inspace haldwani
Home उत्तराखंड उत्तराखंड- अब हर जिले में पुलिस ऐसे करेगी जम्मू-कश्मीर के नागरिको की...

उत्तराखंड- अब हर जिले में पुलिस ऐसे करेगी जम्मू-कश्मीर के नागरिको की सुरक्षा, DG लॉ एंड आर्डर ने दिये ये निर्देश

नानकमत्ता: मुलाजिम ड्यूटी से ज्याला को हुआ था कोरोना संक्रमण, परिवार ने दूर से किए अंतिम दर्शन, जानिए काम के प्रति कितने संवेदनशील थे...

नानकमत्ता। थाने की प्रतापपुर चौकी में तैनात कांस्टेबल सुरेंद्र सिंह ज्याला के शव को परिवार वाले निकट से देख तक नहीं पाए। उनके निधन...

उत्तराखंड- प्राथमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर अद्यापकों की होगी भर्ती, शिक्षा सचिव ने जारी किये आदेश

प्रदेश भर के कई विद्यालयों में इस समय शिक्षकों की समुचित व्यवस्था नही है, ऐसे में अब स्कूलों में शिक्षकों की व्यवस्था करने की...

देहरादून- ऑनलाइन हुआ उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय, सीएम त्रिवेन्द्र ने की इन कार्यों की घोषणाएं

उत्तराखंड में 37 ऑफिसो को ई-ऑफिस प्रणाली से जोड़े जाने के बाद अब उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय भी ऑनलाइन होगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत...

उत्तराखंड- उड़ान योजना में बनने वाले हेलीपैडों के बदले जाएंगे नियम, इसलिए हो रहा बदलाव

उड़ान योजना के तहत बनने वाले हेलीपैड के मानक अब प्रदेश में बदले जाएंगे। कड़े मानकों के कारण हेलीपैड बनाने में खासी दिक्कतें आ...

दिनेशपुर: शिकारी असलहा व प्रतिबंधित मास के साथ गिरफ्तार

दिनेशपुर। थाना पुलिस एक युवक को गिरफ्तार करके उसके पास से एक तमंचा, दो कारतूस जिंदा व ढाई किलो जंगली हिरण का मांस बरामद किया...

राज्य में रह रहे जम्मू-कश्मीर के नागरिक और छात्र-छात्राओं की सुरक्षा के लिए उत्तराखंड पुलिस प्रशासन ने नई योजना तैयार की है। जिसके तहत हर जिले में जम्मू-कश्मीर के नारिकों की समस्याओं के समाधान के लिए पुलिस मुख्यालय में एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाएगा। यह नोडल अधिकारी जिले के अपर पुलिस अधीक्षक को बनाया जाएगा।

जानकारी मुताबिक राजधानी देहरादून में अधिकारी की नियुक्ती कर दी गई है। जबकि अन्य जिलों में एसएसपी व एसपी को नोडल अधिकारी नियुक्त करने को कहा गया है। बता दें बीते दिनों जम्मू-कश्मीर स्टूडेंट्स एसोसिएशन ने पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार से मिलकर अपनी समस्याएं भी रखी थीं।

सभी जिले के कप्तानों को दिये ये निर्देश

डीजी अशोक कुमार के मुताबिक राज्य में जम्मू-कश्मीर के छात्र-छात्राओं पर हमला, धमकी, उत्पीड़न, सामाजिक बहिष्कार की घटनायें सामने आती रहती है। जिसको देखते हुए पुलिस प्रशासन ने यह निर्णय लिया है। उन्होंने जानकारी दी कि देहादून में ऐसे कार्य करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अपर पुलिस अधीक्षक शिकायत प्रकोष्ठ ममता वोहरा को नोडल अधिकारी नामित किया गया है।

इसके साथ ही उन्होंने अन्य जिलों के पुलिस कप्तानों को निर्देशित करते हुए अपने-अपने जिले में जम्मू-कश्मीर के नागरिकों की सुरक्षा के लिए ठोस कदम उठाने की बात कही है। डीजी अशोक कुमार ने ऐसी घटनाओं की रिपोर्ट और उन पर की गई कार्रवाई की जानकारी भी पुलिस मुख्यालय में नियुक्त नोडल अधिकारी को उपलब्ध कराने को कहा है।

Related News

नानकमत्ता: मुलाजिम ड्यूटी से ज्याला को हुआ था कोरोना संक्रमण, परिवार ने दूर से किए अंतिम दर्शन, जानिए काम के प्रति कितने संवेदनशील थे...

नानकमत्ता। थाने की प्रतापपुर चौकी में तैनात कांस्टेबल सुरेंद्र सिंह ज्याला के शव को परिवार वाले निकट से देख तक नहीं पाए। उनके निधन...

उत्तराखंड- प्राथमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर अद्यापकों की होगी भर्ती, शिक्षा सचिव ने जारी किये आदेश

प्रदेश भर के कई विद्यालयों में इस समय शिक्षकों की समुचित व्यवस्था नही है, ऐसे में अब स्कूलों में शिक्षकों की व्यवस्था करने की...

देहरादून- ऑनलाइन हुआ उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय, सीएम त्रिवेन्द्र ने की इन कार्यों की घोषणाएं

उत्तराखंड में 37 ऑफिसो को ई-ऑफिस प्रणाली से जोड़े जाने के बाद अब उत्तराखंड वन विभाग मुख्यालय भी ऑनलाइन होगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत...

उत्तराखंड- उड़ान योजना में बनने वाले हेलीपैडों के बदले जाएंगे नियम, इसलिए हो रहा बदलाव

उड़ान योजना के तहत बनने वाले हेलीपैड के मानक अब प्रदेश में बदले जाएंगे। कड़े मानकों के कारण हेलीपैड बनाने में खासी दिक्कतें आ...

दिनेशपुर: शिकारी असलहा व प्रतिबंधित मास के साथ गिरफ्तार

दिनेशपुर। थाना पुलिस एक युवक को गिरफ्तार करके उसके पास से एक तमंचा, दो कारतूस जिंदा व ढाई किलो जंगली हिरण का मांस बरामद किया...

उत्तराखंड- स्कूल खुलने से पहले शिक्षा मंत्री ने जारी किये ये निर्देश, छात्रों की सुरक्षा के लिए स्कूल और ब्लॉक स्तर पर बनेंगी टीमें

प्रदेश में दो नवंबर से 10वीं एवं 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल खुलने जा रहे हैं। कोरोना काल के खतरों को देखते हुए...