देहरादून-देवभूमि के इस मेजर ने हिजबुल मुजाहिद्दीन के खूंखार आतंकी को उतारा था मौत के घाट, अब मिला वीरता पुरस्कार

0
741

देहरादून-न्यूज टुडे नेटवर्क- एक बार फिर देवभूमि उत्तराखंड का नाम सुनहरे अक्षरों में लिखा गया है। इस बार कमाल किया है सेना के मेजर ने जो कि देवभूमि से ताल्लुक रखते है। उत्तराखंड एक के बाद एक नये कीर्तिमान बनाते जा रहा है। हर दिन कई प्रतिभाएं ऊभर कर सामने आ रही है। खेल, बॉलीवुड, सौंदर्य, शिक्षा और सेना पर देवभूमि अपना डंका बजा रही है। हाल ही में गणतंत्र दिवस पर जारी वीरता पदक की सूची में देहरादून के मेजर रोहित शुक्ला का भी नाम है। वह इस सम्मान के वाकई हकदार है उन्होंने खूंखार आतंकी समीर बट्ट उर्फ समीर टाइगर को मौत के घाट उतारा था। मेजर शुक्ला को सेना मेडल से अलंकृत किया गया है।

आतंकी ने दी थी मेजर को चुनौती

गौरतलब है कि पिछले साल 30 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर के पुलगांव में सेना के जवानों ने एनकाउंटर किया था। लंबे समय से सेना के लिए सिरदर्द बने आतंकी का सफाया किया था। इस दौरान पुलगांव में सेना ने आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी समीर बट्ट उर्फ समीर टाइगर को मौत के घाट उतार दिया था। इस एनकाउंटर से पहले सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ था।

इसमें समीर टाइगर ने मेजर रोहित शुक्ला को चुनौती दी थी। इस वायरल वीडियो के 24 घंटे के भीतर मेजर शुक्ला ने आतंकी समीर को मौत के घाट उतार दिया था। डालनवाला निवासी मेजर शुक्ला के पिता एडवोकेट ज्ञान शुक्ला व मां विजय लक्ष्मी शुक्ला ने खुशी जताई है। यह पल देवभूमि उत्तराखंड के लिए गौरव का पल है। देवभूमि के जवान अपना लोहा मनावा रहे है।