हल्द्वानी - कृष्णा हॉस्पिटल के डाक्टरों ने कर डाला ऐसा कारनामा, अब किड़नी के मरीजों के लिए खुला बेहतर रास्ता 

 | 

हल्द्वानी - कृष्णा हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेन्टर (Krishna Hospital & Research Centre Haldwani) हल्द्वानी के निदेशक डा. जे.एस खुराना ने मिडिया से रूबरू होते हुए जानकारी दी है कि किडनी की बीमारी से पीड़ित एक मरीज का कृष्णा हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेन्टर में डा० रमनदीप सिंह आहुजा (एम०डी०, कार्डियोलॉजिस्ट) और डा. रोहित गोयल (एम०डी० नैफोलॉजिस्ट) की देखरेख में इलाज चल रहा है।


मरीज की ए०वी० फिस्टुला द्वारा सप्ताह में लगभग दो बार डायलिसिस होती है फिस्टुला में खून का थक्का जमने के कारण डायलिसिस नही हो पा रही थी। मरीज को शुगर होने के कारण खून पतला होने की दवाई भी नही दी जा सकती थी। इसलिए दोनों डाक्टरों ने मरीज की स्थिति के बारे में आपस में विचार विमर्श किया ओर यह निर्णय लिया गया कि मरीज की फिस्टुलोप्लास्टी कर फिस्टुला को खोला जाय। मरीज को इस बारे में अवगत कराया गया। क्योंकि पूरे कुमाऊं में यह पहली बार होने जा रही थी। डा0 रमनदीप सिंह आहुजा द्वारा मरीज की लगभग 2 घन्टे 30 मिनट में सफलतापूर्वक फस्टुलोप्लास्टी कर फिस्टुला को खोल दिया गया। जिससे मरीज का दुबारा फिस्टुला बनाने की आवश्यकता नहीं पडी। अब इसी फिस्टुला से कई बार डायलेसिस करना संभव हैं।