inspace haldwani
Home उत्तराखंड गढ़वाल हरिद्वार-इन दो तिथियों में स्नान करने पर मानने होंगे ये नियम, देखियें...

हरिद्वार-इन दो तिथियों में स्नान करने पर मानने होंगे ये नियम, देखियें कौन से है दो खास तिथियां

हरिद्वार-कुम्भ मेले को कोविड संक्रमण से सुरक्षित कराने को केंद्र और राज्य सरकार की ओर से जारी एसओपी का पालन कराने को मेल प्रशासन और स्थानीय जिला प्रशासन भी संकल्पित है। आगामी 11 फरवरी को मौनी अमावस्या और 16 फरवरी को बसंत पंचमी पर होने वाले स्नान के लिए बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को एसओपी का पालन करना होगा। यह एसओपी फिलहाल दो दिन 11 फरवरी और 16 फरवरी स्नान के लिये लागू की जाएगी। इसमें ढिलाई पर वैधानिक कारवाई भी होगी।

उत्तरकाशी-सीएम त्रिवेन्द्र ने टेका महासू देवता मंदिर में माथा, चमोली आपदा में लापता लोगों के लिए की प्रार्थना

एसओपी के अनुपालन में होटल में ठहरने वाले यात्रियों को कोविड निगेटिव रिपोर्ट भी दिखानी होगी। वहीं गंगा घाटोंऔर सार्वजनिक स्थानों पर भी कोविड नियमों के तहत सोशल डिस्टेंशिंग और मास्क लगाए रखना होगा। इन दोनों स्नानों के बीच की अवधि में सामान्य रूप से व्यवस्था लागू रहेगी। इसको लेकर मेला प्रशासन और जिला प्रशासन ने बैठकों में दिशा-निर्देश भी जारी किया है। इसका पालन सभी को हर हाल में करना होगा।

देहरादून-टनल से लोगों को बाहर निकालने की कोशिश जारी, अब नौसेना के कमांडो ने भी संभाला मोर्चा

नियमों के अनुपालन के लिए होटल व्यवसायी, धर्मशाला प्रबंधन, रेस्टोरेंट और अन्य कारोबारियों के साथ बैठक में भी जानकारी दी जा चुकी है। मेला व जिला प्रशासन के अधिकारियों ने कुम्भ व अन्य धार्मिक आयोजन के दौरान कोरोना संक्रमण की दृष्टि से संवेदनशीलता को देखते हुए सभी से सहयोग की अपेक्षा की है। जिससे सुरक्षित कुम्भ का सफलतापूर्वक आयोजन हो सकें, जो सरकार की पहली प्राथमिकता है। इसके लिए सभी को प्रचार माध्यमों से जागरूक भी किया जा रहा है। श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा को देखते हुए प्रशासन द्वारा जारी लिंक, पोर्टल पर अनिवार्य पंजीकरण, आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट अवश्य अपलोड करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है। असुविधा की स्थिति में प्रशासन की ओर से जारी कोरोना हेल्प लाइन नंबर पर संपर्क कर सहयोग लिया जा सकता है।

 

 

 

 

Related News

गैरसैंण-4 मार्च फिर बना उत्तराखंड के लिए खास, तीसरी कमीश्नरी बनी गैरसैंण ये चार जिले शामिल

गैरसैंण-आज त्रिवेन्द्र सरकार ने बजट में शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत आय-व्यय में कुल 153 करोड़ सात लाख रुपये का प्रावधान किया गया...

गैरसैंण-सीएम त्रिवेन्द्र ने खोला 57 हजार 400 करोड़ का पिटारा, पढिय़े क्या इस बजट में खास

गैरसैंण- आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में वित्तीय वर्ष 2021-2 का 57400.32 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। त्रिवेंद्र सरकार...

देहरादून-चमोली आपदा में मृतक कर्मचारियों के परिजनों को पीएफ राशि मिलनी शुरू, अभी तक इतने लोगों को हुआ भुगतान

देहरादून- ऋषिगंगा क्षेत्र से निकली जलप्रलय में तपोवन विष्णुगाड बिजली परियोजना के जिन कर्मचारियों की मौत हो गई। अब उनके आश्रितों को कर्मचारी भविष्य...

हरिद्वार-मेलाधिकारी ने किया भूमि पूजन, पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा लगायेगा ये खास शिविर

हरिद्वार-आज मेलाधिकारी दीपक रावत ने भूपतवाला स्थित दूधाधारी मैदान में पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा की ओर से आयोजित भूमि पूजन में पहुंचे। यहां उन्होंने...

देहरादून-आज ही के दिन सीएम त्रिवेद्र ने लिया था ये बड़ा फैसला, पढिय़े क्यों खास है उत्तराखंड के लिए ये दिन

देहरादून- उत्तराखंड के इतिहास में चार मार्च को एक सुनहरी तिथि की तरह सदैव याद रखा जाएगा। आज ही के दिन गैरसैण में बजट...

गैरसैंण-सदन पटल पर रखी गई आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट, पढिय़े वर्ष 2019-20 की विकास दर

गैरसैंण-आज त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार अपना पांचवां बजट गैरसैंण विधानभवन में पेश करेगी। वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट का आकार करीब 56 हजार...