inspace haldwani
Home लाइफस्टाइल इस दिन होगा कोरोना वैक्सीन लगाने का पूर्वाभ्यास , जानियें कौन...

इस दिन होगा कोरोना वैक्सीन लगाने का पूर्वाभ्यास , जानियें कौन से राज्य है शामिल?

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार वैक्सीन लगाने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों के प्रशिक्षण का काम तेजी से चल रहा है। साथ ही जिला स्तर पर सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में प्रशिक्षण का काम पूरा किया जा चुका है। इसके अलावा सरकार की तरफ से उन प्राथामिकता समूहों की पहचान कर ली गई है, जिन्हें वैक्सीन लगेगी। पहले चरण में देश के 30 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगेगी, जिसमें स्वास्थ्यकर्मी, सुरक्षाकर्मी, सफाईकर्मी शामिल हैं। साथ ही जिन लोगों की उम्र 50 साल से ज्यादा है, ऐसे लगभग 27 करोड़ लोगों को पहले वैक्सीन दी जाएगी।

कोरोना वायरस महामारी को हराने के लिए कई देशों ने अलग-अलग तरह की वैक्सीन तैयार की है, जिन्हें कई मुल्कों ने अपने वहां इस्तेमाल के लिए इजाजत भी दे दी है। ऐसे में जहां कई देशों में टीकाकरण की प्रक्रियां शुरू हो चुकी है, तो वहीं दूसरे कई अन्य देशों में भी ये जल्द ही शुरू हो जाएगी। इसके लिए भारत समेत कई देश अपनी तैयारियों को अंतिम रूप दे रहे हैं। इसी कड़ी में भारत वैक्सीन वितरण की तैयारियों को परखने के लिए देश के चार राज्यों में पूर्वाभ्यास करने जा रहा है, ताकि जब वैक्सीन का वितरण होगा तो किसी तरह की खामियां न रह जाए।

28 और 29 दिसंबर 2020 को चार राज्यों के दो-दो जिलों में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा और वो चार राज्य हैं पंजाब, आंध्र प्रदेश, अमस और गुजरात। इस पूर्वाभ्यास में चार मुख्य चरण होंगे, जिन पर केंद्र सरकार की पैनी नजर रहेगी। यहां हर जिले के करीबी डिपो तक 100 लाभार्थियों के लिए डमी वैक्सीन पहुंचाई जाएगी। जहां डिपो से लेकर टीकाकरण वाली जगह तक के तापमान को ट्रैक किया जाएगा।

वैक्सीन के कोल्डचेन से लेकर लोगों को लगाने तक की सारी प्रक्रिया की जांच की जाएगी, ताकि जब असली वैक्सीन का वितरण होगा तब किसी तरह की खामियां न हो। लेकिन अगर ऐसा कुछ होता भी है, तो इन्हें समय रहते ही दूर किया जा सके। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब वैक्सीन वितरण का रिहर्सल होगा, तब कोल्डचेन में टीके की आपूर्ति, जांच रसीद, वैक्सीन को लगाने तक की पूरी प्रक्रिया की ऑनलाइन निगरानी की जाएगी।

जब लाभार्थी को टीका लग जाएगा, तो उन्हें टीका लगने वाली जगह पर ही आधे घंटे तक इंतजार करने को कहा जाएगा ताकि उन पर नजर रखी जा सके। लेकिन अगर इस प्रक्रिया में किसी भी तरह की कोई कठिनाई आती है, तो सेंट्रल सर्वर के जरिए फिर इसे ट्रैक किया जाएगा। वहीं, टीकाकरण की प्रक्रिया से पहले ही लाभार्थियों को एक एमएमएस भेजा जाएगा, जिसके जरिए उन्हें ये जानकारी दी जाएगी कि उन्हें कौन टीका लगाएगा और किसी जगह पर उन्हें ये कोरोना का टीका लगेगा।

Related News

हल्द्वानी- ब्यूटी फोटोशूट कॉंटेस्ट का आयोजन , शाही वेडिंग ड्रेस आभूषण के साथ रैम्प में उतरी मॉडल्स

हल्द्वानी - हल्द्वानी में आज नलिन बालटियाँ फोटोग्राफी द्वारा ,ब्राइडल ब्यूटी फोटोशूट कॉंटेस्ट करवाया गया। जिसका एकमात्र उद्देश हल्द्वानी शहर में आने वाले वेडिंग सीज़न...

मकर संक्रानि के विशेष पर्व पर सूर्य की ऐसे करे पूजा,खत्म होंगे सारे दोष

मकर संक्रांति हिन्दू संस्कृति का एक विशेष त्यौहार है जिसे पुरे भारत वर्ष में मनाया जाता है ऐसी मान्यता है की यह पर्व सूर्य...

बर्ड फ्लू की संभावनाओं के साथ सावधानी बरतने की है जरूरत,अपनायें ये तरीके।

जहाँ एकतरफ देश कोरोना का संकट झेल रहा है वही अब बर्ड फ्लू नाम की बीमारी ने लोगों के मन में दहशत पैदा कर...

नई दिल्ली-Whatsapp को तेजी से पछाड़ रहा ये मैसेंजर एप, इसलिए हासिल की टॉप पोजिशन

इंस्टैंट मेसेजिंग ऐप वॉट्सऐप को उसकी नई प्राइवेसी पॉलिसी 2021 का काफी नुकसान हो रहा है और दुनियाभर में लोग इस ऐप का विकल्प...

वॉट्सऐप की नई पॉलिसी: एग्री किया तो खत्म होगी प्राइवेसी, नहीं किया तो करना होगा अकाउंट डिलीट, देखें पूरी जानकारी

वॉट्सऐप यूजर्स के लिए नया साल नई शर्तों के साथ शुरू हुआ है। शर्तें भी ऐसी जिन्हें नहीं माना तो अकाउंट डिलीट करना होगा।...

लम्बी उम्र के लिए अच्छे खान पान के साथ सेक्स भी कितना जरुरी, पढ़िए पूरी खबर

बुढ़ापा और लंबी उम्र इन दोनों चीजों पर किसी का बस नहीं है. हालांकि विज्ञान की मानें तो पढ़ना, एक्सरसाइज करना और हेल्दी खाने...