Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड उत्तराखण्ड- कीजिए बद्रीनाथ धाम की यात्रा, ऐसे जाएं बद्रीनाथ

उत्तराखण्ड- कीजिए बद्रीनाथ धाम की यात्रा, ऐसे जाएं बद्रीनाथ

सीएम ने 10 लाख मीट्रिक टन धान का लक्ष्य रखा, जानिए किसानों को मिलेंगी क्या सुविधाएं

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरुवार को सचिवालय में खरीफ खरीद सत्र 2020-21 के लिए धान क्रय सम्बन्धी व्यवस्थाओं की समीक्षा की...

हल्द्वानी-दबंग मंत्री रेखा आर्य ने धो-धोकर सुनाई हरीश रावत को,सुनने वाले दंग रह गए

भाजपा सरकार की पशुपालन मंत्री रेखा आर्य के खिलाफ टिप्पणी करना पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को भारी पड़ गया है। रावत में...

रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत कल होगी, केंद्र सरकार के कृषि अध्यादेश का होगा विरोध

रुद्रपुर । केंद्र सरकार के अध्यादेशों के खिलाफ कल रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत होगी, जिसमें किसान नेता बीएम सिंह मौजूद रहेंगे । किसान...

सितारगंज के ये युवक करते थे अपवित्र काम पुलिस के हत्थे चढ़े तो कबूला सारा सच

संवाददाता- अनुराग शुक्ला स्थान- सितारगंज पुलिस व गोवंश स्क्वायड की संयुक्त टीम ने ग्राम बघोरी में छापा मारकर एक कुंटल प्रतिबंधित गौ मांस के साथ चार...

रुद्रपुर: हजारों लोगों में विधायक ठुकराल ने इस तरह जगाई उम्मीद की किरण

रुद्रपुर । ट्रांजिट कैंप इलाके में बसे लोगों को मालिकाना हक देने के लिए विधायक राजकुमार ठुकराल ने पहल शुरू की है । उन्होंने...
Uttarakhand Government

उत्तराखण्ड के चमोली जिले में स्थित अलकनन्दा नदी के तट पर बद्रीनाथ नाम से मशहूर एक हिन्दु मंदिर है यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। इस मंदिर का निर्माण लगभग 7वीं से 9वीं शताब्दी के मध्य में किया गया था मंदिर की लोकप्रियता व सुन्दरता के कारण हर साल यहां पर हजारो की संख्या में श्रद्धालु आते है। इसी कारण यह मंदिर एक महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल है। यहा के आस-पास के क्षेत्र को भी बद्रीनाथ नाम से ही जाना जाता है। बद्रीनाथ भारत के कुछ प्रमुख तीर्थस्थलों में एक है जोकि पवित्र चार धामों में से भी एक है।


Uttarakhand Government

लोकप्रियता व सुन्दरता के कारण प्रसिद्ध बद्रीनाथ धाम

Uttarakhand Government

इस पवित्र धाम में हिन्दुओं के देवता भगवान विष्णु की पूजा की जाती है तथा भौगोलिक द्रष्टि से यह पवित्र धाम समुद्र तल से 3,133 मीटर की ऊॅचाई पर स्थित है। बद्रीनाथ मंदिर के कपाट हिमालय की कठोर मौसमी स्थितियों के कारण वर्ष में केवल छः महीने खुलते है। मंदिर को बद्रीनारायण के नाम से भी जाना जाता है यहां वर्ष 2012 में सबसे अधिक 10.6 लाख यात्रियों के आने का रिकाॅर्ड दर्ज किया गया है। इस मंदिर में भगवान विष्णु की एक मीटर लम्बी मूर्ति स्थित है। जिसके बारे में बताया जाता है कि मूर्ति को शंकराचार्य ने नारद कुण्ड से निकाला था और स्थापित किया था।

Uttarakhand Government

कैसे पहुंचे बद्रीनाथ

बद्रीनाथ के सबसे समीपस्थ रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है जो यहां से मात्र 297 किमी. दूर स्थित है। ऋषिकेश भारत के प्रमुख शहरों जैसे मुंबई, दिल्ली और लखनऊ आदि से सीधे तौर पर रेलवे से जुड़ा है। दिल्ली से रेल द्वारा बद्रीनाथ पहुंचने के लिए दो रूट का प्रयोग यात्रियों द्वारा किया जा सकता है। दिल्ली से ऋषिकेश.287 किमी.दिल्ली से कोटद्वार.300 किमी. बद्रीनाथ के लिए सबसे नजदीक स्थित जोली ग्रांट एयरपोर्ट, देहरादून है जो वहां मात्र 314 किमी. की दूरी पर स्थित है। देहरादून से भारत के अन्य प्रमुख शहरों के लिए हवाई सेवा उपलब्ध है। बद्रीनाथ से सबसे समीप स्थित अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट इंदिरा गांधी एयरपोर्ट है।
उत्तरांचल स्टेट ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन दिल्ली ऋषिकेश के लिए नियमित तौर पर बस सेवा उपलब्ध कराता है। इसके अलावा प्राइवेट ट्रांसपोर्ट भी बद्रीनाथ सहित अन्य समीपस्थ हिल स्टेशनों के लिए बस सेवा मुहैया कराता है। प्राइवेट टैक्सी और अन्य साधनों को किराए पर लेकर ऋषिकेश से बद्रीनाथ आसानी से पहुंचा जा सकता है।

ठहरने की सुविधा

बद्रीनाथ और जोशीमठ दोनों स्थानों पर तीर्थयात्रियों के रुकने हेतु विभिन्न प्रकार के होटल और धर्मशालाएं सस्ती दर पर उपलब्ध है। होटल देवलोक, झुनझुनवाला कॉटेज, मोदी भवन, मित्तल कॉटेज, चंद कॉटेज, बद्रीश सदन, काली कमली धर्मशाला, जल निगम रेस्ट हाउस और फॉरेस्ट रेस्ट हाउस आदि यात्रियों के रूकने के लिए पर्याप्त स्थान उपल्ब्ध है। इनके अलावा यहां विभिन्न रियायती दरों पर प्राइवेट होट्ल्स भी उपलब्ध है।

Uttarakhand Government

Related News

सीएम ने 10 लाख मीट्रिक टन धान का लक्ष्य रखा, जानिए किसानों को मिलेंगी क्या सुविधाएं

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुरुवार को सचिवालय में खरीफ खरीद सत्र 2020-21 के लिए धान क्रय सम्बन्धी व्यवस्थाओं की समीक्षा की...

हल्द्वानी-दबंग मंत्री रेखा आर्य ने धो-धोकर सुनाई हरीश रावत को,सुनने वाले दंग रह गए

भाजपा सरकार की पशुपालन मंत्री रेखा आर्य के खिलाफ टिप्पणी करना पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को भारी पड़ गया है। रावत में...

रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत कल होगी, केंद्र सरकार के कृषि अध्यादेश का होगा विरोध

रुद्रपुर । केंद्र सरकार के अध्यादेशों के खिलाफ कल रुद्रपुर में किसानों की बड़ी पंचायत होगी, जिसमें किसान नेता बीएम सिंह मौजूद रहेंगे । किसान...

सितारगंज के ये युवक करते थे अपवित्र काम पुलिस के हत्थे चढ़े तो कबूला सारा सच

संवाददाता- अनुराग शुक्ला स्थान- सितारगंज पुलिस व गोवंश स्क्वायड की संयुक्त टीम ने ग्राम बघोरी में छापा मारकर एक कुंटल प्रतिबंधित गौ मांस के साथ चार...

रुद्रपुर: हजारों लोगों में विधायक ठुकराल ने इस तरह जगाई उम्मीद की किरण

रुद्रपुर । ट्रांजिट कैंप इलाके में बसे लोगों को मालिकाना हक देने के लिए विधायक राजकुमार ठुकराल ने पहल शुरू की है । उन्होंने...

अब उत्तराखंड में भी ले सकेंगे नीदरलैंड के सेब का स्वाद , इस जिले में होगी पैदावार

देवभूमि पहाड़ी फलों के उत्पादन के लिये हमेशा से ही जाना जाता है, यहां की पथरीली जमीन पौष्टिक फलों का उत्पादन करने में लोगों...
Uttarakhand Government