inspace haldwani
Home उत्तराखंड कुम्भ को खास बनाते हैं ये चार धार्मिक स्थल, श्रद्धालुओं की संख्या...

कुम्भ को खास बनाते हैं ये चार धार्मिक स्थल, श्रद्धालुओं की संख्या सुन अचंभित रह जाएंगे आप

कुम्भ मेला भारत में हिन्दुओं द्वारा मुख्य धार्मिक पर्व के रूप में मनाया जाता है। जो दुनिया के सबसे बड़े शांतिपूर्ण समारोहों में से एक है। मेले को धार्मिक तीर्थयात्रियों की दुनिया में सबसे बड़ी मंडली भी कहा जाता है। मेला चार प्रमुख तीर्थ स्थलों हरिद्वार, नासिक, उज्जैन एवं इलाहाबाद में लगाया जाता है। मेले का आयोजन करीब 12 वर्ष में एक बार होता है। लेकिन हरिद्वार में यह मेला 3 वर्ष में एक बार लगता है। जिसमें हजारों की संख्या में लोग उपस्थित होते है।

kumbh fair news
कुम्भ मेले में दर्शकों की भीड़

जानकारी के अनुसार मेले को सबसे पहले शंकराचार्य ने लगाया था। कुम्भ मेला एक माह से लेकर करीब तीन महीने तक लगता है। और इसके लिए तीन तिथियां निर्धारित की गई है। तिथियों के अनुसार कई तीर्थ यात्रियों द्वारा मेले में भाग लिया जाता है। कुम्भ मेले में सबसे ज्यादा लोगों की भीड़ इलाहाबाद में देखने को मिलती है और उसके बाद हरिद्वार का नाम आता है।

यहां पर भी हजारों की संख्या में लोगों का जमावड़ा होता है। साधकों का मानना ​​है कि लोग कुम्भ के मेले में अपनी पिछली गलतियों के लिए इन नदियों में स्नान करके पापों की धुलाई करने भी आते है। वर्ष 2001 में कुंभ मेले में करीब 60 मिलियन हिंदू एकत्रित हुए थे। कुम्भ मेला विशेष तौर पर अमावस्या के दिन सबसे ज्यादा भीड़ को आकर्षित करता है।

Related News

नानकमत्ता: किसान विरोधी सरकार को सबक सिखाएगी जनता: देवेंद्र यादव

राजीव कुमार सक्सेना नानकमत्ता। प्रदेश की भाजपा सरकार भ्रष्टाचार से लिप्त नाकाम सरकार है , जिसने किसानों तथा आमजन का सदैव उत्पीड़न किया है ।...

रुद्रपुर: केंद्रीय कारागार के चार बंदी रक्षकों हुआ मुकदमा, जानिए क्यों

रुद्रपुर। महानगर निवासी एक महिला की शिकायत पर पुलिस महानिदेशक स्तर से कराई गई जांच के बाद केंद्रीय कारागार सितारगंज में डयूटी में नियुक्त...

रुद्रपुर: केंद्रीय कारागार के चार बंदी रक्षकों हुआ मुकदमा, जानिए क्यों

रुद्रपुर। महानगर निवासी एक महिला की शिकायत पर पुलिस महानिदेशक स्तर से कराई गई जांच के बाद केंद्रीय कारागार सितारगंज में डयूटी में नियुक्त...

देहरादून- पेयजल टेरिफ पुनरीक्षण के लिए सीएम त्रिवेन्द्र ने किया समिति का गठित, जलापूर्ति के लिए बनाई ये योजना

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेश में पेयजल टेरिफ पुनरीक्षण के लिये नगर विकास मंत्री मदन कौशिक एंव उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा. धन...

रुद्रपुर: मंत्री अरविंद पांडेय कोर्ट में हुए पेश, जानिए किस मामले में जारी था वारंट

रुद्रपुर। प्रदेश के पंचायतीराज एवं शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय शनिवार को कोर्ट में उपस्थित हुए। कोर्ट ने उनके खिलाफ वारंट जारी कर रखा था। शनिवार...

हल्द्वानी- नैनीताल डिस्टिक कोऑपरेटिव बैंक ने इन पदों पर निकाली भर्ती, ऐसे करें आवेदन

नैनीताल डिस्टिक कोऑपरेटिव बैंक ने सहयोगी गार्ड की भर्ती निकाली है। बैंक द्वारा 21 पदों पर निकाली गई भर्ती के लिए इच्छुक अभ्यर्थी 16...