हल्द्वानी- ये महिला रात में नौजवानों को करती थी नशे की होम डिलीवरी, पुलिस से बचने के लिए अपनाती थी यह ट्रिक

139

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: नगर में तेजी बड़ता नशे का कारोबार युवा पीढ़ी के लिए घातक साबित होता जा रहा है। लाख कोशिशों के बाद भी पुलिस इन नशे के कारोबारियों पर नकेल कसने में नाकाम साबित हो रही है। पुलिस के डर से बेखौफ ये तस्कर नशे के ग्राहकों को होम डिलीवरी तक देने लगे है। न केवल पुरुष वल्की महिलाएं भी नशे के इस धंधे में अपने पैर जमाने लगीं है। इतना ही नहीं किसी को शक न हो इसके लिए वे स्वंय अपने पुरुष पार्टनर के साथ स्मैक की डीलिवरी देने पहुंच जाती है। बीती रात काठगोदान थाने क्षेत्र में एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है। यहां नशे की होम डिलीवरी करने जा रहे एक स्कूटी सवार पुरुष और महिला को पुलिस ने रंगे हाथों दबोचा है। इतना ही नहीं चैकिंग के दौरान पुलिस ने दोनो तस्करों के पास से स्मैक भी बरामद की है। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आज न्यायालय में पेश किया है।

पुलिस को देख तेज की स्कूटी की रफ्तार

जानकारी मुताबिक मुखबिर से प्राप्त सूचना के बाद पुलिस ने काठगोदान के कॉलटैक्स पर चैकिंग अभियान चलाया। चैकिंग के कुछ पल में भी एक स्कूटी संख्या यूके04 ई 3297 आती दिखाई दी। जिस पर एक युवक व एक महिला सवार थी। पुलिस को देखकर स्कूटी चालक ने स्कूटी की गति और बढ़ा दी। पुलिस ने स्कूटी को रोकने का प्रयास किया लेकिन चालक ने स्कूटी नहीं रोकी। थोड़ी दूर तक पीछा कर पुलिस ने दोनो को दबोचा। जिसके बाद दोनो महिला और युवक को थाने ले आयी। वही तलाशी के दौरान स्कूटी की डिग्गी में लगभग साढ़े सात ग्राम स्मैक बरामद हुई। पूछताछ में तस्करों ने अपना नाम शहनाज उर्फ सरताज पत्नी मो. इरफान निवासी जवाहरनगर व हनीफ अहमद पुत्र हफीज अहमद निवासी वार्ड नम्बर 4 जवाहर नगर बताया है।

यूपी से लाकर यहां करते थे सप्लाई

पुलिस पूछताछ में शहनाज ने बताया कि ये लोग किच्छा व यूपी के कई इलाके जैसे- बहेड़ी, बिलासपुर आदि क्षेत्रों से सस्ते दामों पर स्मैक खरीदकर यहां महंगे दामों में बेचते हैं। साथ ही शहनाज ने बताया कि हनीफ उसका स्मैक के धंधे का पार्टनर है और वह भी स्मैक तस्करी करता है। शहनाज ने बताया कि ग्राहक हनीफ लेकर आता है और किसी को शक न हो इसलिए वह हनीफ के साथ खुद तस्करी करती है। काठगोदान थाना एसओ कमल हसन के जानकारी दी कि पकड़ी गयी स्मैक तस्कर शहनाज इससे पूर्व में भी शराब तस्करी के मामले में बनभूलपुरा थाने से जेल जा चुकी है। हालांकि पुलिस आए दिन इन मादक पदार्थों के तस्करों को पकडक़र जेल की सलाखों के पीछे भेज रही है फिर भी मादक पदार्थों की तस्करी थमने का नाम ही नहीं ले रही है। तस्कर युवा पीढ़ी को नशे के दलदल में धकेल रहे हैं।