drishti haldwani

उत्तराखंड -अल्मोड़ा के आरपी सनवाल बने बीएसएफ (BSF) के महानिरीक्षक, मिली बड़ी जिम्मेदारी

736

सीमा सुरक्षा बल (BSF) –  देश दुनिया में उत्तराखंड का नाम रोशन करने वालों में आज अल्मोड़ा के आरपी सनवाल का नाम भी शामिल हो गया। उन्हें सीमा सुरक्षा बल (BSF) के महानिरीक्षक की जिम्मेदारी सौंपी गई है। देश की रक्षा की बागडोर कई उत्तराखंडवासियों के हाथों में हैं बात चहे सेना प्रमुख बिपिन रावत की हो या फिर अजीत डोभाल की या धस्माना की। इसी के साथ देश की सेवा में उत्तराखंड के कई बेटे देश की सीमा पर रहकर दुश्मनों के छक्के छुड़ा रहे है, जो कि प्रदेश के लिए गर्व की बात है।

iimt haldwani

bsf33

आरपी सनवाल ने बढ़ाया उत्तराखंड का मान

अल्मोड़ा के आरपी सनवाल को सीमा सुरक्षा बल  (BSF) का महानिरीक्षक की जिम्मेदारी सौंपी गई है। आरपी सनवाल 1984 में सीमा सुरक्षा बल से जुडक़र देश की सेवा करनी शुरू की थी और 35 वर्षों की इस सर्विस में आरपी सनवाल ने देश के लिए ऐसे काम किए जिन पर उन्होंने जीत हासिल की।

bsf

आरपी सनवाल की उपलब्धियां

  • आरपी सनवाल ने पश्चिम बंगाल में गोरखा समस्या, बिहार झारखंड में नक्सल समस्या के साथ ही जम्मू-कश्मीर तथा त्रिपुरा में सक्रिय उग्रवादी आंदालनों का सफाया करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। गुजरात में रिजर्व पुलिस ने हड़ताल किए जाने पर उन्हीं को इस समस्या से निपटने के लिए लगाया गया और उन्होंने इसे बखूबी काबू भी किया।
  • आरपी सनवाल एक प्रशिक्षित पर्वतारोही भी हैं, आरपी सनवाल ने माउंटेनियरिंग का बेसिक और एडवांस दोनों कोर्स किया है। उन्होंने बीएसएफ के पर्वतारोहण अभियान के अंतर्गत हरदेवल और त्रिशूल पर्वत पर फतेह पाई। वह एक क्वालिफाइड कामांडो भी रहे हैं और उन्हें ब्लैक कैट कमांडो एनएसजी के साथ भी सेवा करने का अवसर मिला है। उन्हें कई प्रशस्ति पत्र, राष्ट्रपति द्वारा पुलिस पदक आदि से सम्मानित किया गया है।
  • आरपी सनवाल इससे पहले मुख्यालय मिजोरम एवं कछार फ्रंटियर सीमा सुरक्षा बल सहित मासिमपुर परिसर के सबसे वरिष्ठ उपमहानिरीक्षक के साथ प्रधान स्टाफ अधिकारी के पद पर तैनात थे।