iimt haldwani

(Video) देहरादून- बीजेपी विधायक चैंपियन ने सोशल मीडिया में सरे आम दी विधायक कर्णवाल को चुनौती, बोले ऐसे भद्दे शब्द

70

देहरादून- न्यूज टुडे नेटवर्क: भाजपा हाईकमान और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की लाख कोशिशों के बावजूद खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह और झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल के बीच विवाद थमने के बजाय और गहराता जा रहा है। बिते रोज हल्द्वानी पहुंचे विधायक देशराज ने चैंपियन को बड़ा भाई बताते हुए पार्टी हाई कमान के आदेशों का पालन करने की बात कही थी। आज कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने बड़े ही दबंग अंदाज़ में विधायक देशराज कर्णवाल के लिए वीडियो संदेश जारी किया। इसमें उन्होंने तमाम मर्यादाएं लांघते हुए अपनी ही पार्टी के विधायक के ख़िलाफ़ जमकर ज़हर उगला। और एक तरह से पार्टी को भी चुनौती दी कि अब उनके ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती। साथ ही साफ सीधे शब्दों में विधायक झबरेड़ा को सजा दिलाने की बात भी कहीं है।

amarpali haldwani

देखें वीडियों…

हरिद्वार(रुड़की) तेरी औकात नहीं है कि प्रणव सिंह चैंपियन के मूंछ का बाल भी नहीं हिला सके।देखिए सबसे तीखा हमला प्रणव सिंह चैंपियन का विधायक देशराज पर सुनिए पूरा वाक्य क्या कहा..

Posted by भारत हलचल on Thursday, April 25, 2019

क्या है पूरा मामला

प्रदेश भाजपा हरिद्वार जनपद के अपने दो विधायकों कुंवर प्रणव चैंपियन और देशराज कर्णवाल के विवादों से आजिज आ चुकी है। पार्टी दोनों के खिलाफ कड़ा फैसला लेने पर गंभीरता से विचार कर रही हैं, लेकिन कोई भी सख्त कदम उठाने से पहले उन कारणों की पड़ताल होगी, जो दोनों विधायकों के मध्य विवाद की वजह माने जा रहे हैं। इन कारणों की पड़ताल के लिए पार्टी आज एक समिति का गठन करेगी। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि समिति की जांच में यदि अनुशासनहीनता की पुष्टि होती है तो पार्टी सख्त कदम उठाने से भी परहेज नहीं करेगी। भट्ट ही नहीं समूचा संगठन दोनों विधायकों की सुबह सुलह और शाम को विवाद वाली स्थिति पर हैरान है।

दरअसल, अनुशासनहीनता का नोटिस जारी होने के फौरन बाद चैंपियन और कर्णवाल मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत हुए थे, जहां उन्होंने वायदा किया था कि वे अब ऐसा कोई आचरण नहीं करेंगे कि संगठन और सरकार को असहज होना पड़े। इसके बाद चैंपियन खुद पर हो रहे हमलों और समूचे घटनाक्रम के बारे में शिकायत करने दिल्ली चले गए। उधर, नैनीताल हाईकोर्ट में कर्णवाल की याचिका की सुनवाई में चैंपियन को पक्षकार बनाया है। ऐसे में दोनों विधायकों ने पार्टी को फिर से दुविधा में डाल दिया है। खुद को सबसे अनुशासित बताने वाली भाजपा का अनुशासन दोनों विधायकों के विवाद से एक बार फिर सवालों में आ गया है। यही वजह है कि अब पार्टी को तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन करना पड़ रहा है, जो उन सभी मसलों पर अपनी रिपोर्ट देगी जो दोनों विधायकों के विवादों से जुड़े हैं।

सीडी बन सकती है परेशानी का सबब

झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल की पत्नी के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस में की गई बयानबाजी खानपुर विधायक चैंपियन के समर्थकों पर भारी पड़ सकती है। प्रेस कांफ्रेंस की वीडियो वायरल होने के बाद ही इस मामले ने तूल पकड़ा था। अब इस मामले में हाईकोर्ट से भी आरोपियों को राहत मिलती नहीं दिख रही है। बताया गया है कि हाईकोर्ट ने प्रेस कांफ्रेंस की सीडी की ट्रांसलेट कॉपी तलब की है। ऐसे में वायरल वीडियो की सीडी आरोपियों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। बता दें कि झबरेड़ा के विधायक देशराज कर्णवाल की पत्नी वैजयंती माला ने बीती 25 मार्च सिविल लाइंस कोतवाली में कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के समर्थक पहल सिंह, फुरकान और पप्पू सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि चैंपियन के समर्थकों ने उनके और अनुसूचित समाज के लिए एक होटल में प्रेस कांफ्रेंस कर जातिसूचक शब्द कहे और उनको बदनाम करने की कोशिश की।