Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश UP: अब से कॉमर्शियल बिजली कनेक्शन की एनओसी इतने सालों के लिए...

UP: अब से कॉमर्शियल बिजली कनेक्शन की एनओसी इतने सालों के लिए होगी मान्य, पढ़ें पूरी खबर

कंगना रनौत ने अनुराग कश्यप पर लगाए आरोप, कहीं ये बात

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Actress Kangana Ranaut) के बीच घमासान जारी है। कंगना रनौत ने अब पायल घोष मामले में अनुराग कश्यप पर निशाना...

कोरोना संक्रमण के चलते 21 सितंबर से यूपी में नहीं खुलेंगे स्कूल

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के बीच 21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों (Students) के लिए स्कूल नहीं खोले जाएंगे।...

यूपी सरकार ने शिक्षकों को दी बड़ी राहत, अंतर्जनपदीय तबादलों पर लगी रोक हटाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अंतर्जनपदीय तबादलों (Transfer) पर लगी रोक हटा दी। बेसिक शिक्षा विभाग के अध्यापकों को इससे...

सुशांत सिंह राजपूत ने मौत से एक हफ्ते पहले निकाले थे इतने रुपये, सामने आया कैश ट्रांजैक्शन

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत हुए तीन महीने से ज्यादा का समय हो गया है। इस केस की जांच सीबीआई, ईडी...

यूपी के कई राज्यों में चलेगा एनडीडी अभियान, अभियान के तहत बच्चों को खिलाई जाएगी ये दवा

प्रदेश में हर वर्ष कृमि मुक्त अभियान (Worm Free Campaign) का आयोजन होता रहा ।है इस वर्ष कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के कारण यह...

विद्युत सुरक्षा निदेशालय में फर्मों का नवीनीकरण (Renewal) अब हर साल नहीं होगा। अब से कॉमर्शियल बिजली कनेक्शन की एनओसी (NOC) तीन साल के लिए मान्य होगी। सरकार के नये आदेश के बाद उद्योगपतियों को अपने फर्मों का बिजली सुरक्षा का नवीनीकरण पांच साल में कराना होगा। बिजली उपभोक्ता एनओसी रिन्युअल के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online Application) कर सकता है, ताकि लोगों को बाबुओं के चक्कर न लगाना पड़े।

लेसा अधिकारियों के मुताबिक राजधानी में चल रहे 60 प्रतिशत होटलों के पास विद्युत सुरक्षा निदेशालय से मिलने वाली एनओसी नहीं है, जिनके पास है, उन्होंने एनओसी रिन्युअल कराने की जरूरत नहीं समझी। नतीजतन हर साल शॉर्ट सर्किट (short circuit) से विद्युत दुर्घटनाएं होती है। चारबाग, लाटुश रोड, अमीनाबाद, नाका हिंडोला, हुसैनगंज व पुराने लखनऊ में ऐसे होटलों की भरमार है।

http://www.narayan98.co.in/

Uttarakhand Government

Narayan College

https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

एनओसी के फायदे
विद्युत सुरक्षा निदेशालय के डिप्टी डायरेक्टर शत्रुघन सिंह ने बताया कि टीम जांच के दौरान उन सभी बिन्दुओं को देखती हैं, जहां से आग लगने की संभावना होती है। जांच के दौरान विद्युत सुरक्षा निदेशालय (Directorate of electrical safety) के अभियंता उन उपकरणों को बदलने के लिए कहते हैं, जिनकी उम्र पूरी हो चुकी है। इसके बाद यदि उपभोक्ता उन कमियों को जब दूर करवा लेता है। तब टीम उन्‍हें एनओसी देती है।

Related News

कंगना रनौत ने अनुराग कश्यप पर लगाए आरोप, कहीं ये बात

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Actress Kangana Ranaut) के बीच घमासान जारी है। कंगना रनौत ने अब पायल घोष मामले में अनुराग कश्यप पर निशाना...

कोरोना संक्रमण के चलते 21 सितंबर से यूपी में नहीं खुलेंगे स्कूल

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के बीच 21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों (Students) के लिए स्कूल नहीं खोले जाएंगे।...

यूपी सरकार ने शिक्षकों को दी बड़ी राहत, अंतर्जनपदीय तबादलों पर लगी रोक हटाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अंतर्जनपदीय तबादलों (Transfer) पर लगी रोक हटा दी। बेसिक शिक्षा विभाग के अध्यापकों को इससे...

सुशांत सिंह राजपूत ने मौत से एक हफ्ते पहले निकाले थे इतने रुपये, सामने आया कैश ट्रांजैक्शन

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत हुए तीन महीने से ज्यादा का समय हो गया है। इस केस की जांच सीबीआई, ईडी...

यूपी के कई राज्यों में चलेगा एनडीडी अभियान, अभियान के तहत बच्चों को खिलाई जाएगी ये दवा

प्रदेश में हर वर्ष कृमि मुक्त अभियान (Worm Free Campaign) का आयोजन होता रहा ।है इस वर्ष कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के कारण यह...

कोरोना महामारी के बीच आयोजित होती परीक्षाओं पर छात्रों ने सोशल मीडिया पर छेड़ी जंग, की यूपीएससी प्रीलिम्स परीक्षा स्थगित करने की मांग

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन इसके बीच विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। छात्रों...