PMS Group Venture haldwani

हल्द्वानी-नीलियम कॉलोनी में टॉफी लेने गये दो बच्चे लापता, बच्चों के लिए भगवान बन आई नारायणी

1945
Slider

Haldwani Crime News- रविवार को नीलियम कालोनी से अचानक दो बच्चे लापता हो गये। बच्चों के लापता होने से परिवार में हडक़ंप मच गया।सूचना पुलिस को दी गई जिसके बाद पुलिस भी खोजबीन में जुट गई। बाद में बच्चों को हरिपुर नायक मुखानी क्षेत्र से बरामद किया गया। जिसके बाद परिजनों से राहत की सांस ली। बताया जा रहा है कि मूल रूप से चंपारण बिहार का रहने वाला टुन्नु कुमार नीलियम कॉलोनी स्थित सिद्धेश्वरी कॉलोनी निवासी श्याम सिंह नेगी के मकान में किराए पर रहते हैं। बताया जा रहा है कि करीब 20 दिन पहले श्याम सिंह की बेटी रानीखेत निवासी कमला अपनी 11 वर्षीय बेटी पिंकी को लेकर यहां पहुंची थी।


रविवार शाम को टुन्नु का चार साल का बेटा आयुष और श्याम सिंह की नातिन पिंकी घर के बाहर खेल रहे थे। आयुष की जेब में दो रुपये थे और दोनों दुकान में टॉफी लेने चले गए। कालोनी में दुकाने बंद मिली तो वह पैदल पैदल दुकान ढूढऩे के लिए मुखानी क्षेत्र के कमलुवागांजा स्थित हरिपुर नायक पहुंच गए। जब परिवार ने बच्चों को नहीं देखा तो हडक़ंप मच गया। इस बीच बच्चे खोने की खबर से हो-हल्ला हो गया। स्थानीय लोग भी बच्चों की तलाश में जुट गये साथ ही पुलिस को भी सूचना दी गई।

Slider

इस बीच रात करीब 10 बजे हरिपुर नायक निवासी नारायणी देवी को बच्चे क्षेत्र में घूमते दिखे तो उसने बच्चों से पूछा इस पर पिंकी उसे सिर्फ नीलियम कॉलोनी में घर होने की बात कही। नारायणी देवी ने अंदाजा लगा लिया कि बच्चे भटक के आ गये है। वह दोनों बच्चों को लेकर टीपी नगर चौकी और आने लगी। इसी बीच रास्ते में उन्हें टीपी नगर चौकी प्रभारी राहुल राठी मिल गये। नारायणी देवी ने उन्हें पूरी बात बताई जिसके बाद बच्चों के परिजनों को सूचित किया गया। परिजन दौड़े-दौड़े टीपी नगर चौकी पहुंचे वहा बच्चो को देख भावुक हो उठे। राठी ने बच्चों के परिजनों को चौकी बुलाकर बच्चे उनके सुपुर्द कर दिए। उन्होंने नारायणी देवी का आभार जताया।

हर उत्तराखंडवासी को मिलेगा 5 लाख का मुफ्त इलाज