inspace haldwani
Home उत्तराखंड गढ़वाल देहरादून-इन चार जिलों में होगा अत्यधिक संवेदनशील प्रभावित परिवारों का विस्थापन, सीएम...

देहरादून-इन चार जिलों में होगा अत्यधिक संवेदनशील प्रभावित परिवारों का विस्थापन, सीएम ने दी धनराशि की मंजूरी

देहरादून- आज चार जिलों में आपदा के दृष्टिगत अत्यधिक संवेदनशील प्रभावित परिवारों को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सुरक्षित स्थानों पर विस्थापन और पुनर्वास की अनुमति दी है। इसके लिए आपदा प्रबंधन की ओर से भेजे गए प्रस्ताव के अनुसार मानक मदों के अनुसार धनराशि भी जारी करने की मंजूरी दी है।

देहरादून-मशीन लेकर चमोली पहुंचा चिनूक हैलीकॉप्टर, फिर शुरू हुआ तपोवन टनल में ऑपरेशन
टिहरी जिले के अत्यधिक संवेदनशील ग्राम बेथाण नामे तोक के चार प्रभावित परिवारों के विस्थापन-पुनर्वास नीति के तहत विस्थापित करने के राज्य स्तरीय पुनर्वास समिति की बैठक में पारित प्रस्ताव को मुख्यमंत्री ने अनुमोदित कर दिया है। इसके तहत चार परिवारों को नए स्थान पर पुनर्वास किया जाना है। इन परिवारों के भवन निर्माण, गौशाला निर्माण और विस्थापन भत्ता के लिए मुख्यमंत्री ने 17 लाख की धनराशि की संस्तुति की है। इनमें से दो परिवार वर्तमान में संयुक्त रूप से एक ही मकान में रहते हैं लेकिन विस्थापन में इन्हें अलग-अलग पुनर्वास की सुविधा मिलेगी।

वही बागेश्वर जिले के तहसील कपकोट के अंतर्गत अत्यधिक संवेदनशील ग्राम मल्लादेश के चार परिवारों के आवासीय भवनों को खतरा उत्पन्न होने के कारण पुनर्वास किए जाने के प्रस्ताव को मुख्यमंत्री ने अनुमोदित कर दिया है। जिलाधिकारी बागेश्वर की ओर से 2018 की बरसात के दौरान इन परिवारों के मकान अतिवृष्टि और भूस्खलन के कारण अत्यधिक संवेदनशील की श्रेणी में आ गए थे। पुनर्वास नीति 2011 के अनुसार शासन को भेजे प्रस्ताव पर राज्य पुनर्वाससमिति की बैठक में मुहर लग चुकी है।

चमोली जिले के तहसील थराली के आपदा प्रभावित अति संवेदनशील ग्राम फल्दिया गांव के 12 परिवारों को अन्यत्र सुरक्षित स्थान पर पुनर्वासित किए जाने के लिए 51 लाख की धनराशि के प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री ने सहमति दी है। इसमें पुनर्वास नीति के तहत मानक मदों के अनुसार प्रति परिवार भवन निर्माण के लिए 4 लाख रुपएए गौसाला निर्माण के लिए 15 हजार तथा विस्थापन भत्ता 10 हजार रुपए की संस्तुति की गई है। चमोली जिले के ही तहसील गैरसैंण के आपदाग्रस्त ग्राम सनेड लगा जिनगोडा के प्रभावित परिवार के पुनर्वास के प्रस्ताव को भी उचित पाया गया।

राज्य आपदा पुनर्वासन समिति की बैठक में पहले ही इस पर अनुमोदन दिया गया है। मुख्यमंत्री ने भी इस प्रस्ताव को सहमति देते हुए प्रभावित परिवार को सुरक्षित स्थान पर विस्थापित करने की संस्तुति दी है। उत्तरकाशी के तहसील डूंडा के अत्यंत संवेदनशील ग्राम अस्तल के 30 प्रभावित परिवारों को अंयत्र सुरक्षित स्थान पर विस्थापित किए जाने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 1 करोड़ 25 लाख 10 हजार की राशि के प्रस्ताव पर सहमति दी है। पुनर्वास नीति केतहत प्रति परिवार भवन निर्माण के लिए 4 लाख, गौशाला निर्माण के लिए 15 हजार और विस्थापन भत्ता 10 हजार रुपए दिया जाएगा।

 

 

 

 

 

Related News

Cm त्रिवेंद्र ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को दिया तोहफा, देखिये राज्यमंत्रियों की पूरी सूची

देहरादून। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने विभिन्न आयोगों, निगम, परिषद, समितियों में 17 महानुभावों को अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सलाहकार का दायित्व सौंपा है।...

देहरादून-सीएम त्रिवेन्द्र ने दी सल्ट का सौगात, पढिय़े सल्ट विधानसभा क्षेत्र की 14 घोषणाएं

देहरादून-आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री आवास से वर्चुअल माध्यम से अल्मोड़ा जिले के सल्ट विधानसभा की विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं...

विकासनगर-अचानक घर में लग गई आग, आंगन में खेल रहे बच्चे सहमे

विकासनगर-आज चकराता ब्लॉक अंतर्गत सुदूरवर्ती गोरछा गांव में एक ग्रामीण के मकान में अचानक आग लग गई। आग लगने के बाद अफरा-तफरी मच गई।...

देहरादून- ऐपण कलाकृति मिलेंगी विश्वव्यापी पहचान, सीएम त्रिवेन्द्र ने एपण को दिलाई नई पहचान

देहरादून-उत्तराखंड की पारंपरिक ऐपण कलाकृति को नया आयाम मिल रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हालिया दिल्ली दौरे पर केंद्रीय मंत्रियों को ऐपण...

चमोली-श्रम विभाग मेंं पंजीकृत मजदूरों को नहीं मिल रहा योजनाओं का लाभ, सरकार के दावे हवा-हवाई

चमोली- जिले के गोपेश्वर में श्रम विभाग के कार्यालय में पंजीकृत मजदूरों को केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा श्रमिकों के लिए ऑनलाइन कई...

देहरादून-सीएम त्रिवेन्द्र की अध्यक्षता में हुई बैठक, इन सात प्रस्तावों पर लगी मोहर

देहरादून- आज हुई कैबिनेट की बैठक में सात प्रस्ताव आये। जिसमें से सातों प्रस्तावों पर सहमति बनी। प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक आज को न्यू...