iimt haldwani

हल्द्वानी-( वार्ड नंबर 20) पिता के कामों का बेटे को मिल रहा फायदा, गली-गली, घर-घर पहुंचे उमेश गुप्ता

933

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- नगर निकाय चुनाव में वार्ड नंबर 20 से पार्षद पद के लिए उमेश गुप्ता चुनाव मैदान में है। निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर उमेश गुप्ता खड़े है। वह बीजेपी नेता राजेन्द्र गुप्ता के पुत्र है। राजेन्द्र गुप्ता क्षेत्र में गुप्ता कचौड़ी के नाम से प्रसिद्ध है। मोहल्ले में उनकी समाज में अच्छी खासी पकड़ है। इस बार उनका बेटा उमेश गुप्ता चुनावी दंगल में कूदे है। इन दिनों उनका चुनाव प्रसार जोरो-शोरों पर हैं। वह विरोधियों को कड़ी टक्कर दे रहे हैं। उमेश का चुनाव चिन्ह नारियल है। वही पिता राजेन्द्र गुप्ता की साफ और स्वच्छ छवि का फायदा उमेश को मिल रहा। उमेश को वार्ड से जबरदस्त समर्थन मिल रहा है। राजेन्द्र गुप्ता भाजपा से जुड़े हुए है लेकिन पार्टी से टिकट न मिलने के चलते उनका बेटा उमेश निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह उनके बेटे के चुनाव चिन्ह नारियल पर मोहर लगाकर उनके बेटे को विजयी बनाये।

amarpali haldwani

उमेश के प्रचार ने पकड़ा जोर

सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में सक्रिय रहे राजेन्द्र गुप्ता के कामों का फायदा उनके बेटे का मिलना तय है। वर्तमान में राजेन्द्र गुप्ता भारतीय जनता पार्टी के नगर मण्डल में कोषाध्यक्ष है। राजेन्द्र गुप्ता ने वर्ष 1984 में एक रुपये में भाजपा की सदस्यता ली थी। तब कलराज मिश्र भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष थे। इससे पहले वह पार्टी में कई महत्तवपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। उन्होने अपनी क्षेत्र में कई कार्य किये। उनके कार्यों का फायदा उनके बेटे उमेश को मिल रहा है। उमेश ने अपने नीय लोगों के साथ जनसंपर्क अभियान शुरू कर दिया। वह गली-गली और घर-घर जाकर लोगों से संपर्क कर रहे है।

आज पार्षद प्रत्याशी उमेश गुप्ता ने सावित्री कालोनी, समता आश्रम गली, शिव कालोनी, हिमालय फार्म, मेडिकल कॉलेज, ब्दुल्ला बिल्डिंग, राम मंदिर और दीना फ्लोर मिल में जनसंपर्क अभियान चलाया। साथ ही लोगों की मस्याओं को तुरंत हल करने का भरोसा भी दिला रहे है। जिस तरह से राजेन्द्र गुप्ता ने क्षेत्र में कार्य किये है। उसका समर्थन उन्हें मिल रहा है। उमेश ने कहा कि भविष्य के लिए उन्होंने कई योजनाएं बनाई है। जिससे वार्ड का विकास हो सकें और लोगों को भी रोजगार मिल सकें। उमेश गुप्ता के प्रचार-प्रसार ने जोर पकड़ लिया है। पार्षद पद के निर्दलीय प्रत्याशी उमेश ने अपील की कि वह उनके चुनाव चिन्ह नारियल पर मोहर लगाकर उन्हें विजयी बनाये।