हल्द्वानी - टीपी नगर में हुए अमित हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, इस कारण कर दी रिश्ते के भाई की हत्या 
 

 | 

Haldwani Crime News - हल्द्वानी कोतवाली के ट्रांसपोर्ट नगर चौकी क्षेत्र में बीते 26 नवंबर को अमित कश्यप नाम के एक युवक की हत्या के मामले में पुलिस ने आज खुलासा करते हुए हत्या करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया हैं, आज पूरे मामले का एसएसपी नैनीताल प्रह्लाद नारायण मीणा ने खुलासा किया है बीते 26 नवम्बर को गणेश कत्था फैक्ट्री रामपुर रोड टीपीनगर के पास ठेली लगाकर व्यवसाय करने बाले सुमेर कश्यप निवासी पीलीभीत के 30 वर्षीय पुत्र अनित कश्यप की अज्ञात बदमाश द्वारा धारदार हथियार से मुंह व सर पर कई बार करके हत्या कर दी गयी। इस सम्बन्ध में वादी के तहरीर के आधार पर दिनांक 28 नवम्बर को कोतवाली हल्द्वानी में एफआईआर पंजीकृत की गई।


उक्त सनसनीखेज हत्याकांड के खुलासे हेतु प्रहलाद नारायण मीणा एसएसपी नैनीताल द्वारा जगदीश चन्द्र एसपी क्राईम व हरवंश सिह एसपी सिटी हल्द्वानी के पर्यवेक्षण में व भुपेन्द्र सिंह सीओ हल्द्वानी, संगीता सीओ लालकुआं के नेतृत्व में तत्काल पुलिस टीमों का गठन किया गया। गठित पुलिस टीम द्वारा पतारसी-सुरागरसी, घटनास्थल व शहर के सीसीटीवी कैमरों का अवलोकन व मृतक के पारिवारिक पृष्ठभूमि की जाच प्रारम्भ की गयी। पुलिस टीम द्वारा दिनांक 03 नवम्बर को घटना को अंजाम देने वाले अभियुक्त अरूण कश्यप निवासी पीलीभीत को ग्राम डी क्लास तल्ली हल्द्वानी स्थित हनुमान मंदिर के पास से गिरफ्तार किया गया है तथा उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त आला कत्ल पाटल को बरामद किया गया है।

 

पूछताछ पर मृतक अमित कश्यप और उसके पिता सुमेर अभियुक्त अरूण कश्यप के मौसेरे भाई व मौसा है तथा अभियुक्त की पत्नी मृतक अमित की सगी साली है। अरूण कश्यप अपने पिता के लापता होने व भाई की मृत्यु (इसी वर्ष 26 अक्टूबर को पीलीभीत में जिसकी बॉडी पीलीभीत में तालाब में मिली थी जिसके लिए वह अपने मौसा के परिवार को जिम्मेदार मानता है साथ ही अपनी पत्नी का अपने जीजा के घर आने-जाने के कारण भी इनके ऊपर शक करता है, तथा अपनी हत्या किये जाने का भी डर उनके मन में बना था। उक्त कारण उसने योजना बनाई एवं घटना के दिन मंगलपड़ाव बाजार से पाटल खरीदा और 26 नवम्बर को ठेली पर अंधेरे का फायदा उठाकर पीछे से आकर उसके द्वारा अमित (मौसेरे भाई) की पाटल से वार कर निर्मम हत्या कर दी गयी एवं फरार हो गया।