iimt haldwani

पत्नी को गुजारा भत्ता देने के लिए पति बोला, बेरोजगार हूं- जब राहुल गांधी 72 हजार देंगे तब दे दूंगा

73

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोगों से वादा किया है कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो वे बेरोजगार लोगों को 6 हजार रुपये प्रतिमाह देंगे। राहुल के इस फैसले से लोगों में काफी ज्यादा उम्मीदें जगी हैं। मध्य प्रदेश के इंदौर में पारिवारिक अदालत में उस समय सब लोग हैरान रह गए जब मुकदमा के दौरान शख्स ने कहा जब राहुल गांधी की सरकार आएगी तो ही वह पत्नी को गुजारा भत्ता दे पाएगा उसने कोर्ट में यह आवेदन पेश किया।

amarpali haldwani

idaur

अदालत ने इंदौर के सुखलिया के रहने वाले आनंद शर्मा को अपनी पत्नी दीपमाला को हर महीने 4500 रु. भरण-पोषण के लिए देने का आदेश दिया था, लेकिन वह अपनी पत्नी को रकम नहीं दे रहे थे। मामले की सुनवाई हुई तो आनंद शर्मा ने दलील देते हुए कहा कि वह बेरोजगार है। वह हर महीने अपनी पत्नी को इतने रुपये नहीं दे सकता है। इसके साथ ही उसने कहा कि, राहुल गांधी ने अपने घोषणापत्र में यह ऐलान किया है कि आगामी लोकसभा चुनाव में अगर उनकी सरकार बनती है तो वह बेरोजगारों के खाते में हर महीने 6 हजार रुपये भेजेंगे।

2006 में हुई थी दीपमाला की शादी  

अदालत में शर्मा के इस बयान को रिकार्ड कर लिया गया है। इस मामले पर अब 29 अप्रैल को सुनवाई होगी। बता दें कि आनंद और दीपमाला की शादी 2006 में हुई थी। दोनों की एक बेटी आर्या भी है। पारिवारिक कलह के चलते दोनों के बीच दूरियां बन गईं। जिसके बाद पत्नी मामले को कोर्ट में ले गई। कोर्ट ने आनंद को आदेश दिया था कि वह अपनी पत्नी के लिए ३ हजार और अपनी बेटी के लिए डेढ़ हजार मतलब कुल साढ़े चार हजार रुपये अपनी पत्नी को देना है।

justice-

आनंद ने कोर्ट में अर्जी दाखिल करते हुए लिखा कि उसका उद्देश्य कोर्ट की अवमानना करना नहीं है लेकिन बेरोजगार होने के चलते वह अपनी पत्नी का भरण पोषण करने में सक्षम नहीं हूं। इसके बाद कोर्ट ने बयान दर्ज करके सुनवाई की अगली तारीख जारी कर दी है।