inspace haldwani
Home उत्तराखंड उत्तराखंड- रुड़की IIT में जल्द बनने जा रहा स्पेशल "आइहब", जाने क्यों...

उत्तराखंड- रुड़की IIT में जल्द बनने जा रहा स्पेशल “आइहब”, जाने क्यों है खास

रुद्रपुर में बच्चे ने दौड़ाई अनियंत्रित कार, जानिए फिर क्या हुआ

रुद्रपुर । आदर्श कालोनी में एक नाबालिग ने पिता की कार की चाबी लेकर कार स्टार्ट कर ली, नतीजा यह हुआ कि कार एक...

जसपुर- यहां फर्जी धान खरीद में पकड़ी पांच मिलें हुई प्रतिबंधित, अब प्रशासन करेगा ये बड़ी कार्यवाही

जसपुर में फर्जी हथकड़ों से धान की खरीद करने के मामले में पांच मिल प्रतिबंधित कर दी गई है, अब आरएफसी ने इन्हें व्यापार...

उत्‍तराखंड- सरकार ने 10वीं व 12वीं की कक्षाओं के संचालन के लिए जारी की एसओपी, अब इन नियमों के साथ शुरू होंगी कक्षाएं

प्रदेश भर में कोरोना वायरस के चलते स्कूल, काॅलेज व अन्य शैक्षणिक स्थान पिछले कई महीनों से बंद पडे़ है। ऐसे में सरकार द्वारा...

रुद्रपुर: देखिये जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार ने कैसे की गोद भराई की रस्म, क्या दीं जानकारियां

रुद्रपुर । जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार ने एक कार्यक्रम में गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की रस्म अदा की । साथ ही छह...

उत्तराखंड- (काम की खबर) नवोदय विद्यालय में ऑनलाइन प्रवेश प्रकिया शुरू, जानिये कैसे होगा आवेदन

उत्तराखंड में शहरी एंव ग्रामीण इलाकों के होनहार छात्रों के लिये एक बेहद महत्वपूर्ण खबर सामने आई है, दरअसल खबर यह है, कि जवाहर...

आइआइटी रुड़की को नेशनल मिशन ऑफ इंटर डिसिप्लिनरी साइबर-फिजिकल सिस्टम के तहत जल्द एक टेक्नोलॉजी हब मिलने जा रहा है। जोकि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से स्थापित किए जा रहे 25 केंद्रों में से एक होगा। आइहब नाम का यह केंद्र 356 मूलभूत प्रौद्योगिकियों के लिए वन-स्टॉप सॉल्यूशन का काम करेगा। जोकि

सात एप्लिकेशन जैसे.. डोमेन-हेल्थ रिसर्च, डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स, न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी, टेलीकम्युनिकेशन और एटॉमिक एनर्जी में ‘डिवाइस टेक्नोलॉजी एंड मटीरियल’ प्रोजेक्ट्स पर फोकस करेगा। इसकी शुरूआत के लिए स्वीकृत 135 करोड़ के अनुदान में से 7.25 करोड़ की धनराशि प्राप्त हो चुकी है।

IIT-Roorkee-news

सिस्टम्स और तकनीकों के लिए वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म

आइहब आइआइटी रुड़की के इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख प्रोफेसर सुदेब दासगुप्ता ने बताया कि साइबर-फिजिकल सिस्टम उन्नत तकनीकों का समावेशन है। यह नवाचार और उद्यमशीलता को बढ़ावा देने वाले पारिस्थितिकी तंत्र का भी निर्माण करेगा। बताया कि हब की परिकल्पना साइबर-फिजिकल सिस्टम्स और तकनीकों के लिए वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म के रूप में की गई है।

इस कदम से ज्ञान साझा एवं सहयोग करने, कार्यबल के कौशल विकास और रोजगार के अवसर बढ़ाने में मदद मिलेगी। उनकी माने तो इस हब के तहत आइआइटी रुड़की विभिन्न राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के शैक्षणिक और औद्योगिक भागीदारों के साथ सीपीएस से संबंधित कई उत्पादों को विकसित करने का काम करेगा।

Related News

रुद्रपुर में बच्चे ने दौड़ाई अनियंत्रित कार, जानिए फिर क्या हुआ

रुद्रपुर । आदर्श कालोनी में एक नाबालिग ने पिता की कार की चाबी लेकर कार स्टार्ट कर ली, नतीजा यह हुआ कि कार एक...

जसपुर- यहां फर्जी धान खरीद में पकड़ी पांच मिलें हुई प्रतिबंधित, अब प्रशासन करेगा ये बड़ी कार्यवाही

जसपुर में फर्जी हथकड़ों से धान की खरीद करने के मामले में पांच मिल प्रतिबंधित कर दी गई है, अब आरएफसी ने इन्हें व्यापार...

उत्‍तराखंड- सरकार ने 10वीं व 12वीं की कक्षाओं के संचालन के लिए जारी की एसओपी, अब इन नियमों के साथ शुरू होंगी कक्षाएं

प्रदेश भर में कोरोना वायरस के चलते स्कूल, काॅलेज व अन्य शैक्षणिक स्थान पिछले कई महीनों से बंद पडे़ है। ऐसे में सरकार द्वारा...

रुद्रपुर: देखिये जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार ने कैसे की गोद भराई की रस्म, क्या दीं जानकारियां

रुद्रपुर । जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार ने एक कार्यक्रम में गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की रस्म अदा की । साथ ही छह...

उत्तराखंड- (काम की खबर) नवोदय विद्यालय में ऑनलाइन प्रवेश प्रकिया शुरू, जानिये कैसे होगा आवेदन

उत्तराखंड में शहरी एंव ग्रामीण इलाकों के होनहार छात्रों के लिये एक बेहद महत्वपूर्ण खबर सामने आई है, दरअसल खबर यह है, कि जवाहर...

रुद्रपुर : गोद लिए गए अति कुपोषित बच्चे का स्वास्थ्य परीक्षण कराने एसएसपी पहुंचे अस्पताल

रुद्रपुर । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिलीप सिंह कुंवर ने जिला अस्पताल पहुंच कर गोद लिए गए अति कुपोषित बच्चे का स्वास्थ्य परीक्षण कराया । एसएसपी...