inspace haldwani
Home लाइफस्टाइल नई दिल्ली- यह कंपनी एक साल तक बिना स्मार्टफोन के रहने पर...

नई दिल्ली- यह कंपनी एक साल तक बिना स्मार्टफोन के रहने पर देगी लाखों रुपये, जाने कैसे करें प्रतिभाग

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: सोचकर देखिए कि क्या आप अपने स्मार्टफोन के बिना रह सकते है। ऐसा आपको एक-दो हफ्ते नहीं, बल्कि पूरे एक साल तक करना होगा। इस दौरान स्मार्टफोन मांगकर भी नहीं छूना होगा। अगर आप इस चुनौती को स्वीकार करते हैं तो एक लाख डॉलर (करीब 71.82 लाख रुपये) का ईनाम जीत सकते हैं। सिर्फ कह देने भर से काम नहीं चलेगा, पूरे साल इस चुनौती पर खरा उतरना होगा। एक साल पूरा होने के बाद प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले शख्स का लाई-डिटेक्टर टेस्ट भी होगा। ये सब बाधाएं पूरी करने के बाद ईनाम मिलेगा।

365 दिन बिना स्मार्टफोन के रहना होगा

डेलीमेल ऑनलाइन की ओर से जारी की गई खबर के मुताबिक, एक निजी कंपनी विटामिनवॉटर की ओर से यह प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिता के नियमों के तहत इसमें शामिल होने वाले प्रतिभागी को 365 दिन बिना स्मार्टफोन के रहना होगा। 8 जनवरी तक इस प्रतियोगिता में हिस्सा ले सकते हैं। हिस्सा लेने वाले शख्स को हैशटैगनोफोनफॉरएईयर या हैशटैगकॉन्टेस्ट के साथ ट्विटर या इंस्टाग्राम पर अपनी एक फोटो डालनी होगी। इसके साथ यह लिखना होगा कि वो एक स्मार्टफोन के बिना क्यों रहना चाहते हैं?

6 माह तक बिना फोन के रहने पर भी मिलेगा ईनाम

प्रतियोगी की मुश्किलों को समझते हुए कंपनी की ओर नोकिया का एक 3310 फोन भी दिया जाएगा। प्रतियोगी पूरी दुनिया से कहीं कट न जाएं, इस बात को ध्यान में रखते हुए कंपनी एक राहत भी दे रही है। एक खास बात और है कि प्रतियोगिता में भागीदारी करने के बाद अगर प्रतियोगी छह महीने भी पूरी सच्चाई के साथ स्मार्टफोन के बिना रह सकेगा तो उसे 10 हजार डॉलर (करीब 718.15 हजार रुपये) ईनाम मिलेगा। प्रतियोगिता थोड़ी मुश्किल है, लेकिन आपको स्मार्ट डिवाइस के बिना रहना सिखा देगा, जो कि आपकी जिंदगी में बड़ी राहत की चीज होगी। इससे आप न केवल कई शारीरिक बल्कि कई मानसिक बीमारियों से भी छुटकारा पा सकेंगे।

क्या कहना है प्रतिभागियों का..

इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले लोग सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘मैं हैशटैगनोफोनफॉरएईयर हैशटैगकॉन्टेस्ट में हिस्सा लेने के लिए अपने स्मार्टफोन से बिल्कुल दूर रहूंगा। मैं समझता हूं, स्मार्टफोन सिर्फ समय की बर्बादी है। इससे मुझे अपने ग्रेजुएट फाइनल ईयर की पढ़ाई करने में भी काफी मदद मिलेगी।’ एक यूजर ने लिखा, ‘मैं सोशल मीडिया का इतना आदी हो गया हूं कि इससे मेरी शादी तक प्रभावित हो रही है। मैं अपने परिवार के साथ समय नहीं बिताता हूं। इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के बाद मैं अपने परिवार के साथ बिता पाऊंगा, अपनी शादी को बचा लूंगा।’ एक यूजर ने लिखा, ‘मैं अपनी पढ़ाई का कर्ज अदा करना चाहता हूं और क्रेडिट कार्ड के सारे बिल भरना चाहता हूं, ताकि मेरी अच्छी सी शादी हो सके और बाद में प्यारा सा बच्चा। इसलिए, मैं इस प्रतियोगिता में हिस्सा ले रहा हूं।’

Related News

विश्व में कोरोना संक्रमण से 20.39 लाख से अधिक लोगों की मौत, साढ़े नौ करोड़ से भी अधिक प्रभावित

वाशिंगटन/रियो डि जेनेरो/नयी दिल्ली, न्‍यूज टुडे नेटवर्क। विश्व में जानलेवा कोरोना वायरस (कोविड-19) का प्रकोप  थमने का नाम नहीं ले रहा और अभी तक...

नई दिल्ली- जाने क्या है सब्जियों के राजा बैंगन का इतिहास, इन बीमारियों के लिए है फायदेमंद

भर्ता हो या फिर बिहारी लिट्टी के साथ खाए जाने वाला चोखा, टमाटर और मटर के साथ लजीज सब्जी भी कम नहीं। बात सब्जियों...

नई दिल्ली- स्वादिष्ठ नेपाली पिज्ज़ा बनाने की ये है पूरी रैसिपी, इन चीजों की मदद से तैयार करें होम मेड पिज़्ज़ा

पिज्जा का स्वाद अनोखा होता है यही वजह है कि कई लोगों को पिज्जा काफी पसंद होता है। लेकिन क्या आपने कभी नेपाली पिज्ज़ा...

नई दिल्ली- जाने क्या है SBI की डोर स्टेप बैंकिंग सर्विस, ग्राहकों को घर बैठे कैसे पहुंचेगा लाभ

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में अगर आपका भी खाता है तो अब आपको बैंक की ओर से घर...

अमेरिका में अहम जिम्मेदारियां संभालेंगे 20 भारतीय-अमेरिकी, जानिए इनके बारे में

वांशिगटन। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अहम पदों पर 13 महिलाओं समेत कम से कम 20 भारतीय अमेरिकियों को नामित किया है।...

नई दिल्ली- रेलवे ने शुरू की ई-कैटरिंग सुविधा, सीट पर बैठे-बैठे यात्रियों को मिलेगी ये सुविधा

इंडियन रेलवे ने ट्रेनों में ई-कैटरिंग सेवा को फिर से शुरू करने का फैसला लिया है। रेलवे द्वारा जारी जानकारी के अनुसार फिलहाल ये...