inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड उत्तराखंड- शराब कारोबारियों को भारी पड़ रहा सरकार का दिया ये लक्ष्य,...

उत्तराखंड- शराब कारोबारियों को भारी पड़ रहा सरकार का दिया ये लक्ष्य, अब आबकारी विभाग ने शासन से मांगी मदद

रुद्रपुर: प्रशिक्षु आईपीएस की टीम पर हुई फायरिंग तो इस तरह दगा दे गए पुलिस के असलहे, जानिए क्या हुआ

रुद्रपुर। बाजपुर थाना क्षेत्र के ग्राम मुड़ियामनी में एक विवाह समारोह में एक व्यक्ति की कनपटी पर पिस्टल रखने की शिकायत पर एक प्रशिक्षु...

रुद्रपुरः संविधान दिवस पर पूर्व पालिकाध्यक्ष ने क्यों की प्रशासन की निंदा

रुद्रपुर। उत्तराखंड प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की वरिष्ठ उपाध्यक्ष और रुद्रपुर नगर पालिका परिषद की पूर्व चेयरपर्सन श्रीमती मीना शर्मा ने राष्ट्रीय संविधान दिवस...

रुद्रपुर: शिव व रामपाल ने इस तरह याद किया अंबेडकर को

रुद्रपुर। भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा, मेयर रामपाल सिंह एवं देवभूमि व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष गुरमीत सिंह ने गुरुवार को संविधान दिवस पर बाबा साहब भीमराव...

रुद्रपुर से दिल्ली जा रहे किसानों को पुलिस ने रोका तो हुआ यह अंजाम

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस ने...

रुद्रपुर: किसानों के समर्थन में इसलिए धरने पर बैठे पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़

रुद्रपुर। पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ ने धान खरीद केंद्रों पर किसानों का धान न खरीदे जाने के विरोध में कलेक्ट्रेट पर धरना दिया। उनका...

उत्तराखंड सरकार को सबसे अधिक राजस्व देने वाला आबकारी विभाग इस साल निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने स्थिती में नज़र नहीं आ रहा है। यही कारण आबकारी विभाग ने शासन से इस वर्ष के लिए निर्धारित 3250 करोड़ रुपये के राजस्व लक्ष्य को 3000 करोड़ रुपये करने का अनुरोध किया है। हालांकि, इस संबंध में अभी तक शासन से अनुमति नहीं मिली है। स्थिति यह है कि इस वर्ष आबकारी महकमा अभी तक कुल दुकानों में से 98 दुकानों का आवंटन नहीं कर पाया है।

34 दुकानों के लिए नहीं मिला कोई खरीददार

उत्तराखंड में आबकारी महकमे से सरकार को अच्छा खासा राजस्व मिलता है। यही कारण रहा कि सरकार ने इस साल शराब और बियर की दुकानों की संख्या बढ़ाते हुए 659 दुकानों को आवंटित करने का निर्णय लिया गया है। बीते वर्ष यह संख्या 619 थी। सभी दुकानों का आवंटन हो सके, इसके लिए विभाग ने बीते वर्ष के ऑनलाइन के स्थान पर लॉटरी सिस्टम अपनाया। पहले भी इसी तरीके से ही दुकानों का आवंटन होता था। मगर इस बार इसका बहुत अधिक फायदा विभाग को नहीं मिला। कुल दुकानों में से 132 दुकानें ऐसी रह गई थी, जिनके लिए कोई खरीददार नहीं मिले। वही कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन के चलते दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया दोबारा नहीं हो पाई।

Haldwani wine paddler arrested

अनलॉक वन के बाद विभाग ने फिर से दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया चलाई। इसके लिए फिर से आवेदन मांगे गए। बावजूद इसके 132 में से केवल 34 दुकानें ही उठ पाई। वही अब जब वित्तीय वर्ष समाप्त होने में पांच माह शेष हैं। लिहाजा यह लक्ष्य फिलहाल पूरा होता नजर नहीं आ रहा है। इसीलिए विभाग ने शासन से इस लक्ष्य को कम करने का अनुरोध किया है। मौजूदा समय में विभाग को केवल 1450 करोड़ रुपये राजस्व ही शराब ब्रिकी से प्राप्त हुआ है। आबकारी आयुक्त सुशील कुमार ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि बावजूद इसके विभाग राजस्व बढ़ाने को पूरा प्रयास कर रहा है। उम्मीद है कि बीते वर्ष आबकारी को जितना लक्ष्य मिला था, विभाग उस लक्ष्य को पा लेगा।

Related News

रुद्रपुर: प्रशिक्षु आईपीएस की टीम पर हुई फायरिंग तो इस तरह दगा दे गए पुलिस के असलहे, जानिए क्या हुआ

रुद्रपुर। बाजपुर थाना क्षेत्र के ग्राम मुड़ियामनी में एक विवाह समारोह में एक व्यक्ति की कनपटी पर पिस्टल रखने की शिकायत पर एक प्रशिक्षु...

रुद्रपुरः संविधान दिवस पर पूर्व पालिकाध्यक्ष ने क्यों की प्रशासन की निंदा

रुद्रपुर। उत्तराखंड प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की वरिष्ठ उपाध्यक्ष और रुद्रपुर नगर पालिका परिषद की पूर्व चेयरपर्सन श्रीमती मीना शर्मा ने राष्ट्रीय संविधान दिवस...

रुद्रपुर: शिव व रामपाल ने इस तरह याद किया अंबेडकर को

रुद्रपुर। भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा, मेयर रामपाल सिंह एवं देवभूमि व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष गुरमीत सिंह ने गुरुवार को संविधान दिवस पर बाबा साहब भीमराव...

रुद्रपुर से दिल्ली जा रहे किसानों को पुलिस ने रोका तो हुआ यह अंजाम

रुद्रपुर । किसान विरोधी अध्यादेशों के खिलाफ प्रदर्शन करने दिल्ली जा रहे तराई के किसानों को रुद्र बिलास चीनी मिल के पास पुलिस ने...

रुद्रपुर: किसानों के समर्थन में इसलिए धरने पर बैठे पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़

रुद्रपुर। पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ ने धान खरीद केंद्रों पर किसानों का धान न खरीदे जाने के विरोध में कलेक्ट्रेट पर धरना दिया। उनका...

देहरादून – प्रदेश में परवान चढ़ने लगी पिरूल से बिजली बनने की योजना, अब 25 नए प्रोजेक्ट खोलने की तैयारी

देहरादून- प्रदेश में पिरुल से बिजली बनाने की योजना अब परवान चढ़ने लगी है। उत्तराखंड रिनिवेबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी(उरेडा) की इस योजना के तहत...