शाहजहांपुर : अनूठी मिसाल – यूपी का ये मुस्लिम परिवार जपता है राम-राम, शादी के कार्ड पर छपवाई भगवान राम-सीता की तस्वीर

15

शाहजहांपुर-न्यूज टुडे नेटवर्क : निमंत्रण कार्ड तो आपने बहुत देखे होंगे, लेकिन जिले का ऐसा निमंत्रण कार्ड जिसकी हर कोई तारीफ कर रहा है। दरअसल बात हो रही है एक मुस्लिम परिवार द्वारा बेटी की शादी के लिए दिए जाने वाले निमंत्रण कार्ड की। इस कार्ड पर भगवान राम-सीता के स्वयंवर की तस्वीर छपवा कर इस परिवार ने हिंदू -मुस्लिम एकता की अनूठी मिसाल पेश की है।

ram

राम सीता के स्वयंवर की फोटो

लोस चुनाव 2019 में एक तरफ धर्म के नाम पर राजनीतिक रोटियां सेंकी जा रही हैं वहीं उत्तर प्रदेश शाहजहांपुर के अल्लागंज थानाक्षेत्र के चिलौआ गांव में रहने वाले इबारत अली की बेटी की 30 अप्रैल को अल्लाहगंज निवासी सोनू के बेटे के साथ शादी होनी है। भगवान राम में आस्था रखने वाले इबारत अली ने बेटी की शादी में न्यौता देने के लिए निमंत्रण पत्र में मक्का मदीना या मुस्लिम धर्म के फोटो ना छपवा कर भगवान राम और सीता के स्वयंबर की फोटो छपवाई है। रहमत अली के परिवार का कहना है कि मुस्लिम होने से पहले वह एक हिन्दुस्तानी हैं।

muslim-

मंदिर में देवी मां को पहला कार्ड चढ़ाया

इबादत अली ने बताया कि चिलौआ गांव में 1800 की हिन्दू आबादी है । गांव में अकेले उनका ही मुस्लिम परिवार रहता है परंतु ‘‘हिंदुओं ने हमें कभी भी एहसास नहीं होने दिया कि हम मुस्लिम हैं ।’’ उन्होंने बताया कि वह हिन्दू—मुस्लिम दोनों धर्मों को मानने वाले व्यक्ति हैं इसीलिए गांव के प्रसिद्ध देवी मंदिर में उन्होंने सबसे पहले अपनी बेटी का निमंत्रण पत्र चिलौआ देवी माता को अर्पित किया है। फिलहाल मुस्लिम परिवार के घर में होने वाली शादी के निमंत्रण कार्ड पर भगवान राम और सीता का फोटो पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।