। केंद्रीय शासन की ओर से उन्हें उनके मूल कैडर राजस्थान भेज दिया गया है। राजस्थान में सरकार बदलने के बाद से न जहां सचिवालय में तबादले किये जा रहे हैं. वहीं राज्य के मुख्य सचिव का भी बदलाव किया गया है. राजस्थान सरकार के सुधांश पंत को मुख्य सचिव नियुक्त किया है. इसके लिए सरकार की ओर से आदेश भी जारी किया गया है. हालांकि, आदेश आने से पहले ही प्रदेश में चर्चाओं का दौर शुरू हो चुका था कि आईएएस सुधांश पंत (IAS Sudhansh Pant) ही मुख्य सचिव का पद संभालेंगे. अब इसकी आधिकारिक घोषणा भी हो चुकी है.

 

कौन हैं सुधांश पंत - 
बता दें कि, 1991 बैच के आईएएस सुधांश पंत की प्रारंभिक शिक्षा साल 1981 में नैनीताल के सेंट जोसेफ कॉलेज से अपनी स्कूल एजुकेशन पूरी करने के बाद  देहरादून से 12वीं पास की, IIT खड़गपुर से बीटेक (ऑनर्स) की डिग्री हासिल की. उसके बाद उन्होंने सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी करने के लिए IIT मुंबई में कॉर्पोरेट ट्रेनी की जॉब छोड़ दी. इस बीच उन्होंने यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन यानी UPSC की तैयारी के दौरान नैनीताल के एक स्कूल में शिक्षक के तौर पर काम किया.


वर्ष 1991 में वह आईएएस बने। विभिन्न प्रशासनिक पदों पर सेवाएं देने के बाद वर्तमान में भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय में सचिव के पद पर काम कर रहे सुधांश पंत को वित्त के क्षेत्र में राजस्थान सरकार के द्वारा कई अवॉर्ड मिल चुके हैं. पंत को राजस्थान सरकार से साल 2000, 2001, 2002, 2003, 2004 में अवार्ड मिल चुका है. 1993 में जयपुर में एसडीएम रहे हैं. उसके बाद जैसलमेर कलेक्टर रहे. वो झुंझुनूं, भीलवाड़ा, जयपुर में कलेक्टर रह चुके हैं. जेडीए के कमिश्नर भी रहे और राजस्थान के कॄषि विभाग के कमिश्नर रहे सुधांश स्वास्थ्य विभाग दिल्ली में संयुक्त सचिव रहे चुके हैं.
अब केंद्रीय स्तर से उन्हें उनके मूल कैडर राजस्थान के लिए भेज दिया है। सुधांश का यहां मल्लीताल पोस्ट ऑफिस के पास गुडलक हाउस में आवास भी है। सुधांश को जिम्मेदारी मिलने पर सेंट जोसेफ के प्रधानाचार्य हेक्टर पिंटो, मित्र ललित जोशी, प्रो. ललित तिवारी, आंचल पंत सहित कई लोगों ने खुशी जताई है।