inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड जानिए क्या है उत्तराखंड सरकार की वैष्णवी सुरक्षा योजना, कैसे मिलेगा इस...

जानिए क्या है उत्तराखंड सरकार की वैष्णवी सुरक्षा योजना, कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ

देहरादून- उत्तराखंड में कैंसर मरीजों को जल्द मिलेगी ये सुविधा, सांसद अनिल बलूनी ने की बड़ी घोषणा

उत्तराखंड में टाटा समूह के माध्यम से विश्व स्तरीय कैंसर संस्थान खोला जाएगा। टाटा समूह के प्रमुख रतन टाटा ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी...

देहरादून- उत्तराखंड में आज इस जिले में मिले सबसे अधिक मामले, इतनों ने गवाईं अपनी जान

उत्तराखंड में आज 424 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 73951 हो गया है। जबकि 13...

उत्तराखंड- कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए इस जिले में फिर लगेगा लॉकडाउन, रहेंगे ये नियम

उत्तराखंड में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए देहरादून प्रशासन ने रविवार को बाजार बंद रखने का आदेश दिया है। सिर्फ जरूरी...

देहरादून- उत्तराखंड के इस गायक के जन्मदिन पर मनाया जाता है ‘जागर संरक्षण दिवस’, इसलिए मिला पद्मश्री पुरूस्कार

प्रीतम भरतवाण उत्तराखण्ड के विख्यात लोक गायक हैं। भारत सरकार ने उन्हें 2019 में पद्मश्री पुरूस्कार से समानित किया। वे उत्तराखण्ड में बजने वाले...

रुद्रपुर: इस तरह लूटते थे टुकटुक, पुलिस ने धरदबोचा

रुद्रपुर। बीते दिवस हुई दो टुकटुक लूटकांडों का कोतवाली पुलिस ने 48 घंटे के भीतर पर्दाफाश करते हुए एक रेस्टोरेन्ट के कारीगर सहित दो...

उत्तराखंड राज्य सरकार ने नवजात लड़कियों के लिए वैष्णवी सुरक्षा योजना श्ुारू करने का एलान कर दिया। ये योजना बेटियों के जन्म को बढ़ावा देने के मकसद से उत्तराखंड सरकार ने वैष्णवी सुरक्षा योजना की शुरुआत की है। इस स्कीम के तहत वैष्णवी सुरक्षा किट बेटी की मां को उपलब्ध कराई जाती है। इसके लिए बच्ची के जन्म लेते ही परिवार के सदस्यों को उसके साथ अपनी सेल्फी भेजनी पड़ती है। वैष्णवी किट में बेटी के तुरंत उपयोग की कई चीजें होती हैं। सरकार उसी समय बच्ची के परिवार को बधाई संदेश भेजती है। वैष्णवी सुरक्षा योजना के संचालन का जिम्मा प्रदेश के महिला एवं बाल विकास विभाग को सौंपा गया है।

vv

सरकार इस स्कीम के जरिए राज्य में बेटे और बेटियों के अनुपात में संतुलन बनाए रखना चाहती है। इस स्कीम की मदद से नवजात बच्ची के जन्म लेते ही उसे व मां को तमाम तरह की चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध हो जाती हैं। इसके लिए नोडल सेंटर तैयार किए जा रहे हैं, जिनका टोल फ्री नंबर जाराी किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- वृद्धावस्था पेंशन योजना : उत्तराखंड के बुजुर्ग जी सकेंगे बेहतर जिंदगी, अब इतने रुपए मिलेगी हर महीने पेंशन

सरकारी अस्पतालों से लिया जाएगा सहयोग

वैष्णवी सुरक्षा योजना के अंतर्गत माता-पिता को उत्तराखंड की राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ा जाने वाला वैष्णवी कार्ड प्रदान किया जाएगा। साथ ही माता-पिता की बीमा भी होगा। वैष्णी सुरक्षा योजना को मुख्यमंत्री की तरफ से हरी झंडी मिलने के बाद महिला एवं बाल विकास विभाग नवजात बेटियों को सुरक्षा देने में जुटी है। इस योजना में एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ ही नजदीकी सरकारी अस्पतालों का सहयोग लिया जाएगा। संबंधित परिवार को बधाई संदेश दिया जाएगा। कि उसने बेटी नहीं बल्कि सृष्टि को जन्म दिया है।  इस योजना से लाभार्थी परिवार को वैष्णवी कार्ड देकर विभिन्न योजनाओं से जोड़ा जाएगा और माता-पिता का बीमा भी होगा।

Vaishnavi-Suraksha-Yojana

यह भी पढ़ें-नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना, जन्म से लेकर ब्याह तक बेटी को मिलेगा ये विशेष लाभ

बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्य का कहना है कि वैष्णवी योजना के तहत लाभार्थी परिवार को वैष्णवी कार्ड देकर विभिन्न योजनाओं से भी जोड़ा जाएगा। साथ ही माता-पिता की बीमा भी होगा। वैष्णवी योजना के लिए मुख्यमंत्री की ओर से ही झंडी मिलने के बाद महिला बाल विकास विभाग इसे अंतिम रूप देने में जुटा है।

क्या हैं वैष्णवी सुरक्षा योजना खास बातें

  • योजना के अंतर्गत लाभार्थी परिवार को वैष्णवी कार्ड दिया जाता है। यह कार्ड विभिन्न योजनाओं से जुड़ा होता है।
  • बच्ची के साथ माता-पिता को भी योजना के तहत बीमा कवर मिलता है।

Vaishnavi-Suraksha-Yojana-1

  • स्कीम के तहत लाभार्थी परिवार को वैष्णवी किट दी जाती है. इसमें बच्ची के उपयोग की तमाम चीजें होती हैं।
  • बच्ची के लिए नए कपड़े भी भेजे जाते है।
  • प्राधिकरण की ओर से बच्ची को विशेष पहचान संख्या दी जाती है।

vausnavi

ये योजना ऐसे करती है काम

-बच्ची के जन्म पर परिवार के सदस्यों को उसके साथ सेल्फी भेजनी पड़ती है. इसके बाद उन्हें एक नंबर दिया जाता है।
-सेल्फी प्राप्त होते ही 24 घंटे के भीतर आंगनवाड़ी या एएनएम के कार्यकर्ताओं को सहायता के लिए भेजा जाता है।
-यही कार्यकर्ता वैष्णवी किट के साथ तमाम चीजें परिवार को सौंपते हैं।-मुख्यमंत्री और जिला अधिकारी की ओर से परिवार को तत्काल बधाई संदेश भेजा जाता है।

इस योजना की अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट http:// socialwelfare.uk.gov.in/ पर संपर्क करें।

Related News

देहरादून- उत्तराखंड में कैंसर मरीजों को जल्द मिलेगी ये सुविधा, सांसद अनिल बलूनी ने की बड़ी घोषणा

उत्तराखंड में टाटा समूह के माध्यम से विश्व स्तरीय कैंसर संस्थान खोला जाएगा। टाटा समूह के प्रमुख रतन टाटा ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी...

देहरादून- उत्तराखंड में आज इस जिले में मिले सबसे अधिक मामले, इतनों ने गवाईं अपनी जान

उत्तराखंड में आज 424 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही राज्य में कोरोना का आंकड़ा बढ़कर 73951 हो गया है। जबकि 13...

उत्तराखंड- कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए इस जिले में फिर लगेगा लॉकडाउन, रहेंगे ये नियम

उत्तराखंड में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए देहरादून प्रशासन ने रविवार को बाजार बंद रखने का आदेश दिया है। सिर्फ जरूरी...

देहरादून- उत्तराखंड के इस गायक के जन्मदिन पर मनाया जाता है ‘जागर संरक्षण दिवस’, इसलिए मिला पद्मश्री पुरूस्कार

प्रीतम भरतवाण उत्तराखण्ड के विख्यात लोक गायक हैं। भारत सरकार ने उन्हें 2019 में पद्मश्री पुरूस्कार से समानित किया। वे उत्तराखण्ड में बजने वाले...

रुद्रपुर: इस तरह लूटते थे टुकटुक, पुलिस ने धरदबोचा

रुद्रपुर। बीते दिवस हुई दो टुकटुक लूटकांडों का कोतवाली पुलिस ने 48 घंटे के भीतर पर्दाफाश करते हुए एक रेस्टोरेन्ट के कारीगर सहित दो...

रुद्रपुर: अंतत: पुलिस ने छोड़ा किसानों का रास्ता, हजारों किसान दिल्ली रवाना

रुद्रपुर। दो दिन तक हाइवे पर डेरा डालने के बाद तराई के किसानों को दिल्ली जाने की अनुमति मिली तो अपराह्न दो बजे हजारों...