उत्तरकाशी-अब इस मामले में चर्चा में आयी सीएम दरबार में हंगामा करने वाली शिक्षिका, हुई ये कार्रवाई

Slider

उत्तरकाशी-न्यूज टुडे नेटवर्क- मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के दरबार में हंगामा करने वाली शिक्षिका उत्तरा पंत बहुगुणा एक बार फिर चर्चाओं में आ गई है। बता दे कि विगत साल शिक्षिका उत्तरा बहुगुणा ने सीएम त्रिवेन्द्र रावत को भरी सभा मेंं खूब खरी-खरी सुनाई थी इसके जवाब में सीएम ने भी उस पर कार्रवाही को कहा था। इसके बाद यह सीएम और शिक्षिका का मामला खूब चर्चाओं में रहा। अब शिक्षिका को लेकर एक नई खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि नौगाव ब्लॉक के तीन राजकीय प्राथमिक विद्यालय में लंबे समय से गायब चल रही शिक्षिकाओं पर शिक्षा विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। इनमें दो सहायक अध्यापिका और एक प्रधानाध्यापिका शमिल है। इन शिक्षिकाओं को शिक्षा विभाग ने पहला नोटिस जारी कर दिया है। शिक्षा विभाग के अनुसार इन शिक्षिकाओं में शिक्षिका उत्तरा बहुगुणा पंत भी शामिल हैं।

[quads id=1]

Slider

तीन अनुपस्थित शिक्षकाओं को भेजा नोटिस

शिक्षा विभाग के अनुसार नौगाव ब्लॉक के राजकीय प्राथमिक विद्यालय पालुका की सहायक अध्यापिका सरिता तोमर चार जुलाई 2014 और राजकीय प्राथमिक विद्यालय धारी पल्ली की सहायक अध्यापिका बबिता बिष्ट अगस्त 2016 से अनुपस्थित चल रही हैं।

[quads id=2]

वही राजकीय प्राथमिक विद्यालय जेस्टवाड़ी की प्रधानाध्यापिका उत्तरा बहुगुणा 16 अगस्त 2017 से अवकाश पर हैं। तीनों ही शिक्षिकाओं ने अभी तक अपने विद्यालय में तैनाती नहीं दी है। इनमें उत्तरा बहुगुणा को उप खंड शिक्षा अधिकारी नौगाव कार्यालय और दो अन्य को विभाग ने नोटिस भेजा है। अभी पहला नोटिस भेजा गया है। इसके बाद दो नोटिस और दिए जाएंगे। अगर नहीं जागे तो इसके बाद पदमुक्त की कार्रवाई होगी।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें