inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश यूपी में ऐसे बढ़ रहा है बर्ड फ़्लू का खतरा , कानपुर...

यूपी में ऐसे बढ़ रहा है बर्ड फ़्लू का खतरा , कानपुर के बाद अब यहां मृत मिले कई पक्षी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में बर्ड फ़्लू को लेकर सतर्कता बढ़ा दी गई है। प्रदेश के हमीरपुर में अचानक एक साथ कई पक्षी मृत मिलने से प्रशासन सतर्क हो गया है। इससे पहले कानुर में मृत मिले जंगली मुर्गे में बर्डफ़्लू के लक्षण पाए गए हैं। लक्षण मिलने के बाद सरकार ने अफसरों से सतर्क रहने को कहा है। शासन की ओर से कहा गया अफसर सतर्क रहें,लोगों में किसी तरह का भ्रम ना फैलने पाए। संभावित संक्रमण को लेकर प्रशासन लोगों को जागरूक करता रहे।

प्रदेश के पशुधन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य विकास मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने मण्डलीय अपर निदेशक एवं मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों के साथ बर्ड फ्लू के सम्बन्ध में बैठक करके गहन समीक्षा की। चौधरी ने कहा है कि जनता में बर्ड फ्लू के प्रति फैल रही भ्रान्तियों को दूर करने के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये।

उन्होंने कहा कि बर्ड फ्लू से घबराने की नहीं बल्कि सतर्क और सावधान रहने की आवश्यकता है। उन्होंने पशुपालन विभाग को प्रदेश के सभी पोल्ट्री फार्मों का नियमित रूप से निरीक्षण करने व मृत पक्षी की सूचना प्राप्त होने पर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं।

जानकारी के अनुसार कानपुर में पिछले 24 घंटे के दौरान यहां 51 कौवे और नौ कबूतर समेत 74 पक्षी मृत पाये गये हैं। जबकि हमीरपुर जिले के भरुआ सुमेरपुर रेलवे स्टेशन के नजदीक पेड़ों के नीचे बीते दिन कुछ बगुले और कौए संदिग्ध परिस्थिति में मृत पड़े पाए गए थे, जिन्हें पोस्टमॉर्टम के बाद पशु चिकित्साधिकरियों ने जलाकर उनकी अवशिष्ट (राख) जमीन में गाड़ दी है।

कानपुर के डीएफओ अरविंद यादव ने बताया कि चुन्नीगंज, फजलगंज, सीसामऊ, कल्याणपुर, केडीए कॉलोनी, बिल्हौर और चौबेपुर सहित 13 अलग-अलग शहरी और उपनगरीय इलाकों में मिले मृत पक्षियों के नमूने एकत्र करने के बाद वैज्ञानिक तरीके से उनका निस्‍तारण कर दिया गया है। 81 नमूनों को जांच के लिए आईवीआरआई, बरेली और भोपाल भेजा गया है एक अधिकारी ने कहा कि इसके अलावा, कानपुर चिड़ियाघर के सात बाड़ों में रखे गए 935 पक्षियों के नमूने भी लिए गए थे।

बताया कि झील के पानी, मिट्टी और पक्षियों के मल का नमूना भी एकत्र किया गया है और आगे की जांच के लिए 20 नमूने बरेली में प्रयोगशाला में भेजे गए हैं। चिड़ियाघर प्रशासन ने निगरानी के लिए चारों टावरों (जहां प्रवासी पक्षी बैठते हैं) के आसपास टीमें लगा दी हैं। बताया जा रहा है कि कानपुर चिड़ियाघर में मृत मिले जंगली मुर्गे में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद बुंदेलखंड़ के हमीरपुर, चित्रकूट और बांदा जिले का प्रशासन बेहद सतर्क हो गया है।

हमीरपुर के जिला पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि मृत पाए गए बगुला और कौओं में बर्ड फ्लू के लक्षण नहीं पाए गए, उनकी मौत अत्यधिक ठंड लगने से हुई है। फिर भी नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। उन्होंने बताया कि जिले के मुर्गा फॉर्मों से मुर्गियों के सैंपल लेकर आईवीआरआई जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

Related News

बरेली: मां ने डाटा तो घर छोड़कर शहामतगंज में झाड़ू-पोछा लगाने लगी, दो साल बाद इस हाल में मिली

न्यूज टुडे नेटवर्क। घर के कामकाज को लेकर मां ने डांट क्या लगा दी। सोलह साल की लड़की ने घर छोड़ दिया।कमाने-खाने के लिए...

मुख्यमंत्री ने भीषण ठंड के दृष्टिगत रैन बसेरों के सुचारु संचालन तथा अलाव की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भीषण ठंड के दृष्टिगत रैन बसेरों के सुचारु संचालन तथा अलाव की प्रभावी व्यवस्था...

बरेली:अल्मा मातेर के बच्चों को ब्रिगेडियर वीके सिंह ने बताया, कैसे जा सकते हैं देशसेवा में

न्यूज टुडे नेटवर्क। कूर्मांचल नगर स्थित अल्मा मातेर स्कूल में शनिवार को ब्रिगेडियर वीके सिंह पहुंचे। इस दौरान उन्होंने स्कूल के 9 से 12...

राज्य सरकार कामगारों तथा श्रमिकों के हितों के प्रति पूरी तरह संवेदनशील: मुख्यमंत्री

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार कामगारों तथा श्रमिकों के हितों के प्रति पूरी तरह संवेदनशील है। उन्होंने प्रवासी...

मुख्यमंत्री ने लखनऊ के बलरामपुर चिकित्सालय में कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्यक्रम का अवलोकन किया

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज शनिवार को बलरामपुर चिकित्सालय में कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्यक्रम का अवलोकन किया। इस अवसर...

बरेली: डाकखाने पहुंचे चोर पर कर नहीं पाए चोरी, जा‍निए मामला

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सुभाष बाजार में स्थित डाकखाने में चोरों ने चोरी का प्रयास किया पर कामयाब नहीं हो पाए। सुबह जब कर्मचारी डाकखाने...