Lockdown: लॉकडाउन के चलते घर नहीं जा सका तो रोडवेज कर्मचारी ने उठाया ये कदम

बरेली में लॉकडाउन (lockdown) में फंसे एक रोडवेज कर्मचारी (Roadways employee) ने  फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। कर्मचारी ने आत्महत्या (suicide) करने से पहले उसने मोबाइल के सभी नंबर और फोटो डिलीट (deleted number and photo) कर दिए। पुलिस ने आधार कार्ड (Aadhar card) के जरिए उसके घर के पते पर संबंधित थाने से सूचना भिजवाई। सूचना मिलते ही देर रात परिजन बरेली पहुंच गए।
Haldwani student suicide
बरेली के सुभाषनगर के क्लासिक गेस्ट हाउस (classic guest house) में रुका रोडवेज कर्मचारी अनुराग दीप गुप्ता ने डर रात फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली भी। गेस्ट हाऊस मैनेजर (guest house manager) नदीम ने बताया कि अनुराग 18 मार्च को लखनऊ से आए थे। वह रोडवेज बसों (roadways buses) की चेकिंग करते थे। लॉकडाउन के बाद से वह बरेली में फंस गए। नदीम ने बताया कि अनुराग ने कई बार घर जाने की कोशिश की लेकिन जा नहीं सके। कुछ दिनों से वह गुमसुम था। कल सुबह नदीम ने खिड़की (window) से झांका तो अनुराग फंदे से लटका था। चौकी इंचार्ज सुभाषनगर (Subhash Nagar Chowki incharge) ने बताया कि मैनेजर का कहना है कि अनुराग तनाव में था।

यहाँ भी पढ़े

Lockdown: 15 अप्रैल से इस टनल से गुजरना होगा ट्रेन यात्रियों को, 4 घंटे पहले आना होगा स्टेशन

उत्तराखंड की बड़ी खबरें