पाकिस्तानी फैजान के संपर्क में था बरेली का तौहीद, एनआईए की पूछताछ में खुलासा

 | 

न्यूज टुडे नेटवर्क। नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने गजवा-ए-हिंद कट्टरपंथी माड्यूल मामले में बरेली के आंवला कस्बे में छापेमारी की है। यहां के तौहीद पेंटर नामक शख्स के पाकिस्तानी कनेक्शन सामने आने के बाद यह कार्रवाई की गई है। तौहीद कई साल से कराची के फैजान डोगर के संपर्क में था और पूर्व में दुबई में रह चुका है। कई घंटे उससे पूछताछ के बाद टीम ने मोबाइल व कई जरूरत दस्तावेज कब्जे में लिए हैं।

एनआईए ने पाकिस्तान से संचालित हो रहे कट्टरपंथी मॉड्यूल गजवा-ए-हिंद को लेकर बरेली, पटना और दरभंग में छापेमारे हैं। बरेली में एनआईए की टीम तड़के आंवला कस्बे के मुस्लिम बहुल मोहल्ला पक्का कटरा में पहुंची, जहां रहने वाला तौहीद पेंटर एजेंसी के निशाने पर आया। टीम ने तौहीद और उसके भाई से बंद कमरे में करीब पांच घंटे तक पूछताछ की। बताया जा रहा है कि पेंटर सोशल मीडिया और मोबाइल के माध्यम से पाकिस्तान में बात करता था।

छानबीन में पता लगा कि तौहीद आठवीं पास है और पुताई का काम करता है। उलझाऊ गतिविधियों की वजह से इलाके में वह खास चर्चित है। 2019 में पंजाब की एजेंसी के जरिए वह नौकरी करने दुबई गया था और करीब दो महीने वहां रहा। मेडिकल जांच में अनफिट होने पर उसको वापस भारत भेज दिया गया था। दुबई में रहने के दौरान उसने खूब घुमक्कड़ी की थी। दुबई की सैर के फोटो उसके सोशल मीडिया अकाउंट पर मौजूद हैं। उसने यूट्यूब पर किंग तौहीद खान नाम से चेनल भी बना रखा है। सोशल मीडिया पर उसके पाकिस्तानी कनेक्शन सामने आने के बाद एनआईए की टीम ने उसके यहां दबिश दी। लंबी पूछताछ के बाद टीम ने उसके यहां से कई चीजें कब्जे में ले ली हैं। आतंकी और राष्ट्रविरोधी साजिशों को लेकर बरेली बेहद संवेदनशील रहा है। आतंकी घटनाओं में संलिप्पतता के चलते बरेली के कई लोग पूर्व में गिरफ्तार भी हो चुके हैं।