हल्द्वानी - पाल कालेज द्वारा कुमाऊं विश्वविद्यालय अर्न्तमहाविद्यालयी खो-खो प्रतियोगिता का हुआ आयोजन 

 | 

हल्द्वानी - कुमाऊं विश्वविद्यालय अर्न्तमहाविद्यालय खो-खो प्रतियोगिता का शुभारम्भ पर मुख्य अतिथि प्रो० अतुल कुमार जोशी (संकायाध्यक्ष एवं विभागाध्यक्ष, वाणिज्य विभाग) डी०एस०बी० परिसर, नैनीताल एवं विश्वविद्यालय के क्रीड़ाधिकारी डा० नागेन्द्र प्रसाद शर्मा के कालेज परिसर में आगमन पर उनका गुलदस्ता भेंटकर प्रशासकीय परिषद के सदस्यों द्वारा स्वागत किया गया एवं उनको धन्यवाद दिया कि उन्होने हमारे कालेज को खो-खो प्रतियोगिता सम्पन्न कराने का अवसर दिया। इस अवसर पर कालेज के सलाहकार (शैक्षणिक) प्रो० के० के० पाण्डे खिलाडियो को सम्बोधित A करते हुए कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि कुमायू विश्वविद्यालय द्वारा इस प्रतियोगिता को सम्पन्न करने का दायित्व हमें सौपा गया है। इसके लिए हम विश्वविद्यालय के अति आभारी है। इससे हमारे कालेज का नाम पूरे उत्तराखण्ड में लिया जायेगा। मैं सभी खिलाड़ियों स्वागत करता हूँ तथा इस खेल को खेल भावना से खेलने के लिए आहृतान किया। हार जीत तो एक ही सिक्के के दो पहलू है। परन्तु खेल भावना बनी रहनी चाहिए। इस प्रतियोगिता में जितनी टीमों ने भाग लिया है उन सभी को इस कालेज की ओर से हार्दिक शुभकामनाएं वे अपने अपने लक्ष्य को प्राप्त करे।


प्रतियोगिता आरम्भ होने से पूर्व कुमाऊं विश्वविद्यालय के क्रीडाधिकारी डा. नागेन्द्र प्रसाद शर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि पाल कालेज हर साल कोई न कोई खेल का आयोजन किया जाता है और यहाँ का प्रबन्धन खिलाडियों को प्रोत्साहित करता है। इस प्रतियोगिता में 6 टीमों ने भाग लिया। जिसमें राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय खटीमा, राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, हल्दूचौड़, पाल कालेज, एम०बी०पी०जी०कालेज हल्द्वानी, पी०एन०जी० रामनगर एवं डी०एस०बी नैनीताल ने प्रतिभाग किया। प्रथम मैच राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय खटीमा व राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय हल्दूचौड के बीच खेला गया जिसमें राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय खटीमा ने बाजी मारी। दूसरा मैच एम०बी०पी०जी० कालेज हल्द्वानी एवं पाल कालेज के बीच खेला गया जिसमें एम०बी०पी०जी०कालेज हल्द्वानी ने बाजी मारी। तीसरा मैच राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय खटीमा और रामनगर के बीच खेला गया जिसमें पी०एन०जी० रामनगर ने बाजी मारी। चौथा मैच डी०एस०बी० नैनीताल व एम०बी०पी०जी० कालेज हल्द्वानी के बीच खेला गया जिसमें नैनीताल विजयी रहा। फाइनल मैच डी०एस०बी० कैम्पस नैनीताल व पी०एन०जी० रामनगर बीच खेला गया जिसमें डी०एस०बी० नैनीताल विजयी रही, 


उपविजेता पी०एन०जी० रामनगर रही। विजयी टीम को मुख्य अतिथि द्वारा ट्राफी व प्रमाण पत्र प्रदान किए गये एवं उप विजेता टीम को पुरष्कृार एवं प्रमाण पत्र वितरित किये गये। खो खो प्रतियोगिता के सफल आयोजन में निर्णायक की भूमिका में महेश सिह फर्त्याल, राजेन्द्र सिह नेगी, मनमोहन सिह बसेरा, कंचन जोशी, राजीव जोशी एवं गौरव जोशी का योगदान रहा। किसी भी मैंच के सफल आयोजन में निर्णायकों की भूमिका अहम होती है। समापन अवसर पर कालेज के निदेशक डा० शुभो चटटोपध्याय जी ने कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि हमारे कालेज को खो खो प्रतियोगिता कराने का अवसर प्रदान किया। आशा है भविष्य में इसी प्रकार की प्रतियोगितायें हमारे कालेज को करवाने का मौका मिलेगा। सभी टीमों के प्रतिनिधियो एवं खेल में प्रतिभाग कर रहे खिलाडियों एवं कालेज के सभी कर्मचारियों को धन्यवाद दिया जिन्होने इस खेल प्रतियोगिता के सफल आयोजन में अपना सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर सुरेश चन्द्र पाण्डे, भूतपूर्व सयुक्त निदेशक, खेल विभाग उत्तराखण्ड एवं डा० महेन्द्र सिह राणा, सहायक प्राध्यापक, अनिता जोशी राणा, फार्मेसी विभाग, भीमताल भी उपस्थित थे। मंच का संचालन भूमिका काण्डपाल एवं श्रेया सिजज्रली ने किया। इस अवसर पर कालेज के समस्त विभागाध्यक्ष, प्राध्यापक एवं कर्मचारी उपस्थित थे।