देहरादून- बेरोजगारों को लगा बड़ा झटका फिर लटकी फॉरेस्ट गार्ड की भर्ती, अब इन्होंने खड़े कर दिये हाथ

Slider

देहरादून-न्यूज टुडे नेटवर्क- एक बार फिर प्रदेश में बेरोजगारों को बड़ा झटका लगा है। फिर से प्रदेश में होने वाली फॉरेस्ट गार्ड की भर्ती पर तलवार लटक गई है। इस बार चार जिलों ने युवाओं को झटका दिया है। बताया जा रहा है कि अभ्यर्थियों की संख्या ज्यादा होने के कारण चार जिलों ने फिजिकल करवा पाने से इंकार कर दिया है। इसके बाद विभाग के सामने नई चुनौती खड़ी हो गई है। गौरतलब है कि प्रदेश में फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों पर भर्ती होनी है। बताया जा रहा है कि करीब डेड़ लाख युवा आवेदन कर चुके हैं। लिखित परीक्षा की जिम्मेदारी राज्य अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग को दी गई है। लेकिन उससे पूर्व फिजिकल परीक्षा वन विभाग को करानी है। जिसके बाद भर्ती पर फिर तलवार लटक गई है।

Slider

folder (1)

फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों पर होनी है भर्ती

बताया जा रहा है कि फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों पर भर्ती की जिम्मेदारी वन मुख्यालय ने सभी जिलों के डीएफओ को दी है। इन्हें जिलेवार फिजिकल करवाना है। लेकिन राजधानी देहरादून, नैनीताल, रुद्रप्रयाग, चमोली के डीएफओ ने अभ्यर्थियों की संख्या ज्यादा होने के चलते फिजिकल कराने से इंकार कर दिया है। आयोग व खेल विभाग ने भी इससे इंकार किया है। जबकि आयोग फिजिकल परीक्षा के बाद लिखित की तैयार में जुटा है। वही राज्य अधीनस्थ कर्मचारी चयन आयोग के सचिव संतोष बडोनी ने बताया कि विभाग को फिजिकल कराकर देना है। वो 25 कर्मचारियों के स्टाफ में हम नहीं करा सकते। जब तक वे फिजिकल कराकर फाइलन अभ्यर्थियों की सूची नहीं देंगे, लिखित परीक्षा नहीं कराएंगे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें