iimt haldwani

नई दिल्ली- अमेरिका में सिख परिवार का घर में घुसकर किया ये हाल, घटना पर ट्वीट कर ये बोली विदेश मंत्री

75

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: अमेरिका में रह रहे भारतीय सिख परिवार के चार सदस्यों को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया है। गोली किसने मारी और क्या हत्या का क्या कारण है इस बात का खुलासा अभी नहीं हो पाया है। मरने वालों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं। वेस्‍ट चेस्‍टर के पुलिस प्रमुख जाएल हर्जोग ने कहा कि मृतक परिवार ओहिया समुदाय से संबंद्ध थे। हर्जोग ने बताया कि इस घटना की सूचना पी‍ड़‍ित परिवार के एक रिश्‍तेदार ने पुलिस को दी हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि उसने मृतकों की पहचान कर ली है। मरने वालों की पहचान 59 वर्षीय हकीकत सिंह पनाग, हकीकत की पत्‍नी परमजीत कौर, बेटी शालिंदर कौर (39) और परमजीत की बहन अमरजीत कौर (58) के रूप में हुई है। पुलिस रिपोर्ट में कहा गया है कि यह घटना रविवार की सुबह 9.50 बजे की है।

drishti haldwani

विदेश मंत्री ने घटना को घृणा फैलाने वाला कदम बताया

न्‍यूयॉर्क में भारतीय वाणिज्‍य दूतावास ने कहा कि वह स्‍थानीय पुलिस के साथ संपर्क में है। वाणिज्‍य दूतावास ने ट्वीट करके शोक संतप्‍त परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्‍यक्‍त की है। दूतावास ने कहा कि हम पुलिस और पी‍ड़‍ित परिवार के संपर्क में हैं। हम अपराधी को पकड़ने के लिए आश्‍वस्‍त हैं। इस बीच भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने मंगलवार को ट्वीट किया कि यह मामला उनके संज्ञान में हैं। उन्‍होंने यह समाज में घृणा फैलाने वाला कदम बताया। वही पुलिस का कहना है चारों की मौत गनशॉट्स से हुई। स्‍थानीय पुलिस ने बताया कि जब वह वेस्‍ट चेस्‍टर अपार्टमेंट पहुंची तो वहां किचेन में आग लगी हुई थी। इससे यह प्रमाणित होता है कि वारदात के समय गृहणियां भोजन बनाने में जुटी थीं। हर्जोग ने कहा उक्‍त अपार्टमेंट में बच्‍चे भी रहते थे, लेकिन हमले के समय वहां बच्‍चे मौजूद नहीं थे।