देहरादून- कोरोना वायरस से लड़ाई में Kavach App बनेगा आपका सुरक्षा कवच, जानिए कैसे करेगा काम app

Slider

कोरोना महामारी से बचाव के लिए सरकार और स्वास्थ्य विभाग लगातार नये-नये प्रयास कर रहे है। इसी बीच जेसी बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए के विद्यार्थियों ने कोरोना से बचाव के लिए इनोवेटिव समाधान खोज निकाला है। विश्वविद्यालय की स्टार्ट-अप टीम के एमबीए के दो विद्यार्थियों ललित फौजदार और नितिन शर्मा ने जियो-फेंसिंग तकनीक का उपयोग करते एक मोबाइल एप तैयार किया है।

जिसके आपके फोन में होने से कोई संक्रमित व्यक्ति 5 से 100 मीटर के दायरे में आता हैं तो एप के माध्यम से उसका अलर्ट मिल जाएगा। इसके साथ ही यह चेतावनी देगा कि आप उन स्थानों पर न जाएं, जहां संभावित संक्रमित व्यक्ति पिछले 24 घंटे में आया हो। इस ऐप को कवच (Kavach App) नाम दिया गया है, जो कि देश की कोरोना से लड़ाई में मददगार साबित होगा।

Slider

corona virus kavach app news

कवच ऐप जल्द बनेगा आपका सुरक्षा कवच

विश्वविद्यालय के फैकल्टी की माने तो इस एप को कवच (Kavach App) का नाम दिया गया है। भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा 16 मार्च को कोविड-19 समाधान चुनौती लांच किया था। इस चुनौती के जरिए 31 मार्च तक कोरोना वायरस से रोकथाम के लिए इनोवेटिव समाधान आमंत्रित किए थे। विश्वविद्यालय की टीम ने चुनौती को स्वीकार करते हुए 10 दिन की कड़ी मेहनत के बाद यह मोबाइल एप तैयार किया है।

फिलहाल एप का प्रोटोटाइप भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को भेज दिया गया है। एप को प्ले स्टोर पर उपलब्ध करवाने के लिए गूगल इंडिया को भी भेजा जा चुका है। केंद्र सरकार से स्वीकृति मिलने के बाद यदि ऐप व्यवहार में आता है तो यह देश के साथ-साथ दुनिया भर में कोरोना संक्रमण को रोकने में एक कारगर उपाय साबित हो सकता है।

हल्द्वानी- आंचल प्रोडक्ट की ओवर रेटिंग पर डायल करें ये टोलफ्री नंबर, होगी बड़ी कार्यवाई

उत्तराखंड की बड़ी खबरें