inspace haldwani
Home उत्तराखंड कुमाऊँ हल्द्वानी-एमबीपीजी के प्रोफेसर ने पीएमओ को लिखा पत्र, कवि तुलसीदास से जुड़ा...

हल्द्वानी-एमबीपीजी के प्रोफेसर ने पीएमओ को लिखा पत्र, कवि तुलसीदास से जुड़ा है मामला

हल्द्वानी-एमबीपीजी के हिंदी विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. संतोष मिश्र ने प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र लिखकर मांग की है कि गोस्वामी तुलसीदास की जन्मस्थली को लेकर चले आ रहे विवाद पर एक उच्च स्तरीय समिति गठित कर सर्वमान्य हल निकाला जाय। पीएमओ को भेजे अनुरोध पत्र में डॉ मिश्र ने लिखा है कि भक्ति काल के सगुण काव्य धारा के प्रमुख कवि गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित रामचरितमानस से भला कौन परिचित नहीं होगा। मानस सहित कई धार्मिक ग्रंथों के रचयिता तुलसी के जन्म स्थान को लेकर विवादों का एक लंबा सिलसिला रहा है। देश-विदेश के विभिन्न विद्वानों और शोध करने वालों में इस बात पर एक राय नहीं है कि तुलसी कहां पैदा हुए थे। जन्म स्थान के विवाद में उन्हें उत्तर प्रदेश के चार स्थानों से जोड़ा जाता है। पहला एटा जिले का सोरों, दूसरा बांदा जिले का राजापुर जो कि चित्रकूट के पास है, तीसरा गोंडा जिले का राजापुर जो कि अयोध्या के पास है और चौथा प्रतापगढ़ जिले का राजापुर गांव।

हल्द्वानी-घर पहुंचा एसपी का पार्थिव शरीर, हर आंख हुई नम..

इसी तरह से विभिन्न विद्वान और तुलसी साहित्य के शोधार्थी रामचरितमानस की भाषा को लेकर भी एकमत नहीं हैं। कुछ विद्वान उसे अवधी और ब्रज मिश्रित तो कुछ भोजपुरी और बुंदेली के नजदीक भी बताते हैं। विद्वानों के अनुसार जहां मलिक मोहम्मद जायसी के पद्मावत की भाषा ग्रामीण अवधी है, वहीं पर तुलसी के रामचरितमानस की भाषा साहित्यिक अवधी है। डॉ. संतोष मिश्र ने प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र लिखकर यह मांग की है कि जैसे सैकड़ों वर्षो से चले आ रहे राम जन्मभूमि विवाद का पटाक्षेप हुआ, वैसे ही राम के अनन्य भक्त गोस्वामी तुलसीदास की जन्मस्थली को लेकर वर्षों से बने संशय को उच्च स्तरीय समिति बनाकर दूर किया जाना चाहिए।

देहरादून-टीम इंडिया में खेलेगा देवभूमि का एक और लाल, इंग्लैंड दौरे के लिए हुआ चयन

इस समिति में इतिहासकार, साहित्यकार और वैज्ञानिक को शामिल कर किसी निर्णय पर पहुंचा जा सकता है। पीएमओ द्वारा डॉ मिश्र को ई मेल भेजकर सूचित किया गया है कि अग्रिम कार्यवाही हेतु उक्त पत्र को प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसचिव अंबुज शर्मा को अग्रेषित कर दिया गया है।

 

 

 

 

Related News

रुद्रपुर: दो लोगों की जिंदगी रौशन करेंगी प्रेम ठुकराल की आंखे

रुद्रपुर। आज नगर के प्रसिद्ध व्यवसायी 58 वर्षीय प्रेम ठुकराल का निधन हो गया। भारत विकास परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुनील खेड़ा के प्रयासों...

हल्द्वानी -पहली बार लगा डीएम गब्र्याल का जनता दरबार, पहुंची 60 से अधिक समस्याएं एवं शिकायतें

हल्द्वानी-आज जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल ने कैम्प कार्यालय में फरियादियों की समस्याएं सुनीं तथा अधिकांश समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण किया। फरियादियों ने...

अल्मोड़ा- राजकीय मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा को मिलेंगे 18 नये डॉक्टर, इस दिन होंगे इंटरव्यू

अल्मोड़ा- राजकीय मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा में डाक्टरों की कमी को दूर करने के लिए लगातार प्रयास हो रहे हैं। एक बार फिर कालेज प्रशासन...

हल्द्वानी-भाजपा अनुसूचित मोर्चा ने उठाये सुंदर की मौत पर सवाल, सीएम से की सीबीआई जांच की मांग

हल्द्वानी-आज अनुसूचित मोर्चा भाजपा के द्वारा पूरे नैनीताल जिले के 19 मंडलों के द्वारा सुन्दर आर्य की अकस्मात मृत्यु को लेकर एसडीएम हल्द्वानी के...

रुद्रपुर: पढ़िए मंत्री ने किस कालोनाइजर पर कार्रवाई करने के दिए निर्देश

रुद्रपुर। प्रदेश के पंचायतीराज और शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने छतरपुर की नार्थ प्वाइंट सिटी कालोनी में मूलभूत सुविधाएं कालोनाइजर द्वारा उपलब्ध न कराने...

रुद्रपुर: रजिस्ट्री दाखिल खारिज के बाद सिडकुल ने कालोनी की भूमि पर जताया, डीएम से मिले लोग

रुद्रपुर। सिडकुल के अधिकारियों ने हल्का पटवारी के साथ मिल कर अटरिया मंदिर क्षेत्र में रह रहे लोगों को उक्त जमीन पर सिडकुल का...