सीतापुर: भारी बा‍रिश के बीच भरभरा कर ढह गया मकान, मां और दो साल के मासूम बेटे की मौत  

 | 

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के सीतापुर में सोमवार को भारी बारिश के कारण एक मकान की छत और दीवारें ढह गयी। मलबे में दबकर मां बेटे की मौत हो गयी। हादसा सीतापुर के तालगांव में हुआ। ग्रामीणों ने घर गिरने और मां बेटे की सूचना पुलिस को दी जिस पर बिसवां के तहसीलदार मौके पर पहुंचे और जांच की। पुलिस ने शवों को पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा है।

chaitanya

तालगांव कोतवाली क्षेत्र के अंगेठा गांव निवासी रेनू देवी (25) पत्नी अरविंद कुमार सोमवार की सुबह अपने घर की सफाई कर रही थी। पड़ोस में उसका दो साल का बेटा प्रिंस भी मौजूद था। इसी बीच अचानक रेनू के चचेरे ससुर लल्लूराम का पक्का कमरा छत के दीवारों सहित ढह गया।

जिसके चलते पड़ोस में मौजूद रेनू देवी और उसका मासूम बेटा कमरे के मलबे में दब गया। यह देखकर आसपास मौजूद लोग दौड़े। शोरगुल सुनकर भारी संख्या में ग्रामीण भी एकत्र हो गए। आनन-फानन में लोगों ने दीवार का मलबा हटाया। दीवार का मलबा हटाने के बाद रेनू देवी और उसका बेटा मृत हालत में मिले हैं।

दोनों की मलबे में दबकर मौत हो चुकी थी। घटना के बाद लोगों ने पुलिस व तहसील प्रशासन को सूचना दी। घटना की खबर पाकर बिसवां तहसीलदार अविचल प्रताप सिंह, क्षेत्रीय लेखपाल मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम ने भी मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल व कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। तहसीलदार का कहना है कि जांच पड़ताल की गई है। मामले में आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।