WORLD SLEEP DAY: जानें हर साल क्‍यों मनाते है वर्ल्ड स्लीप डे

बरेली: विश्व (World) में नींद (Sleep) के प्रति जागरूकता (Awareness) बढ़ाने के लिए हर साल 13 मार्च 2007 से वर्ल्ड स्लीप डे मनाया जाताा है। इस भागदौड़ भरी जिंदगी में कम नींद लेने की वजह से इसका सीधा प्रभाव हमारी सेहत (Health) पर पड़ता है। यही कारण है कि हर साल 13 मार्च को वर्ल्ड स्लीप डे मनाया जाता है ताकि लोग नींद के महत्व के बारे में जान सकें और स्वस्थ रह सकें।
world sleep dayहर साल वर्ल्ड स्लीप डे कमेटी ऑफ वर्ल्ड स्लीप सोसाइटी (World Sleep Day Committee of World Sleep Society) इसे एक नए स्‍लोगन (Slogan) के साथ आयोजित करती है। ताकि लोग नींद के महत्व को और नींद से संबंधित बीमारियों को लेकर जागरूक रहें। इसका उद्देश्य दुनिया भर के लोगों को नींद के महत्व के प्रति जागरूक करना और जीवन में नींद कितने मायने रखती है यह बताता है। नींद के पूरा न होने पर कई परेशानियां भी हो सकती हैं।
sleep dayहर साल वर्ल्ड स्लीप डे एक नए स्लोगन के साथ मनाया जाता है इस साल वर्ल्ड स्लीप डे का स्लोगन है बेटर लाइफ बेटर, स्‍लीप बेटर, प्लेनेट (Better Life, Better Sleep, Better Planet)। नींद हमारे स्वास्थ्य का एक महत्वपूर्ण स्तंभ है अगर हमें स्वस्थ रहना है तो कम से कम 8 से 10 घंटे की नींद लेनी चाहिए। इससे हमारा शरीर शारीरिक व मानसिक (Physical and mental) रूप से स्वस्थ रहता है।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें