जानिये क्या है प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, गर्भवती महिलाओं को ऐसे मिलेंगे 5000 रुपये

Slider

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Uttarakhand- गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना चलायी गयी है। यह योजना महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग, उत्तराखंड की है। पहले इस योजना को मातृत्व सहयोग योजना कहा जाता था। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य काम करने वाली महिलाओं की मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिए मुआवजा देना और उनके उचित आराम और पोषण को सुनिश्चित करना है। गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार और नकदी प्रोत्साहन के माध्यम से अधीन पोषण के प्रभाव को कम करना।

PM Vandana Yojana Uttarakhand

Slider

यह भी पढ़ें-जानिये क्या है प्रधानमंत्री की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्कीम, कैसे होगा लाभ

योजना के लाभ-

इस योजना से गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को पहले जीवित बच्चे के जन्म के दौरान फायदा होगा। योजना की लाभ राशि बैंक अकाउंट के माध्यम से लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे भेज दी जाएगी।
इस योजना के तहत पहली किस्त 1000 रुपए गर्भावस्था के पंजीकरण के समय मिलेंगी।
लाभार्थी छह महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जांच करने के बाद दूसरी किस्त 2000 रुपए की मिलेगी।
जब बच्चे का जन्म के बाद पंजीकृत हो जाता है और बच्चे को टीके शुरू होते है तो तीसरी किस्त के 2000 रुपए मिलेंगे।
इस तरह तीन किस्तों में आपकों 5000 रुपये की धनराशि प्रदान की जायेंगी।

यह भी पढ़ें-क्या है प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, बस 330 रुपये में लगाये और पाये 2 लाख

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana

कैसे करें आवेदन-

इस योजना में आवदेन आप आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से कर सकते है। महिलाएं आंगनबाड़ी केन्द्रों में जाकर इस योजना के लिए पंजीकरण करा सकती हैं। स्वास्थ्य सुविधा केंद्रों पर भी इस योजना के लिए पंजीकरण कराया जा सकता है। इसमें आशा कार्यकर्ता मदद करती हैं।

जरूरी कागज-

आधार कार्ड की फोटोकॉपी
बैंक या पोस्ट ऑफिस खाता की पासबुक
आधार न होने पर पहचान संबंधी अन्य विकल्प
पीचएसी या सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड
सरकारी विभाग/कंपनी/संस्थान से जारी कर्मचारी पहचान पत्र

उत्तराखंड की बड़ी खबरें