iimt haldwani

रुद्रपुर- भारतीयम में तीन दिवसीय वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता शुरू, पहले दिन रहा इन खिलाडिय़ों के नाम

153

रुद्रपुर-न्यूज टुडे नेटवर्क-भारतीयम विद्यालय में 28 नवम्बर को सातवीं वार्षिक खेल-कूद प्रतियोगिता का शुभारंभ रंगारंग कार्यक्रमों के साथ हुआ। विद्यालय के हेड ब्याय सोमेश पाण्डे तथा हेडगर्ल अलमास ने मुख्य अतिथि अरविन्द पाण्डेय शिक्षा संस्कृति खेल योगा एवं पंचायती राज मंत्री तथा विशिष्ट अतिथि बलराज पासी पूर्व सांसद का स्वागत पुष्पगुच्छ देकर किया गया। क्रीडा प्रतियोगिताओं के सर्वश्रेष्ठ प्रतिभागी जिगरजीत सिंह तथा महक रावत ने मशाल प्रज्जवलित की। मुख्य अतिथि ने रंग-बिरंगे गुब्बारे छोडक़र प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। चारों सदनों के छात्रों द्वारा परेड प्रस्तुत की। कदम से कदम मिलाते हुए छात्रों की परेड मनमोहक थी। परेड का निरीक्षण मुख्य अतिथि ने किया। चारों सदनों के कप्तानों ने खेल कप्तान जिगरजीत सिंह के नेतृत्व में खेल के नियमों का पालन करने तथा खेलों की गरिमा को बनाए रखने की शपथ ली।

amarpali haldwani

घुड़सवारी रही विशेष आकर्षण का केन्द्र

इस अवसर पर अनेक रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। जूनियर छात्रों द्वारा प्रस्तुत सिल्वर स्टपैर,जैली लैग्स, रोलर रॉकर, मिकी अडमाइर्स, रिद्धिमिक स्कावाड, द डैजलर्स आदि नृत्यों ने जहां दर्शकों को भाव-विभोर किया। वही सीनियर छात्रों द्वारा प्रस्तुुत ड्रिल द रिद्धिमिक स्पैक्टरा, द डान्सिंग दिवास आदि के साथ ही स्केटिंग तथा घुड़सवारी विशेष आकर्षण के केन्द्र रहे। पहले दिन जूनियर बालक तथा बालिका वर्ग की रिले रेस 100 मीटर रेस, 400 मीटर रेस हुई । सीनियर बालक वर्ग में 1000 मीटर 400 मीटर 100 मीटर रेस हुई । बालिका वर्ग में 800 मीटर 400 मीटर तथा 100 मीटर रेस हुई । सब जूनियर बालक तथा बालिका वर्ग में 200 मीटर रेस के साथ ही विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिताएं हुई।

जूनियर बालिका में महक, सौन्दर्या, अनुष्का, नंदनी प्रथम

जूनियर बालिका वर्ग रिले रेस में महक रावत, सौन्दर्या जुनेजा, अनुष्का सरकार, नंदनी खन्ना ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। जसकीरत वाणी, मान्या सिंह , पलक त्यागी ने द्वितीय स्थान एवं सौम्या जोशी, पल्लवी गिरी, तनिष्का मलिक, सिफत कौर ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। सीनियर बालक वर्ग में 100 मीटर रेस में अजयवीर ने स्वर्ण पदक, प्रवीण कुमार ने रजत पदक तथा अनमोल शर्मा ने कांस्य पदक प्राप्त किया। सीनियर बालिका वर्ग में 100 मीटर रेस में भूमिका ने स्वर्ण पदक प्रतिभा ने रजत पदक तथा सौम्या सान्याल ने कांस्य पदक प्राप्त किया।

खेलकूद में छात्रों की सहभागिता जरूरी- पाण्डेय

अरविन्द पाण्डेय ने कहा कि खेल दिवस विद्यार्थी जीवन का यादगार दिवस होता हैं। पढ़ाई के साथ खेलकूद में भी छात्रों की सहभागिता अनिवार्य है। खेल जहां शारीरिक एवं मानसिक विकास में सहायक होते हैं। वहीं इनसे जीवन मूल्यों की शिक्षा भी मिलती है । इसके साथ ही उन्होंने बालिकाओं की खेलों में बढ़ -चढक़र भागीदारी को एक सुखद अनुभव बताया एवं इसका श्रेय भारतीयम विद्यालय को देते हुए कहा कि रूद्रपुर क्षेत्र में शिक्षा को एक नई दिशा देने का जो प्रयास भारतीयम विद्यालय द्वारा किया जा रहा है वह सराहनीय है। वही स्कूल प्रबधक भारत गोयल ने मुख्य अतिथि तथा विशिष्ट अतिथियों को स्मृति चिहन देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम की समाप्ति पर प्रधानाचार्य राजेश शर्मा ने विद्यालय परिवार की ओर से धन्यवाद ज्ञापन किया।

कई हस्तियां रहे मौजूद

इस अवसर पर मनोज खेड़ा सचिव पब्लिक स्कूल एसोसिएशन ऊधम सिंह नगर, विवेक अग्रवाल डायेक्टर डीपीएस हल्द्वानी, साकेत अग्रवाल डायरेक्टर बीएलएम स्कूल हल्द्वानी, डा.लुब्लना बिरिंग मिसेज इण्डिया यूनीवर्स 2018, राकेश गोयल, जसविन्दर सिंह कामरा, सरबजीत कौर, आशा गोयल, गुरजीत सिंह कामरा, हिमांशु सिंघल, स्मृति गोयल, एचएम रश्मिआनंद विद्यालय समन्वयक, अशोक मिश्रा, जनार्दन डुंगरकोटी, गौरव उपाध्याय, मानसी शर्मा, ललिता सहित विद्यालय के सभी शिक्षक तथा गणमान्य अतिथि मौजूद थे। कार्यक्रम का सचालन अब्दुल सामी, कोमल शर्मा तथा आकांक्षा अरोड़ा ने संयुक्त रूप से किया।

12वीं में काव्या अरोड़ा ने पाया देश में चौथा स्थान

गौरतलब है कि इस वर्ष भारतीयम विद्यालय ने अनेक उपलब्धियां प्राप्त करके राष्ट्रीय स्तर पर अपनी विशेष पहचान बनाई। 2017-18 की बोर्ड परीक्षा में कक्षा बारहवीं की छात्रा काव्या अरोड़ा ने 99.2 प्रतिशत अंक प्राप्त करके देश में चतुर्थ स्थान प्राप्त किया। आकाश इंस्टीटयूट की राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा में कक्षा 9 के छात्र रिशित अग्रवाल ने देश में प्रथम स्थान प्राप्त कर विद्यालय को राष्ट्रीय स्तर पर विशेष पहचान दिलाई । इस उपलब्धि के परिणाम स्वरूप रिशित को एक लाख रूपए का पुरस्कार मिला तथा कक्षा बारहवीं तक आकाश इंस्टीटयूट में निशुल्क शिक्षा प्राप्त करके प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने का अवसर प्राप्त हुआ। विद्यालय में छात्रों को संगीत में गायन के साथ ही विभिन्न वाद्ययंत्रों का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।