Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तराखंड देहरादून-इस योजना के तहत उठा सकते है मुफ्त इलाज का फायदा, बस...

देहरादून-इस योजना के तहत उठा सकते है मुफ्त इलाज का फायदा, बस डायल करना होगा ये नंबर

हल्द्वानी ।आम्रपाली ने छात्र हित में लिए कई फैसले, जानिए क्या मिली हैं सुविधाएं

हल्द्वानी । आम्रपाली ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूटस के सीईओ0 डा0 संजय ढींगरा ने बताया कि कोविड संकट और केन्द्र की नई शिक्षा नीति को देखते...

उत्तराखंड- अब इस मीटर के जरिये बिजली का बिल आयेगा बेहद कम, जानिये ऊर्जा निगम की ये योजना

ऊर्जा निगम ने एक नई योजना जारी की गई है, जो बिजली उपभोक्ताओं के लिये बेहद फायदेमंद है। अगर आप भी अनपे घर में...

हल्द्वानी- कोरोना को हराकर घर लौटी नेता प्रतिपक्ष, जनता के लिए दिया ये खास संदेश

उत्तराखंड की नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश की बीते दिनों कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। लगातार जन सेवा करते हुए वह कोरोना संक्रमित हो गईं...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम के दौरान चीन को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बांगरमऊ की एक राइस मिल में सोमवार आयोजित कार्यक्रम में कहा चीन के विषय में बात की...

कंगना रनौत के ऑफिस में तोड़फोड़ को लेकर हाईकोर्ट ने बीएमसी की लगाई फटकार और कही ये बात

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की ऑफिस में तोड़फोड़ के लेकर सोमवार को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) ने बीएमसी की फटकार लगाई...
Uttarakhand Government

देहरादून-न्यूज टुडे नेटवर्क-आयुष्मान योजना के तहत राज्य सरकार अभी तक 152 अस्पतालों को सूचिबद्ध कर चुकी है। जिनमें 97 अस्पताल सरकारी हैं जबकि बाकि अस्पताल प्राइवेट हैं। इस योजना के तहत एक परिवार को साल में पांच लाख का निशुल्क इलाज दिया जाएगा। इसका लाभ एक व्यक्ति या मिलकर पूरा परिवार ले सकता है। गौरतलब है कि आयुष्मान भारत योजना आम आदमी के लिए बहुत फायदेमंद है। सभी जिला अस्पताल, सीएमओ कार्यालय व सीएससी को पात्रता सूची उपलब्ध कराई हैं। इसके अलावा हेल्प लाइन से भी योजना की जानकारी ली जा सकती है। जल्द सरकारी कर्मचारियों को भी योजना से जोड़ा जा रहा है। यह सूची जिला अस्पताल के अलावा मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय और राज्य भर के कॉमन सर्विस सेंटरों में भी मौजूद है। यदि ये सभी सुविधाएं दूर हैं


Uttarakhand Government

Uttarakhand Government

डायल करना होगा 104 हेल्प लाइन

आप अटल आयुष्मान योजना के दायरे में आते हैं या नहीं यह जानने के लिए 104 हेल्प लाइन पर फोन कर सकते हैं। हेल्प लाइन आपका स्टेटस बताने के साथ ही इम्पैनल्ड अस्पतालों की भी जानकारी देगी। इसके अलावा कॉमन सर्विस सेंटर और अस्पतालों से भी योजना की जानकारी ली जा सकती है। वही राज्य में यह योजना अटल आयुष्मान नाम से संचालित हो रही है। पहले चरण में पांच लाख 37 हजार परिवार योजना के दायरे में हैं। तो 104 हेल्प लाइन पर फोन कर जानकारी ली जा सकती है। वही आयुष्मान योजना के तहत अस्पताल में इलाज के लिए राशन कार्ड, पहचान पत्र और अपना मोबाइल नम्बर जरूर साथ रखें। अस्पताल इसी आधार पर यह पता लगाएगा कि पात्रता सूची में नाम है या नहीं। पात्र मरीज को इन्हें के आधार पर अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है।

Uttarakhand Government
Uttarakhand Government

Related News

हल्द्वानी ।आम्रपाली ने छात्र हित में लिए कई फैसले, जानिए क्या मिली हैं सुविधाएं

हल्द्वानी । आम्रपाली ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूटस के सीईओ0 डा0 संजय ढींगरा ने बताया कि कोविड संकट और केन्द्र की नई शिक्षा नीति को देखते...

उत्तराखंड- अब इस मीटर के जरिये बिजली का बिल आयेगा बेहद कम, जानिये ऊर्जा निगम की ये योजना

ऊर्जा निगम ने एक नई योजना जारी की गई है, जो बिजली उपभोक्ताओं के लिये बेहद फायदेमंद है। अगर आप भी अनपे घर में...

हल्द्वानी- कोरोना को हराकर घर लौटी नेता प्रतिपक्ष, जनता के लिए दिया ये खास संदेश

उत्तराखंड की नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश की बीते दिनों कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। लगातार जन सेवा करते हुए वह कोरोना संक्रमित हो गईं...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम के दौरान चीन को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बांगरमऊ की एक राइस मिल में सोमवार आयोजित कार्यक्रम में कहा चीन के विषय में बात की...

कंगना रनौत के ऑफिस में तोड़फोड़ को लेकर हाईकोर्ट ने बीएमसी की लगाई फटकार और कही ये बात

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की ऑफिस में तोड़फोड़ के लेकर सोमवार को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) ने बीएमसी की फटकार लगाई...

हल्द्वानी- प्रीति ने शुरू किया इकोनॉमिक्स की ई-कोचिंग का अनोखा कांसेप्ट, कई राज्यों के छात्र ले रहे शिक्षा

कोरोना वायरस के चलते लगे लॉकडाउन के लंबे समय बाद अब अनलॉक में बाजार खुल जरूर रहे हैं। लेकिन डर का साया अभी भी...
Uttarakhand Government