iimt haldwani

हल्द्वानी- निकाय निर्वाचन प्रशिक्षण में गायब हुए 11 पीठासीन व मतदान अधिकारी, अब होगी ये बड़ी कार्रवाई

238

हल्द्वानी-न्यूज टुडे नेटवर्क- दो पालियों में स्थानीय सरगम सिनेमा के हॉल में नगर निकाय निर्वाचन 2018 में मतदान संपन्न कराने वाले 806 पीठासीन अधिकारियों तथा मतदान अधिकारी प्रथम को गहन सैद्वान्तिक एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया। डाटा प्रोजेक्टर के माध्यम से बड़े सिनेमा के पर्दे पर अपर निदेशक प्रशिक्षण प्रकाश चन्द्र द्वारा प्रशिक्षण दिया गया और निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने के अलावा मतपेटी तैयार करने बैलेट पेपर मोडऩे, शुभनक चिन्ह के प्रयोग के अलावा मतपेटी को सील करने, मतपत्र लेखा तैयार करने के बारे में विस्तार से सैद्वान्तिक एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण मे तैनात किये गये सभी सैक्टर एवं जोनल मजिस्टे्रट भी मौजूद थे।

amarpali haldwani

जिला निर्वाचन अधिकारी ने दिये प्राथमिकी दर्ज कराने के आदेश

इस दौरान पांच पीठासीन अधिकारी भरत सिह अतिरिक्त जिला सहकारी अधिकारी भीमताल, राजेन्द्रसिंह राणा ग्राम विकास अधिकारी कोटाबाग, हरेन्द्र कुमार मिश्रा प्रवक्ता जीआईसी हरिपुर जमन, ललित मोहन पाण्डे प्रवक्ता जीआईसी सुन्दरखाल, मनोज अधिकारी अवर अभियन्ता सह नगर नियोजक कार्यालय हल्द्वानी अनुपस्थित पाये गये। इसके साथ ही छह मतदान अधिकारी प्रथम भी प्रशिक्षण सत्रों में गायब मिले। वही मतदान अधिकारियों में हर्षवर्धन पाठक अवर अभियन्ता लघु सिंचाई, यश वर्धन जौहरी कनिष्ठ सहा वन विभाग, कुंवर पाल सिंह सहा अध्यापक प्राथमिक विद्यालय रामनगर, किशनराम टम्टा सहा अध्यापक उप शिक्षा अधिकारी कार्यालय रामनगर, मनोज कुमार पाण्डे प्रशासनिक अधिकारी भूतत्व खनिज कर्म ईकाई हल्द्वानी तथा राकेश कुमार वर्मा अपर सहायक प्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र हल्द्वानी भी प्रशिक्षण कार्यक्रम में गैरहाजिर रहे। जिला निर्वाचन अधिकारी विनोद कुमार सुमन ने गैरहाजिर मतदान कर्मियों के खिलाफ लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की विभिन्न धाराओं में तुरन्त प्राथमिकी दर्ज कराने के आदेश कार्मिक प्रभारी एवं मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता को दिये। उन्होने कहा कि निर्वाचन कार्य में इस प्रकार की उदासीनता व लापरवाही ना करें अन्यथा आयोग के निर्देशानुसार कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

पांच बजे बाद कोई भी मतदाता नहीं लगेगा लाइन में

जिला निर्वाचन अधिकारी सुमन ने कहा कि भारतीय लोकतंत्रीय व्यवस्था में मतदान एवं मतगणना कार्य को निष्पक्ष तरीके से संपन्न कराने मेें कर्मचारियों का विशेष योगदान रहा है। उन्होंने मतदान हेतु ड्यूटी में लगाये गये सभी पीठासीन एवं मतदान अधिकारियों से कहा कि वह मतदान का कार्य पूरी निष्ठा, तत्परता एवं निष्पक्षता के साथ संपन्न करायें। मतदान के दौरान सभी कर्मी आयोग के दिशा-निर्देशों का भली-भांति अध्ययन कर उसका अनुपालन करें। उन्होंने कहा कि मतदान का जो समय निर्धारित है। उसी समय सीमा मे मतदान प्रक्रिया संपन्न होनी है सायं 5 बजे के बाद कोई भी मतदाता लाइन में नहीं लगेगा और पांच बजे अन्तिम मतदाता को पर्ची दे दी जाए यदि निर्धारित समय के बाद लाइन में काफी मतदाता हैं जो कि पहले से लाइन में लगेे है ऐसे सभी मतदाताओं का मताधिकार प्रयोग करने का अवसर दिया जायेगा। लिहाजा 5 बजे तक लाइन में लगे मतदाताओं की गिनती कर उन्हें टोकन दे दिया जाए। सुमन ने कहा कि प्रत्येक मतदान केन्द्र पर व्यापक संख्या में पुलिस बल तैनात किया जा रहा है इसलिए सभी कर्मचारी निडर होकर मतदान कार्य को सम्पन्न करायें।