हल्द्वानी - ईमानदारी के कारण पिता की गई जान, मृतक रेंजर के बेटे ने रो - रोकर कर विभाग पर लगाए गंभीर आरोप 

 | 

हल्द्वानी -  तराई केंद्रीय वन प्रभाग में तैनात वन क्षेत्राधिकारी (रेंजर) हरीश चंद्र पांडेय (Forest Ranger Officer Haldwani Harish Pandey Death) विगत 15 दिनों से लापता थे. जिनका आज बुधवार सुबह तल्लीताल ठंडी सड़क किनारे भीमताल झील से शव संदिग्ध हालात में मिला है। तल्लीताल ठंडी सड़क में झील किनारे से बधुवार की सुबह 15 दिन से लापता चल रहे वन क्षेत्राधिकारी हरीश चंद्र पांडे (55) का शव संदिग्ध हालात में बरामद हुआ है। पुलिस ने शव की शिनाख्त जेब से मिली फोटो और दस्तावेज के आधार पर की। साथ ही परिजनों को शव मिलने की सूचना दी। सूचना पर मृतक के बेटे हिताद्र पांडे अपने रिश्तेदारों के साथ पहुंचे।


बेटे हिताद्र ने अपने पिता की मौत के लिए वन विभाग के उच्च अधिकारियों पर आरोप लगाए है। बेटे ने रोते हुए बताया कि उनके पिता को पेड़ काटने के मामले में झूठा फंसाया जा रहा था। जिसके बाद से वह 29 नवंबर से मानसिक रूप से परेशान चल रहे थे। बेटे ने बताया कि तब से पिता घर से लापता चल रहे थे। उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से भी पिता की खोजबीन के लिए कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई। जबकि उनके पिता की लोकेशन भीमताल में मिली थी। बेटे ने कहा कि डीएफओ और एसडीओ से जब पिता की खोजबीन के लिए मिलने गए तो उन्होंने मुलाकात तक नहीं की। हिताद्र ने कहा ईमानदारी के चलते उनके पिता की जान गई है। उन्होंने कहा कि वह लोग कमजोर है अगर वह शिकायत भी करेंगे तो उच्च अधिकारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाएगी। 


थानाध्यक्ष बिरेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि शव तीन दिन पुराना लग रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। मृतक तराई केंद्रीय वन प्रभाग के रुद्रपुर डिवीज़न में वन क्षेत्राधिकारी के पद पर तैनात थे।


Tags : वन क्षेत्राधिकारी हरीश चंद्र पांडेय डेथ, Haldwani Forest Range Officer Harish Pandey Death, Harish Pandey Missing Haldwani, हरीश पांडे लापता हल्द्वानी, Forest Range Officer Harish Pandey Missing, Harish Pandey Ranger Missing, Ranger Harish Pandey Death Bhimtal, Harish Pandey Missing Haldwani, लापता रेंजर हरीश चंद्र पांडेय हल्द्वानी का मिला शव