वैष्णो देवी जाने वालों के लिए बड़ी खबर, बंद हो जाएगा 60 साल पुराना यात्रा पर्ची सिस्टम

 | 

न्यूज टुडे नेटवर्क ! वैष्णो देवी में 60 साल से चला रहा यात्रा पर्ची सिस्टम अब पूरी तरह से बंद हो जाएगा ! नया सिस्टम शुरू होने के बाद आपको यात्रा पर्ची की बजाय आरएफआईडी कार्ड लेना होगा ! यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर श्राइन बोर्ड की तरफ से लगातार कदम उठाए जा रहे हैं !

अगर आप माता वैष्णो देवी के दर्शन कर चुके हैं तो आपको पता होगा की यात्रा पर्ची के बिना श्रद्धालुओं को बाण गंगा पर प्रवेश नहीं दिया जाता ! यानी आपकी यात्रा का पहला पड़ाव यात्रा पर्ची लेकर बाण गंगा से प्रवेश करना है, लेकिन आने वाले समय में आपको दर्शन करने के लिए यात्रा पर्ची नहीं मिलेगी. ! जी हां, श्राइन बोर्ड यात्रा पर्ची की जगह नई टेक्नोलॉजी पर काम कर रहा है ! नई तकनीक लागू होने के बाद 60 साल से चली रही यात्रा पर्ची की परंपरा ख़तम हो जाएगी !

chaitanya

अगस्त से शुरू होगा नया सिस्टम

दरअसल, 1 जनवरी 2022 को भवन पर हुए हादसे के बाद श्राइन बोर्ड की तरफ से यात्रियों की सुरक्षा के लिए कई तरह के कदम उठाए जा रहे हैं ! उसमें से यात्री पर्ची की बजाय नई तकनीकयुक्त रेडियो फ्रिकवेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) सर्विस भी एक है ! नई आरएफआईडी सर्विस को august महीने से जरूरी कर दिया गया है ! यानी यदि आप दर्शन के लिए जाते हैं तो आपको यात्री पर्ची लेने की जरूरत नहीं होगी !

क्या है आरएफआईडी कार्ड ?

आरएफआईडी कार्ड पूरी तरह से चिपयुक्त है, जिसे सर्वर के साथ कनेक्ट किया जाएगा ! इसके लिए बाकायदा कंट्रोल रूम भी बनाया गया है ! कार्ड में श्रद्धालु की फोटो के साथ पूरी तरह की जानकारी दी गई होगी ! यात्रा शुरू करने से पहले श्राइन बोर्ड के यात्रा पंजीकरण काउंटर से आरएफआईडी कार्ड मिलेगा ! यात्रा पूरी होने के बाद इस कार्ड को श्रद्धालु को वापस करना होगा ! इस कार्ड को मेट्रो टोकन की तरह कई बार यूज किया जा सकता है !

दर्शन के बाद वापस करना होगा कार्ड

एक आरएफआईडी की कीमत 10 रुपये है, लेकिन श्राइन बोर्ड की तरफ से श्रद्धालुओं को यह निशुल्क free दिया जाएगा ! श्राइन बोर्ड ही इसका खर्चा उठाएगा ! आरएफआईडी कार्ड का टेंडर श्राइन बोर्ड ने पुणे की एक कंपनी को दिया है ! यदि आप ऑनलाइन पंजीकरण कराते हैं तो कटरा पहुंचने पर आपके फोन पर मैसेज आएगा कि आपको कितने बजे, किस काउंटर पर जाकर आरएफआईडी कार्ड लेना है ! इसके लिए वायरलैस फिडेलिटी फैसिलिटी विकसित की जा रही है !