inspace haldwani
Home उत्तराखंड उत्तराखंड- अब ऐसे होगा घर की छत में भी मछली पालन, प्रधानमंत्री...

उत्तराखंड- अब ऐसे होगा घर की छत में भी मछली पालन, प्रधानमंत्री की इस योजना से मिलेगा लाभ

देहरादून – अब सायरा बानो भी करेंगी महिलाओं के साथ न्याय, सीएम ने दी ये बड़ी जिम्मेदारी

देहरादून - महिलाओं की लड़ाई लड़ने वाली सायरा बानो को आज नवरात्र के अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बड़ा तोहफा दिया है...

किच्छा: जहाँ मामा की लाश लटकी मिली, वहीं मिला दो वर्षीय भांजे का शव, कई अनसुलझे सवाल हैं इस कांड में

रुद्रपुर । किच्छा-हल्द्वानी मार्ग पर गत दिवस जिस युवक का शव एक पेड़ पर लटका हुआ मिला था, आज शाम उसके दो वर्षीय भांजे...

हरिद्वार- भीख मांगने वाली हंसी से मिलने पहुंची राज्य मंत्री रेखा आर्य, इस विभाग में किया नौकरी देने का वादा

अल्मोड़ा जिले की हंसी के हरिद्वार में भिक्षा मांगने की खबर अमर उजाला में छपने के बाद मंगलवार को राज्य मंत्री रेखा आर्य उनसे...

रुद्रपुर: पार्षद प्रकाश धामी हत्या कांड के शूटर ने पुलिस को दे दिया गच्चा, जानिए कैसे पुलिस अभिरक्षा से हुआ फरार

रुद्रपुर । पार्षद प्रकाश धामी की हत्या में शामिल एक शूटर पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया, जिससे पुलिस की बड़ी नाकामी सामने...

रुद्रपुर: पुराने कांग्रेसी खेड़ा के निधन पर शोक व्यक्त करने पहुंचे प्रीतम सिंह और इंदिरा हृदयेश

रुद्रपुर पार्षद व कांग्रेसी नेता मोहन खेड़ा के पिता सुग्रीव लाल खेड़ा के देहांत होने की खबर सुनकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह व...

अब घरों की छत और अन्य छोटी जगहों में भी मछली पालन का कार्य किया जायेगा। दरअसल प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत अब मछली पालकों को मत्स्य उद्योग में सब्सिडी से बेहद लाभ दिया जायेगा। यह सब्सिडी सामान्य वर्ग को 40 प्रतिशत, एससी-एसटी और महिलाओं को 60 प्रतिशत तक दी जाएगी। प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत अब मछली पालन में बायोफ्लोक तकनीक का इस्तेमाल किया जायेगा। जिसके तहत बिना तालाब निर्माण किए छत और छोटी सी जगह में भी मछली पालन हो सकेगा। इस तकनीक का इस्तेमाल करके लोग कम लागत में अधिक मुनाफा कमाएंगे।

मत्स्य निरीक्षक रविंद्र कुमार ने बताया कि जिले में बायोफ्लोक तकनीक से किसानों को मत्स्य पालन का प्रशिक्षण देने के लिए गदरपुर के बौर फिश फार्म में ट्रेनिंग सेंटर बनाया जाएगा। उन्होने कहा कि मछली पालन में बायोफ्लोक तकनीक से पालिमर शीट के सर्कुलर टैंक स्थापित किए जाएंगे। टैंक मात्र 132 स्क्वायर मीटर जगह घेरेंगे।इसमें 15 हजार लीटर तक पानी भरा जा सकता है। एक टैंक से तीन टन तक मछलियों का उत्पादन किया जा सकेगा।

तकनीक के द्वारा पानी की भी बचत होगी। आपको बता दें कि मछली पालन के लिए एक हेक्टेयर की भूमि में तालाब होना जरूरी होता है। जिसमें कई लोगों के पास भूमि न होने के कारण वे मछली पालन नहीं कर पाते हैं। लेकिन अब ऐसा नही होगा, अब बायोफ्लोक तकनीक का इस्तेमाल करके छोटी सी जगहों में भी लोग रोहू, कत्ला, नैन, सिल्वर कार्प, कॉमन कार्प मछलियों का पालन किया जा सकेगा। यह योजना मछली पालकों के लिये बेहद फायदेमंद है।

 

Related News

देहरादून – अब सायरा बानो भी करेंगी महिलाओं के साथ न्याय, सीएम ने दी ये बड़ी जिम्मेदारी

देहरादून - महिलाओं की लड़ाई लड़ने वाली सायरा बानो को आज नवरात्र के अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बड़ा तोहफा दिया है...

किच्छा: जहाँ मामा की लाश लटकी मिली, वहीं मिला दो वर्षीय भांजे का शव, कई अनसुलझे सवाल हैं इस कांड में

रुद्रपुर । किच्छा-हल्द्वानी मार्ग पर गत दिवस जिस युवक का शव एक पेड़ पर लटका हुआ मिला था, आज शाम उसके दो वर्षीय भांजे...

हरिद्वार- भीख मांगने वाली हंसी से मिलने पहुंची राज्य मंत्री रेखा आर्य, इस विभाग में किया नौकरी देने का वादा

अल्मोड़ा जिले की हंसी के हरिद्वार में भिक्षा मांगने की खबर अमर उजाला में छपने के बाद मंगलवार को राज्य मंत्री रेखा आर्य उनसे...

रुद्रपुर: पार्षद प्रकाश धामी हत्या कांड के शूटर ने पुलिस को दे दिया गच्चा, जानिए कैसे पुलिस अभिरक्षा से हुआ फरार

रुद्रपुर । पार्षद प्रकाश धामी की हत्या में शामिल एक शूटर पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया, जिससे पुलिस की बड़ी नाकामी सामने...

रुद्रपुर: पुराने कांग्रेसी खेड़ा के निधन पर शोक व्यक्त करने पहुंचे प्रीतम सिंह और इंदिरा हृदयेश

रुद्रपुर पार्षद व कांग्रेसी नेता मोहन खेड़ा के पिता सुग्रीव लाल खेड़ा के देहांत होने की खबर सुनकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह व...

रुद्रपुर: फर्जीवाड़े का भंडाफोड़ करने वाले के घर की हो रही रैकी, जानिए कौन बना जान का दुश्मन और पुलिस क्यों बरत रही...

रुद्रपुर । जिला पंचायत उपाध्यक्ष की शिकायत करने वाले कालीनगर निवासी किशोर हालदार को अब अपनी जान का खतरा सता रहा है । उन्होंने...