हल्द्वानी- बैलपड़ाव से हुई लोकल वोकल की शुरूआत, अब बाजार में दिखेंगे स्थानीय एलईडी बल्ब, ट्यूब और लालटेन

Slider

हल्द्वानी- आज ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत बैलपड़ाव में प्रथम ग्रोथ सेन्टर का क्षेत्रीय विधायक बंशीधर भगत, जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा फीता काटकर एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। उत्तराखण्ड सरकार द्वारा बैलपड़ाव में संचालित ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत एलईडी ग्रोथ सेन्टर में वर्तमान में 40 महिलायें एलईडी बल्ब, ट्यूब, लालटेन, एलईडी, ईडी झूमर आदि का निर्माण कर स्वरोजगार अपनाकर आत्मनिर्भरता के साथ अपनी व अपने परिवार की आर्थिकी मजबूत कर रही है।

banshi

Slider

यह भी पढ़े 👉 देहरादून-सीआइएससीई की बोर्ड परीक्षा दून की भविया मदान टॉपर जबकि आइसीएसई में अनुभव कश्यप का कब्जा

यह भी पढ़े 👉 देहरादून-हर हाथ रोजगार देने की सरकार ऐेसे कर रही तैयारी, अब आजीविका से जुड़ेगी ये योजना

मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक भगत ने सभी महिलाओं को बधाई देते हुये कहा कि ग्रोथ सेन्टर की स्थापना कि पीछे सरकार की मंशा है कि हम स्वरोजगार अपनाकर अपने पांव पर खड़े होकर राज्य व राष्ट्र विकास मे अपनी भागेदारी निभायें। उन्होंनेे कहा कि आज दौर में सरकारी नौकरियां कम है इसलिए हम सभी को स्वरोजगार को अपना कर आत्म निर्भर बनना होगा। उन्होंने कहा जब महिलायें आत्मनिर्भर होगी तभी समाज आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि हम कार्यो को इच्छा शक्ति व लगन से करें तथा गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने महिला समूह द्वारा उत्पादित एलईडी उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने को कहा। महिलाओं से अपील की कि स्वरोजगार वह चुने जिसे मन से करें व दक्षता से कर सकें, तभी हम आत्मनिर्भर बन सकेंगे।

bhagat

जिलाधिकारी बंसल ने एलईडी निर्माण से जुड़े सभी समूहों की महिलाओं को बधाई व शुभकामनायें दी। उन्होंने कहा कि ग्रोथ सेंटर स्थापना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को अपने घरेलु दिनचर्या कार्यो के साथ ही परिवार की आर्थिकी मजबूत करना है। समूह एलईडी निर्माण के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी कार्य करना चाहते हैं। आगे की अपील की, सरकार व प्रशासन उन्हें हर सम्भव सहायता देगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के दृष्टिगत सावधानी रखते हुये सोशल डिस्टेसिंग, सेनिटाइजेशन व मास्क का उपयोग करने की अपील की।

dm

मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि डीएवाई राष्ट्रीय ग्रामीण मिशन एक महत्वाकाक्षी मिशन है जिसका उद्देश्य ग्रामीण परिवारों को संगठित कर उन्हे रोजगार के स्थायी अवसर उपलब्ध कराना है। उन्होंनेे कहा कि मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण स्तर पर गरीब परिवारों की महिलाओं को जोडक़र स्वयं सहायता समूह का गठन किया जाता है जिनकों सरकारी विभागों, बैंक, स्थानीय प्रशासन के साथ सम्पर्क बढ़ाकर आजीविका संबन्धित विषयों पर गरीब उन्मूलन के लिए कार्य करता है।

सहायक परियोजना निदेशक संगीता आर्य ने कहा कि महिलाओं द्वारा अपने परम्परागत कार्यों के अतिरिक्त अपनी आर्थिकी मजबूत करने के लिए आजीविका मिशन के अन्तर्गत समूह गठन कर कार्य कर स्वालम्बी बनाना योजना का उद्देश्य है। उन्होंने कहा एलईडी ग्रोथ सेन्टर का प्रस्ताव 2019 में तैयार किया गया था जो कि जिले नैनीताल का प्रथम ग्रोथ सेन्टर है। उन्होंने बताया कि इस ग्रोथ सेन्टर संचालन न्याय पंचायत बैलपड़ाव में गठित विकास महिला कलस्टर लेबिल फैडरेशन द्वारा किया जायेगा जिसमें 130 समूह और 1149 महिलायें सम्मलित है। इस दौरान कार्यक्रम में प्रधान राजिन्दर कौर, अमिर चन्द्र, देवेेन्द्र कुमार, विधायक प्रतिनिधि मयंक तिवारी, फैडरेशन प्रतिनिधि मनप्रीत कौर, उपजिलाधिकारी विजय नाथ शुक्ल, गौरव चटवाल, खण्ड विकास अधिकारी जीवन राम आर्य, माया गोस्वामी, दुर्गा मेहरा, तेज पाठक सहित स्वयं सहायता समूहों की महिलायें मौजूद थी।

 

उत्तराखंड की बड़ी खबरें